विवाहिता समेत दो ने फांसी लगाकर जान दी

Badaun Updated Thu, 17 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
बदायूं। जिले में बुधवार को अलग-अलग थाना क्षेत्रों में विवाहिता समेत दो लोगों ने फांसी लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। पहली घटना थाना इस्लामनगर तो दूसरी कादरचौक इलाके में हुई है। एक घटना में ससुरालियों द्वारा विवाहिता को मायके न भेजने से उसने यह आत्मघाती कदम उठाया तो दूसरी घटना में पत्नी के मायके से न लौटने पर युवक ने फांसी पर झूलकर जान दे दी।
विज्ञापन

मायके नहीं जा सकी तो मौत को गले लगाया
इस्लामनगर। थाना उघैती क्षेत्र के गांव सलामतपुर भूड़ निवासी एक व्यक्ति ने अपनी पुत्री का विवाह दो साल पूर्व थाना इस्लामनगर क्षेत्र के गांव पतीसा निवासी एक युवक केसाथ किया था। चर्चा है कि दो दिन पूर्व विवाहिता के मायके वाले उसे बुलाने के लिए पतीसा पहुंचे, यहां विवाहिता के ससुराल पक्ष केलोगों ने उसे भेजने से मना कर दिया। मायके वालों के जाने के बाद विवाहिता का ससुराल पक्ष से झगड़ा भी हुआ था।
बुधवार की सुबह विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। चर्चा है कि मायके न जाने देने से क्षुब्ध विवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या की है।
मायके से बीवी नहीं लौटी तो फांसी पर झूला
कादरचौक। थाना क्षेत्र के गांव ललसी नगला निवासी एक युवक की शादी दो साल पूर्व हुई थी। लगभग तीन माह पूर्व उसका पत्नी से किसी बात को लेकर विवाद हुआ और वह मायके चली गई। कई बार कोशिश करने के बाद भी पत्नी नहीं लौटी। इससे क्षुब्ध होकर बुधवार की दोपहर युवक ने फांसी लगाकर जान दे दी। दोनों घटनाओं में परिवार केलोगों ने शवों की अंत्येष्टि कर दी। वहीं परिवार के लोग कुछ बताने को भी राजी नहीं हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us