पार्टनर से अलग सोने पर बेहतर होती है सेक्स लाइफ

अमर उजाला, दिल्ली Updated Tue, 22 Oct 2013 07:38 AM IST
विज्ञापन
Sleeping separate beds perk sex life husband Yes really DOES work

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
एक साथ बेडरूम में सोने के बजाय यदि रात में पार्टनर से अलग सोया जाए तो सेक्स लाइफ बेहतर हो सकती है।
विज्ञापन

ये हम नहीं कह रहे, ना ही कोई सर्वे में ये बात साबित हुई है बल्कि अमेरिका में रहने वाली केंट की राजकुमारी माइकल ने अपने अनुभवों से इस बात का दावा किया है।
देखें, ऐसा है जापान का 'कामसूत्र'
डेली मेल ऑन को दिए गए एक इंटरव्यू में माइकल ने बताया है कि वह अपने पति टॉम के साथ पिछले पांच साल से साथ में एक बेडरूम में नहीं सो रही हैं।

अलग-अलग बेडरूम में सोने का निर्णय उन्होंने मिलकर निर्णय किया और पाया कि ऐसा करने से उनकी सेक्स लाइफ पहले से बेहतर हो गई है।

देखिए, सड़क के बीचो-बीच 100 महिलाएं हुई टॉपलेस

माइकल और टॉम की 2001 तब मुलाक़ात हुई जब माइकल GMTV में पोलिटिकल कॉरस्पोन्डेंड और टॉम रक्षा मंत्रालय में काम करते थे।

ऐसा निर्णय लेने के पीछे का राज बताती हुई माइकल बताती हैं कि वे अपने पति को बहुत चाहती हैं लेकिन बावजूद इसके वे पति के खर्राटे लेने की आदत की वजह से बहुत परेशान थीं आखिरकार उन्होंने आपसी सहमति से पति के साथ न सोकर अलग बेडरूम में सोने का निर्णय लिया।

पढ़ें: अजीबो-गरीब शौक रखते हैं ये सितारे

हालांकि माइकल और टॉम की उम्र का अंतर 23 साल का है लेकिन माइकल को टॉम को देखते ही प्यार हो गया।

वैसे भी इस देश के 40 फीसदी लोग बहुत जोर से खर्राटे लेते हैं ऐसे में अपनी खुद की नींद से समझौता नहीं करने के लिए उन्होंने ऐसा फैसला किया।

देखिए, सेक्सी अंदाज में दूध में नहाती हसीनाएं


हाल ही में आए एक सर्वे के अनुसार 50 फीसदी कपल्स ने बताया कि वो अपने पार्टनर की खर्राटे लेने की आदत से परेशान हैं। हद तो तब हो गई जब दस में से एक कपल ने बताया कि वे अपने पार्टनर के बदले पालतू जानवर के साथ सोना पसंद करेंगे।

जानें, ब्रेस्ट से जुड़े कुछ रोचक फैक्ट्स
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us