गैर हाजिर रहने वाले अधिकारियों का वेतन रोका

Badaun Updated Thu, 17 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
बदायूं। विकास भवन में आयोजित आत्मा योजना की बैठक में गैर हाजिर रहने वाले अधिकारियों के आज के वेतन आहरित न करने के आदेश डीएम मयूर माहेश्वरी ने सीडीओ को दिए। नलकूप खंड प्रथम और द्वितीय के अधिशासी अभियंता के न होने पर वेतन रोकने के आदेश दिए। इस दौरान किसानों की संख्या कम होने पर नाराजगी जताई। उन्होंने डीडीए से कहा कि योजना की बैठकों को मात्र औपचारिकता तक ही सीमित न रखें। किसानों की अधिक से अधिक संख्या में भागीदारी सुनिश्चित करें। उन्होंने योजना की दोबारा बैठक बुलाने के आदेश दिए।
विज्ञापन

उन्होंने कहा कि योजना में लाभान्वित या चयनित किए गए किसानों, कार्यों का सत्यापन कराया जाएगा। आत्मा योजना संचालित करने का एक मात्र उद्देश्य यही है कि किसानों को विशेषकर गरीब और लघु एवं सीमांत किसानों को अधिक से अधिक लाभान्वित किया जाए। संचालन उप कृषि निदेशक यूबी सिंह गौतम ने किया।
दूसरी बैठक में डीएम मयूर माहेश्वरी ने बताया कि शासन द्वारा भूजल संसाधनों के नवीनतम आंकलन के अनुसार ब्लाकों का वर्गीकरण आदेश पारित कर दिया गया है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि अब जिले में सिंचाई के साधन बढ़ सकेंगे। उन्होंने बताया कि उझानी, कादरचौक, समरेर, दातागंज, उसावां, वजीरगंज, म्याऊ, जगत, सालारपुर तथा दहगवां श्वेत श्रेणी में आ गए हैं। बिसौली, अंबियापुर, आसफपुर, इस्लामनगर, सहसवान अभी भी डार्क श्रेणी में ही हैं। जिला भीमनगर में चले गए ब्लाक गुन्नौर, जुनावई डार्क में और रजपुरा श्वेत श्रेणी में आ गया है। इस दौरान एई लघु सिंचाई बीसी श्रीवास्तव भी रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us