आपका शहर Close

राष्ट्रपति मोर्सी ने पीछे खींचा कदम

Avanish Pathak

Avanish Pathak

Updated Sun, 09 Dec 2012 01:16 PM IST
President Morsi pulled back decision of grabbing power
मिस्र में राष्ट्रपति मोहम्मद मोर्सी ने तीखे विरोध के बाद अपने उस आदेश, जिसके तहत उनके किसी भी फैसले को न्यायापालिका में भी चुनौती नहीं दी जा सकती थी, को वापस लेने का फैसला किया है।
हालांकि राजधानी क़ाहिरा में एक अधिकारी ने बताया कि नए संविधान के मसौदे पर जनमत संग्रह निर्धारित योजना के अनुसार 15 दिसंबर को ही करवाए जाएंगे।

आलोचकों का कहना है कि मोर्सी एक तानाशाह की तरह काम कर रहे हैं, लेकिन राष्ट्रपति की दलील है कि वो देश की क्रांति को बचा रहे हैं।

राष्ट्रपति मोर्सी के मुताबिक सुधारों को लागू करने के लिए उन्हें अतिरिक्त शक्तियों की जरूरत है।

उन्होंने 22 नवंबर को नई शक्तियां ग्रहण की थीं जिसके बाद उनके फैसले न्यायापालिका के हस्तक्षेप के दायरे से भी बाहर हो गए थे। मुल्क भर में इसका तीखा विरोध हुआ।

विरोध की वजह

शनिवार को राष्ट्रपति ने गतिरोध खत्म करने के लिए राजनीतिक गुटों और अन्य अहम लोगों के साथ बैठक की। इस बैठक के प्रवक्ता और एक इस्लामपंथी राजनेता सेलिम अल-अवा ने कहा, “फिलहाल संवैधानिक शक्तियों को ख़त्म कर दिया गया है।”

लेकिन उन्होंने कहा कि नए संविधान के मसौदे पर जनमत संग्रह 15 दिसंबर को तय योजना के अनुसार ही होंगे और राष्ट्रपति के लिए इसे टालना कानूनी रूप से संभव नहीं होगा।

मिस्र में तनाव

देश भर में मोर्सी के समर्थक और विरोधी सड़कों पर उतर रहे हैं।

आलोचकों का कहना है कि नए संविधान के मसौदे में धार्मिक और राजनीतिक स्वतंत्रता के अलावा महिला अधिकारों के संरक्षण के उचित उपाय नहीं किए गए हैं।

मिस्र के मुख्य विपक्षी गुटों ने शनिवार को बुलाई गई राष्ट्रपति मोर्सी की बैठक का बहिष्कार किया। वो राष्ट्रपति की नई शक्तियों को खत्म करने और संविधान के मसौदे पर जनमत संग्रह को रद्द करने की मांग रहे हैं।

सेना की चेतावनी

क़ाहिरा में मौजूद बीबीसी संवाददाता शाइमा ख़लील का कहना है कि राष्ट्रपति मोर्सी ने बड़ा समझौता किया है, लेकिन ये अभी साफ नहीं है कि इससे मिस्र में जारी तनाव कम होगा या नहीं।

राष्ट्रपति के समर्थकों का कहना है कि न्यायापालिका में प्रतिक्रियावादी लोग का दबदबा है जिनका संबंध पूर्व शासक होस्नी मुबारक की सरकार से रहा है।

लेकिन मोर्सी के विरोधी व्यापक प्रदर्शन कर रहे हैं जिसकी वजह से राष्ट्रपति को अपने कदम पीछे लेने पड़े हैं।

इससे पहले मिस्र की सेना ने चेतावनी दी कि अगर प्रतिद्वंद्वी राजनीतिक गुट वार्ता के जरिए अपने मतभेद सुझलाने में नाकाम रहे तो इसके गंभीर परिणाम होंगे।

हालांकि सैन्य सूत्रों ने इस बात से इनकार किया है कि सेना देश की सत्ता अपने हाथ में लेने का इरादा रखती है।

Comments

स्पॉटलाइट

एक ऐसा परिवार, 100 खतरनाक जानवर करते हैं इसकी रखवाली

  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

बाल झड़ने की वजह से लड़कियां पास न आएं तो करें मेथी का यूं इस्तेमाल

  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

सलमान खान के लिए असली 'कटप्पा' हैं शेरा, एक इशारे पर कार के आगे 8 km तक दौड़ गए थे

  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

भूलकर भी न करें छठ पूजा में ये 6 गलतियां, पड़ सकती है भारी

  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

बदलते मौसम में डाइट में शामिल करेंगे ये खास चीज तो फौलाद बन जाएंगी हड्डियां

  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

Most Read

चांद पर मिली 'सुरंग', वैज्ञानिकों ने किया दावा- वहां बनाई जा सकती है कॉलोनी

japan Scientists Discovered Moon Tunnel says Perfect Place For A Colony
  • रविवार, 22 अक्टूबर 2017
  • +

रोहिंग्या मामले पर बोलीं सुषमा- म्यांमार में विस्थापितों के लौटने पर सामान्य हो सकते हैं हालात

India-Bangladesh must fight against terrorism by adopting zero tolerance policy says Sushma Swaraj
  • रविवार, 22 अक्टूबर 2017
  • +

अमेरिका समर्थक सेना ने सीरिया के बड़े तेल क्षेत्र पर किया कब्जा

US allied forces occupy Syria's largest oil field
  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

जापानः आम चुनाव में पीएम शिंजो अबे को मिली भारी जीत, लेकिन इस मुद्दे पर विभाजित है जनता

Shinzo Abe gains big victory in Japan election
  • मंगलवार, 24 अक्टूबर 2017
  • +

नाइजीरिया में ट्रिपल सुसाइड अटैक, 13 की मौत, 16 गंभीर रूप से घायल

around thirteen killed and many injured after triple suicide attack happened in nigeria
  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

मिस्र में ISIS लड़ाकों के साथ मुठभेड़ में 55 पुलिसकर्मी मारे गए : सूत्र

sources says 55 policeman killed in Egypt in shoot out with isis
  • रविवार, 22 अक्टूबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!