न्यूड रहने के कारण सात साल जेल और सैकड़ों बार गिरफ्तारी! क्यों?

अमर उजाला, दिल्ली Updated Thu, 23 Jan 2014 12:43 PM IST
Arrested countless times. Seven years in jail. Why?
एक आदमी अब तक सात साल की जेल की सजा काट चुका है और सैकड़ों बार इसकी गिरफ्तारी हो चुकी है। लेकिन क्यों?

डेली मेल
की खबर के मुताबिक, द नेकेड रैम्बलर के नाम से जाना जाने वाले इस व्यक्ति को पैदल यात्रा करना पसंद हैं लेकिन इसकी समस्या ये है कि ये कपड़े पहनकर नहीं बल्कि न्यूड होकर यात्रा करता है।

देखिए, इस साल ये सेक्स टॉयज लुभाएंगे आपको

55 वर्षीय स्टीफन के मुताबिक, न्यूड रहना कानूनी जुर्म नहीं है लेकिन हां ये शांति भंग कर सकता है। स्टीफन 20 बार से ज्यादा न्यूड रहकर यात्रा करने के कारण गिरफ्तार हो चुका है और तकरीबन सात साल इसके लिए जेल क हवा खा चुका है।

पढ़िए, इन लड़कियों के ब्रेस्‍ट वरदान नहीं, अभिशाप हैं

अपने न्यूड रहने की आदत स्टीफन के बच्चे उसे छोड़ चुके हैं। लेकिन निराश हुए बिना स्टीफन ने एक डॉक्यूमेंट्री में हिस्सा लिया है जिसमें उन्होंने इस बात का जिक्र किया है कि वो न्यूड क्यों रहता है।

स्टीफन की माने तो वे न्यूडिटी को फ्रीडम का हिस्सा मानते हैं और इसके लिए स्टैंड लेना चाहते हैं।

देखिए, और पहचानिए कौन है ये? लड़का या लड़की

लेकिन कानून के रखवालों का मानना है कि बेशक न्यूड रहना तकनीकी तौर पर जुर्म नहीं है लेकिन कोई इसकी शिकायत करता है तो इस शिकायत पर गौर जरूर किया जाता है।

देखिए, इस हसीना को भाती हैं मूंछें

इधर स्टीफन की 86 वर्षीय मां अपने बेटे पर सवाल उठाते हुए कहती है कि कि मुझे ये समझ में नहीं आता कि स्टीफन ऐसा क्यों करता है। वो अगर ये सब फ्रेडीम के लिए कर रहा है तो क्या कपड़ों के साथ वो फ्रीडम महसूस नहीं करता। कपड़े उतारने के कारण 7 साल जेल में बिताना क्या स्टीफन इसको आजादी कहता है।

देखिए, पॉपुलर होने के लिए हसीना ने ये क्‍या कर डाला!

बहरहाल, स्टीफन अपनी न्यूडिटी को सही मानते हैं और इसे आगे भी ऐसे ही सपोर्ट करना चाहते हैं लेकिन इन सबसे स्टीफन खूब चर्चाओं में बने हुए हैं।

देखिए, बड़े ब्रेस्‍ट के चक्‍कर में ये क्‍या कर डाला

Spotlight

Related Videos

सुभाष चंद्र बोस के जन्मदिन पर कोलकाता में हुआ ये

आजादी के संघर्ष की ‘संज्ञा’ बने सुभाष चंद्र बोस के जन्मदिन पर कोलकाता में रैली निकाली गई। इस रैली के जरिए ‘बोस’ को याद किया गया। इस दौरान ‘नेता जी अमर रहें’ और इंकलाब जिंदाबाद के नारे लगे।

23 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper