विज्ञापन
विज्ञापन

उझानी में मंगलवार का दिन रहा विरोध-प्रदर्शन के नाम

Badaun Updated Wed, 05 Nov 2014 05:30 AM IST

विज्ञापन
उझानी (बदायूं)। उझानी में मंगलवार का दिन विरोध-प्रदर्शन के नाम रहा। भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ता इस बात पर भड़के कि उत्तराधिकारी की ताजपोशी कार्यक्रम के लिए इमाम बुखारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बजाय पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को आमंत्रण क्यों भेजा। इधर, बाईपास समेत आसपास इलाके के लोगों ने भूखंड पर दुकानों के निर्माण में पीडब्ल्यूडी के अधिशासी अभियंता की भूमिका पर सवाल खड़ा कर दिया। चौराहे पर इमाम बुखारी और अधिशासी अभियंता के पुतले फूंके गए।

भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने बुखारी का पुतला फूंका
उझानी। घंटाघर चौराहे पर जुटे कार्यकर्ताओं ने दिल्ली की शाही जामा मस्जिद के इमाम के उत्ताधिकारी के कार्यक्रम में पाक के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का आमंत्रण भेजे जाने पर आपत्ति जताई। नगर अध्यक्ष धर्मेंद्र चौहान और बजरंग दल के नेता संजीव गुप्ता ने इमाम के फैसले को दुर्भाग्य पूर्ण बताया। कहा कि इमाम ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रण नहीं भेजकर देश की तौहीन की है। इमाम बुखारी को सोचना चाहिए कि वह ऐसा काम करने जा रहे हैं जो नफरत का माहौल पैदा करेगा।
इमाम बुखारी के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने इमाम बुखारी के पुतले का चौराहे पर ही दहन किया। बुखारी के खिलाफ नारेबाजी भी की गई। प्रदर्शनकारी कार्यकर्ताओं में शेखर शर्मा, मनु गुप्ता, डीके मथुरिया, अविकास तोमर, रवि सोलंकी, दीपक शर्मा, शैलेंद्र राजपूत, राहुल गुप्ता,रवि दिवाकर, राहुल मिश्रा और शैलेंद्र माहेश्वरी आदि शामिल थे।

इमाम ने की है घिनौनी हरकत
उझानी। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष सैयद आरिफ अली ने कहा कि जामा मस्जिद के इमाम ने उत्तराधिकारी चयन के कार्यक्रम के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रण पत्र नहीं भेजकर अच्छा नहीं किया है। इमाम की यह हरकत घिनौनी है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
एक्सईएन के खिलाफ फूटा लोगों का गुस्सा, पुतला जलाया
उझानी। बाईपास के समीप एक भूखंड को विवादित बताते हुए आसपास इलाके के नागरिकों ने पीडब्ल्यूडी के अधिशासी अभियंता (एक्सईएन) के खिलाफ गुस्से का इजहार किया। आरोप है कि शिकायत के बावजूद पीडब्ल्यूडी, नगर परिषद और पुलिस ने सच्चाई का पता लगाने का प्रयास नहीं किया। बाईपास से बिल्सी रोड बाजार होकर नारेबाजी करते हुए घंटाघर चौराहे पर पहुंचे नागरिकों ने प्रदर्शन भी किया। उन्होंने बताया कि जिस स्थान पर दुकानों का निर्माण कराया जा रहा है, वह नियमानुसार नहीं है।
नागरिकों ने एक्सईएन समेत पीडब्ल्यूडी के अफसरों की भूमिका पर भी सवाल उठाया। बोले, अफसर मौके पर आकर जांच करें तो असलियत भी सामने आ जाएगी। बावजूद इसके निर्माण करने वालों को क्लीन चिट दे दी गई है। प्रदर्शनकारियों ने एक्सईएन का पुतला फूंक दिया। गुस्साए लोगों में सिपट्टर सिंह सोलंकी, मुजाहिद रजा, संजीव कुमार, उदयभान सिंह, अजय कुमार, जितेंद्र सिंह विनोद माहेश्वरी और नत्थूलाल आदि शामिल थे।

दुकानों के निर्माण से जुड़े भूखंड को लेकर नगर निवासी मसीवन और उनके बेटे निजाकत अली का कहना है कि जमीन उनकी है। कोर्ट से भी उनके पक्ष में निर्णय हो चुका है। ऐसे में कोई अगर भूमि विवादित कहता है तो वह गलत है। वह दुकानों का निर्माण नियमानुसार करा रहे हैं।
विज्ञापन

Recommended

छात्रोंं के करियर को नई ऊंचाइयां देता ये खास प्रोग्राम
Invertis university

छात्रोंं के करियर को नई ऊंचाइयां देता ये खास प्रोग्राम

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

मदर टेरेसा को मिला था शांति के लिए नोबेल पुरस्कार, लेकिन कुछ लोगों ने दिया था नकार

17 अक्टूबर 1979 को मदर टेरेसा को शांति का नोबेल मिला था। नोबेल पुरस्कारों का इतिहास काफी रोचक रहा है। साथ ही विवादास्पद भी। ऐसा भी हुआ है जब विश्व का यह सर्वोच्च सम्मान लेने से लोगों ने मना कर दिया।

17 अक्टूबर 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree