औरतों की महक मर्दों को करती है आकर्षित

टीम डिजिटल/ अमर उजाला, दिल्ली Updated Thu, 08 May 2014 03:08 PM IST
विज्ञापन
men could correctly identify the smell of a women

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
आपको पढ़कर शायद अजीब लगेगा लेकिन रिसर्च में ये बात सामने आई है कि किसी भी व्यक्ति को सूंघकर उसके जेंडर के बारे में बता सकते हैं।
विज्ञापन

पढ़िए, देश की राजधानी में होगा सेक्स एडिक्शन का इलाज
डेली मेल पर प्रकाशित खबर के मुताबिक, यदि डियोड्रेंट, परफ्यूम और डिटरजेंट की खुशबू को शरीर से दूर कर दिया जाए तो हर व्यक्ति के बदन की दूसरे व्यक्ति के बदन से अलग खुशबू होती है।

देखिए, टैटू का ऐसा जलवा, कपड़े पहनना भूली हसीनाएं

ये बात तब खासतौर पर लागू होती है जब आप अपने हमसफर की तलाश कर रहे हों। पहले हुई कई रिसर्च में ये बात सामने आई है कि लिंग सेक्स फेरोमोन का उत्पादन करते हैं। लेकिन हालिया रिसर्च कहती है कि व्यक्ति अवचेतन मन में फेरोमोन की गंध सूंघकर लिंग की पहचान करता है।

पढ़िए, फेक एकाउंट बना पतियों को रंगेहाथ पकड़ती हैं औरतें

डेली मेल पर प्रकाशित रिसर्च में ये भी पाया गया कि हम लोग जिसकी तरफ आकर्षित हो रहे हैं उसके लिंग की पहचान उसको देखे बिना उसकी गंध से करने में सक्षम होते हैं। रिसर्च में पाया गया कि सिर्फ पुरुष महिलाओं को उनकी गंध से पहचानते बल्कि गे पुरुष भी दूसरे पुरुषों की गंध से लिंग की पहचान कर सकते हैं।

देखिए, बिकनी में नहाते हुए ऐसा डांस देखा है कभी?

इस अध्ययन को चाइनीज अकादमी ऑफ साइंसेज के वैज्ञानिक और शोध के प्रमुख शोधकर्ता वेन झाओ ने किया है। उनके मुताबिक, मनुष्य के सेक्स फेरोमोन को सुंधकर व्यक्ति जान सकता है कि सामने वाला लड़का है या लड़की।

देखिए, ये लड़की कपड़े उतार रही है या पहन रही है?

रिसर्च में ये भी पाया गया कि पुरुषों में सक्रिय स्टेरॉयड एंडोस्टेडीनेंस और महिलाओं में पाये जाने वाला एस्ट्राटेट्रानोल ये तय करते हैं कि किसमें कितने मर्दाना गुण है और किसमें स्त्रीत्व गुण है।

देखिए, ये हैं दुनिया की 10 सबसे सेक्सी हसीनाएं

इसी तरह की पहले की गई रिसर्च में ये बात सामने आई है कि जहां मर्दों के वीर्य और बगलों से निकलने वाले एंड्रोस्टैडिनोन से महिलाओं का मूड बन जाता है वहीं पुरुषों का मूड महिलाओं के मूत्र में पाये जाने वाले एस्ट्राटेट्रानोल से बनता है।

देखिए, सोशल मीडिया पर ऐसी तस्वीरें! जिसे देख आप भी शर्मा जाएंगे

हालांकि अभी भी ये निश्वित तौर पर नहीं कहा जा सकता कि बॉडी से निकलने वाले ये रसायन मूड बनाने में कितना योगदान देते हैं।

देखिए, जगह ना मिलने पर जब टैक्सी में ही इश्क फरमाने लगी

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us