चकमा देकर भागे बदमाश पुलिस की पकड़ से बाहर

Badaun Updated Wed, 16 May 2012 12:00 PM IST
दातागंज। मूसाझाग पुलिस द्वारा चार तमंचों समेत पकड़े गए बाइक सवार बदमाश का मामला भी नहीं खुला है। पुलिस इस बदमाश का ताल्लुक किसी बड़े अपराधी गिरोह से बता रही है, लेकिन वह गिरोह कौनसा है इसका पर्दाफाश नहीं किया है। इसी बदमाश के दो अन्य साथी जो पुलिस को चकमा देकर भाग गए थे उन्हें भी पुलिस नहीं पकड़ पाई है।
बृहस्पतिवार को समरेर बाजार में दिनदहाड़े गल्ला व्यापारी से हुई लूट के बाद एसपी के निर्देश पर सभी थानों की पुलिस ने सघन चेकिंग अभियान चलाया था। इसी क्रम में बदायूं मार्ग पर मूसाझाग पुलिस ने एक बाइक पर सवार तीन लोगों को रोका तो यह देखकर ही बाइक छोड़कर भाग गए। एक बदमाश को पुलिस ने दबोच लिया। तलाशी लेने पर बाइक की डिग्गी में चार तमंचे भी मिले। हालांकि उस दिन तीन ही तमंचे बताए गए थे। पकड़ा गया बदमाश चित्रपाल कैमुआ गौंटिया गांव का रहने वाला है। बताया जाता है कि इस गांव से अपराधी निकलते हैं। पुलिस की दुराचारी लिस्ट में इस गांव के कई नाम दर्ज हैं। पुलिस की गिरफ्त से छूटकर भागे दोनों लोगों को भी पुलिस नहीं पकड़ पाई है। यह दोनों मूसाझाग के ही गांव कादराबाद के हैं। इन बदमाशों का संबंध किस गिरोह से है और असलहे लेकर जाने के पीछे क्या मंशा थी और कहीं व्यापारी लूटकांड से तो तार नहीं जुड़े हैं। इन सवालों का जवाब पुलिस नहीं खोेज पाई है।

Spotlight

Related Videos

नॉर्थ - ईस्ट को अशांत करने में पाकिस्तान और चीन सबसे आगे- बिपिन रावत

आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने देश के उत्तर-पूर्व इलाके को लेकर बड़ा बयान देते हुए कहा कि पाकिस्तान और चीन, भारत की शांति और मजबूती को प्रभावित नहीं कर पा रहे।

22 फरवरी 2018

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen