अंशू बनी एकता का अभ्यर्थन निरस्त करने के लिए डायट को लिखा

Badaun Updated Sat, 05 May 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
बदायूं। अंशू बनी एकता का प्रवेश विशिष्ट बीटीसी 2008 में किस आधार पर हुआ है। उसकी जांच के लिए बेसिक शिक्षा विभाग ने डायट प्रशासन को लिखा है। जांच के बाद अभ्यर्थन निरस्त करने को कहा है ताकि एकता का चयन इस प्रशिक्षण के लिए निरस्त हो सके।
विज्ञापन

विदित हो कि एक ही प्रमाण पत्र पर दो बहनों के नौकरी करने के मामले का अमर उजाला ने खुलासा किया था। इससे अधिकारी सकते में आ गए और मामले की जांच शुरु कर दी। बड़ी बहन अंशू शर्मा बरेली के बिरिया नारायनपुर स्कूल में सहायक अध्यापक के पद पर तैनात है। वहीं उसकी छोटी बहन एकता शर्मा अंशू बनकर समरेर ब्लाक के प्राथमिक स्कूल खुकड़ी में तैनात है। सभी कागजात बड़ी बहन अंशू के लगाए हैं। बेसिक शिक्षा विभाग ने मामला उजागर होते ही अंशू बनी एकता के वेतन पर रोक लगा दी। एकता ने अपना इस्तीफा भी भेजा है, लेकिन अधिकारियों का कहना है कि इससे अपराध कम होने वाला नहीं है।
बीएसए डॉ. ओपी राय ने बताया कि डायट से वर्ष 2008 बैच में एकता ने विशिष्ट बीटीसी का प्रशिक्षण प्राप्त किया है। इसलिए डायट प्रशासन को लिखा गया है कि वह चयन के दौरान जमा किए गए अभिलेखों की जांच करा लें। उसके बाद अभ्यर्थन निरस्त किया जाए। ताकि विभाग आगे की कार्रवाई कर सके। उन्होंने बताया कि बरेली बीएसए को अंशू बनी एकता के अभिलेख मिल गए हैं। हमने भी एकता की बड़ी बहन अंशू के अभिलेख मांगे हैं। यहां भी मिलान किया जाएगा। उसके बाद अंशू बनी एकता को बर्खास्त किया जाएगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us