छह माह से शिक्षामित्रों को नहीं मिला मानदेय, रोष

Badaun Updated Thu, 17 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

बदायूं। जिले के शिक्षामित्रों को छह माह से मानदेय न मिलने से उनके सामने संकट खड़ा हो गया है। उनका कहना है कि सर्व शिक्षा अभियान के तहत रखे गए शिक्षामित्रों का मानदेय एडवांस में भेजा जाता है जबकि उनको महीने पर भी नहीं मिलता।
विज्ञापन

मालूम हो कि जिले में शिक्षामित्रों की संख्या तीन हजार के पार है। इसमें लगभग 600 शिक्षामित्र बेसिक के अंतर्गत रखे गए हैं। इन्हें दिसंबर माह से मानदेय नहीं मिला है। इनके सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। आदर्श शिक्षामित्र वेलफेयर एसोसिएशन के जिला महामंत्री सतीश गुप्ता का कहना है कि विभाग की लापरवाही से ऐसा हो रहा है। कोई कदम नहीं उठाए जा रहे हैं। शिक्षामित्रों के सामने परिवार के पालन-पोषण का संकट है। अगर शीघ्र मानदेय नहीं मिला तो आंदोलन की कार्रवाई होगी। बेसिक के तहत रखे गए शिक्षामित्रों की कोई नहीं सुनता।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us