आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

रॉकेट लांच की सफलता में डूबा उत्तर कोरिया

बीबीसी हिंदी

Updated Fri, 14 Dec 2012 09:07 PM IST
north koreans mark rocket success with mass rally
उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयांग में हज़ारों की संख्या में जमा हुए लोग बुधवार को हुए रॉकेट लांच की सफलता का जश्न मना रहे हैं। ये लोग यहां आयोजित होने वाली एक रैली में हिस्सा लेंगे। उत्तर कोरिया के राष्ट्रीय टेलीविज़न में हज़ारों की संख्या में इन लोगों को वहां की सड़कों पर खुशी मनाते हुए दिखाया गया है।
उत्तर कोरिया द्वारा किए गए रॉकेट परीक्षण को ज्य़ादातर देश मिसाइल तकनीक का प्रतिबंधित परीक्षण मान रहे हैं। इस बीच दक्षिण कोरिया ने कहा है कि उसने रॉकेट परीक्षण के दौरान वहां फैले मलबे के कुछ हिस्से प्राप्त किए हैं, जिसकी जांच कर वो इस रॉकेट परीक्षण की तकनीक के बारे में पता लगाने की कोशिश करेगा।

पहले चरण के परीक्षण के दौरान इस्तेमाल किया गया रॉकेट कोरियाई प्रायद्वीप के पश्चिम में गिरा था, जो उत्तर कोरिया के हाथ लग गया। अंतरिक्ष में उपग्रह स्थापित करने के उद्देश्य से उत्तर कोरिया द्वारा तीन चरणों के रॉकेट लॉन्च द्वारा किया गया ये पहला सफल परीक्षण था।

उत्तर कोरिया ने बाद में कहा कि वो आगे भी ऐसे परीक्षण करता रहेगा। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने उत्तर कोरिया द्वारा किए गए इन रॉकेट लांच की निंदा की है। संयक्त राष्ट्र के अनुसार ये परीक्षण संयुक्त राष्ट्र के उन दो प्रस्तावों के विरुद्ध है जो उत्तर कोरिया को ऐसे किसी भी रॉकेट लांच की इजाजत नहीं देती है।

संयुक्त राष्ट्र द्वारा उत्तर कोरिया पर ये प्रतिबंध उसके द्वारा साल 2006-2009 में किए गए परमाणु परीक्षण के बाद लगाया गया था। अमेरिका, दक्षिण कोरिया और जापान जैसे देशों को ऐसा अंदेशा है कि उत्तर कोरिया लंबी दूरी की मिसाईल तैयार करने की दिशा में प्रयासरत है।

उन्हें लगता है कि तैयार होने के बाद इन मिसाईलों के ज़रिए उत्तर कोरिया एक परमाणु शक्ति बन सकता है जो कभी भी परमाणु हथियारों का लड़ाई में इस्तेमाल कर सकता है। इसलिए ये देश उत्तर कोरिया के खिलाफ़ लगे प्रतिबंधों को और सख्त करना चाहते हैं।

लेकिन उत्तर कोरिया के मित्र देश चीन के अनुसार, सयुंक्त राष्ट्र का कोई भी कदम शांति के मार्ग में बाधक नहीं होना चाहिए, और किसी भी तरह से इससे तनाव को बढ़ावा नहीं मिलना चाहिए।'

दृढ़ निश्चय
उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयांग में राष्ट्रीय टेलीविज़न के प्रसारणों में देश के बड़े अधिकारी और नेता बारी-बारी से इस रॉकेट लॉन्च की सफलता का गुणगान कर रहे हैं। उत्तर कोरिया के राष्ट्रीय टेलीविज़न में देश के नेता किम जोंग-उन को रॉकेट कंट्रोल रुम में दिखाया गया है।

उत्तर कोरिया का रॉकेट लॉन्च बुधवार सुबह उत्तर कोरिया के समुद्र तट से किया गया था। दक्षिण कोरिया के अनुसार उन्हें रॉकेट लॉन्च करने वाली जगह से ईंधन का एक खाली डिब्बा मिला था।

दक्षिण कोरियाई समाचार एजंसी योनहाप ने रक्षा मंत्रालय के एक अधिकारी के हवाले से लिखा है कि समुद्र में बचाव कार्य करने वाली नौसेना की 'डीप सबमर्जेंस रेस्क्यू वेहिकल' गाड़ी ने पहले चरण के रॉकेट लांच के दौरान वहां बचे मलबे को ढूंढ निकाला है। जिसे वो अब प्योंगटेक के सेकेंड कमांड फ्लीट तक पहुंचाने का काम करेगा।

एक अन्य सरकारी प्रवक्ता के अनुसार, ये मलबा जांच के काम में काफी मदद करेगा। शुक्रवार को ही उत्तर कोरिया की समाचार एजेंसी केसीएनए द्वारा जारी किए गए एक वक्तव्य के अनुसार उनके नेता किम-जोंग- उन ने ऐसे और परीक्षण करने पर ज़ोर दिया है।

केसीएनए में छपे किम जोंग उन के वक्तव्य के अनुसार, ये रॉकेट लॉन्च देश-विदेश में उत्तर कोरिया के उस दृड़ निश्चय को दोबारा स्थापित करता है जिसके मुताबिक उत्तर कोरिया को शांतिपूर्ण मकसद के लिए अंतरिक्ष के इस्तेमाल का पूरा वैधानिक अधिकार है।

इस बीच अमेरिका ने कहा है कि वो इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया देने से पहले अन्य सहयोगी देशों से बातचीत कर रहा है। अमेरिकी प्रवक्ता विक्टोरिया नूलैंड ने कहा है कि हम इस मुद्दे पर अपने अन्य छह सहयोगियों और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सहयोगियों से बातचीत कर रहे हैं। चीन दोनों ही स्तरों पर इस विचार-विमर्श का हिस्सा है और हम इस वार्ता में साफतौर पर ये फैसला लेने वाले हैं कि उत्तर कोरिया के इस कदम पर कैसी प्रतिक्रिया दें।
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

तो क्या देश के हर एक युवा के हाथ में होगा नोकिया 8 ?

  • गुरुवार, 17 अगस्त 2017
  • +

उस रात बाहर सो रहा होता कोई गांव वाला तो नहीं बच पाती उसकी जान, देखें यह खौफनाक वीडियो

  • गुरुवार, 17 अगस्त 2017
  • +

लैक्मे फैशन वीक में दिखा इन हसीनाओं का जलवा

  • गुरुवार, 17 अगस्त 2017
  • +

नवरात्रि के 9 दिनों में करोड़पति बन जाती हैं फाल्गुनी पाठक, बॉलीवुड से अचानक हो गईं गायब

  • गुरुवार, 17 अगस्त 2017
  • +

आर्मी जवान ने 'मैं तेरा ब्वॉयफ्रेंड' पर किया जबरदस्त डांस, पब्लिक बोली- 'सुपर से भी ऊपर'

  • गुरुवार, 17 अगस्त 2017
  • +

Most Read

एक बार फिर भारत के खिलाफ नेपाल का फूटा गुस्सा

Nepal once again anger against India
  • गुरुवार, 17 अगस्त 2017
  • +

स्पेन: बार्सिलोना में आतंकी हमला, 13 की मौत, 50 से ज्यादा घायल, ISIS ने ली जिम्मेदारी

Barcelona police confirm a massive crash from a van has occurred in the city center, several injured
  • शुक्रवार, 18 अगस्त 2017
  • +

रहस्य से उठा परदा, इंसान नहीं, सबसे पहले जानवर आए थे पृथ्वी पर

Scientists have solved the mystery of how the first animals appeared on Earth
  • गुरुवार, 17 अगस्त 2017
  • +

ट्रंप के प्रतिबंधों को ईरान का जवाब- अमेरिका को देंगे मौत

Iran Lawmakers demand to raised Military expenditure against America
  • सोमवार, 14 अगस्त 2017
  • +

इंडिया@70 में बोलीं सुषमा स्वराज- बुलेट से नहीं, बैलेट से बदलती है भारत देश की सत्ता

Sushma swaraj speaks in India@70, says-India never seen power transfer by bullets
  • शुक्रवार, 11 अगस्त 2017
  • +

गुआम पर नॉर्थ कोरिया की धमकी के बाद जापान मुस्‍तैद, तैनात की मिसाइल

Japan deploys Patriot missile defence system over North Korea threat to Guam
  • शनिवार, 12 अगस्त 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!