विज्ञापन

उत्तराखंड से झारखंड तक, लोग तेजी से ऑनलाइन मंगा रहे एडल्ट उत्पाद

रवि बुले Updated Fri, 22 Jan 2016 05:45 PM IST
people from India quite engaged in buying adult products online
विज्ञापन
ख़बर सुनें
मुंबई। भारतीय पुराण और इतिहास के महत्वपूर्ण अध्यायों को समेटे राज्यों, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड का पारंपरिक समाज बदल रहा है। 
विज्ञापन
एडल्ट प्रोडक्ट्स मार्केट के एक अध्ययन में यह बात आई है। ऑनलाइन एडल्ट स्टोर दैट्स पर्सनल डॉट कॉम द्वारा 2015 के ट्रेंड्स और इस्तेमाल से संबंधित जारी वार्षिक सर्वे के अनुसार यूपी से बीते एक साल में कस्टमर सर्विस पर फोन करके जानकारी लेने वालों की संख्या में 193 फीसदी बढ़ी है। 

फोन करने वालों में 18 से 24 वर्ष आयुवर्ग के युवा सबसे ज्यादा हैं। जबकि उत्तराखंड में रोमांस बढ़ाने वाले उत्पादों की मांग अधिक है। सर्वे के अनुसार एडल्ट प्रोडक्ट इस्तेमाल करने के मामले में यूपी जहां देश के राज्यों में आठवें 
स्थान पर है, वहीं लुब्रिकेंट्स की खरीदारी में यह तीसरे नंबर पर है। देश की कुल खरीदारी में 10 फीसदी हिस्सा यूपी का है।

फ्लेवर्ड लुब्रिकेंट्स मथुरा में सबसे ज्यादा (22 प्रतिशत) पसंद है, वहीं गाजियाबाद-मेरठ में हाइब्रिड लुब्रिकेंट्स (वाटर बेस्ड) लोकप्रिय हैं। देश की सबसे ज्यादा आबादी वाला राज्य यूपी कंडोम की ऑनलाइन खरीदारी में 29 राज्यों में बहुत पीछे 27वें नंबर पर है। वह इस मामले में केवल बिहार और झारखंड से ही आगे है।

यूपी की राजधानी लखनऊ भी पीछे नहीं हैं। एडल्ट उत्पादों में लोकप्रिय प्लेजर रिंग्स की खरीदारी में लखनऊ देश के शहरों में सातवें स्थान पर है। यूपी से ऑर्डर होने वाले 17 फीसदी प्लेजर रिंग्स लखनऊ आते हैं। 

गोरखपुर-बरेली जैसे टीयर-3 शहरों में राज्य के 13 फीसदी पुरुष परफॉरमेंस उत्पादों की खपत होती है। पुरुषों के अधोवस्त्र ऑनलाइन खरीदने के मामले में आगरा-मथुरा अव्वल हैं।

एडल्ट उत्पादों की खरीदारी में वाराणसी-कानपुर से महिलाओं की भी भागीदारी है। 35 से 44 वर्ष आयुवर्ग के खरीदारों में कानपुर की महिलाएं (66 प्रतिशत) सबसे अधिक हैं।

यूपी से अलग होकर बने उत्तराखंड में रोमांस बढ़ाने वाले उत्पादों की मांग अधिक है। सुगंधित मसाज कैंडल की खरीदारी में उत्तराखंड देश में केवल कर्नाटक से पीछे है। 

देहरादून में मंगाए जाने वाले 27 प्रतिशत उत्पाद रोमांस से जुड़े होते हैं। सर्वे के मुताबिक नैनीताल और रानीखेत में मांग एक साल में बहुत तेज हुई है, जो क्रमशः 346 प्रतिशत और 287 प्रतिशत है। 

राज्य में पुरुष परफॉरमेंस बढ़ाने वाले 23 प्रतिशत उत्पाद हरिद्वार-उत्तरकाशी जाते है। देश में एडल्ट उत्पाद मंगाने वाले 45 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के पुरुषों में उत्तराखंड छठे नंबर पर है। 

राज्य में महिलाओं से जुड़े उत्पाद ज्यादातर शहरों में आते हैं। टिहरी और अल्मोड़ा में महिलाओं के जैल और क्रीम की मांग सर्वाधिक है। रोचक तथ्य यह है कि एडल्ट उत्पादों के लिए उत्तराखंड से कस्टमर केयर पर 64 फीसदी जानकारी दोपहर 12 बजे से पहले पूछी जाती है।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

पंचांग: अगर करेंगे ये उपाय, तो शुभ रहेगा शनिवार

शनिवार को लग रहा है कौन सा नक्षत्र और बन रहा है कौन सा योग? दिन के किस पहर करें शुभ काम? जानिए यहां और देखिए पंचांग शनिवार 22 सितंबर 2018।

21 सितंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree