आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

देर रात कॉल रेट में मिलने वाली छूट खत्म

इरम अब्बास, बीबीसी संवाददाता, इस्लामाबाद

Updated Fri, 07 Dec 2012 04:45 PM IST
tarrifes of late-night call rates ban in pak
पाकिस्तान में देर रात कॉल रेट में दी जाने वाली छूट को खत्म कर दिया गया है।
पाकिस्तान टेलीकम्युनिकेशन अथॉरिटी (पीटीए) का तर्क है कि इससे देश के युवाओं का नैतिक पतन हो रहा था।

अथॉरिटी ने उन शिकायतों का भी हवाला दिया है जिन्हें पाकिस्तान के कई रूढ़िवादी परिवारों ने दर्ज कराया है।

अथॉरिटी का कहना है कि इस सेवा को खत्म करने के पीछे की बड़ी वजह ये है कि इसका अधिकांश इस्तेमाल किशोर-वर्ग अपने प्रेम संबंधों के लिए कर रहे थे जो कि पाकिस्तान के रूढ़िवादी परिवारों को नागवार गुजर रहा था।

टेलिकॉम कंपनियों ने इस प्रतिबंध को इस्लामाबाद हाईकोर्ट में चुनौती दी है।

मामला कोर्ट में

इस मामले में अब इस्लामाबाद हाई कोर्ट को फैसला सुनाना है कि आखिर देर रात की बातचीत नैतिकता के लिए खतरा है या नहीं।

पाकिस्तान में देर रात कॉल पैकेज किशोरों और युवाओं के साथ-साथ लंबे समय तक काम करने वाले लोगों के बीच खासा लोकप्रिय है।


पीटीए का कहना है कि ये कदम इसलिए उठाना जरूरी हो गया था क्योंकि इस बारे में काफी शिकायतें आने लगी थीं।

जबकि पाकिस्तान की दूसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी 'टेलिनोर' के सीएफओ आमिर इब्राहिम का कहना है, 'युवाओं को शिक्षा देने का काम टेलिकॉम इंडस्ट्री का नहीं था।'

उन्होंने बीबीसी से बातचीत में कहा, ''युवाओं में आचार और नैतिकता उनकी परवरिश के साथ आती है, उनके माता पिता से आती है।''

अथॉरिटी पर उपभोक्ता अधिकारों के हनन का आरोप भी लग रहा है।

पीटीए ने अदालत को देर रात हुई आपत्तिजनक बातचीत के कई क्लिप्स सौंपे है।

हालांकि मौलिक बातचीत को सार्वजनिक नहीं किया गया है लेकिन मोबाइल कंपनी को अपनी याचिका वापस लेनी पड़ सकती है।

इसके साथ ही दूससंचार नियामक एक बार फिर सवालों के घेरे में आ सकता है।

कटघरे में 'पीटीए'


ऐसा पहली बार हुआ है कि पाक टेलिकॉम अथॉरिटी ने सार्वजनिक तौर पर इस बात को स्वीकारा है कि आम लोगों की बातचीत को रिकॉर्ड किया गया।

पाकिस्तान में मोबाइल कंपनियां फोन कॉल्स और एसएमएस में सरकार के दखल को मंजूरी देने के लिए कानूनी तौर पर बाध्य हैं।

लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि ये कानूनी प्रावधान इस मामले में काम नहीं आएगा।

कानून विशेषज्ञ मलिक गुलाम साबिर ने बीबीसी से कहा, ''रात के वक्त होने वाली व्यक्तिगत बातचीत को राष्ट्रीय सुरक्षा के आधार पर रिकॉर्ड नहीं किया जा सकता''।

मलिक ने इसे उपभोक्ताओं की निजता का हनन करार दिया है।

" युवाओं को शिक्षा देने का काम टेलिकॉम इंडस्ट्री का नहीं है।"

आमिर इब्राहिम, सीएफओ,टेलिनोर

" रात के वक्त होने वाली व्यक्तिगत बातचीत को राष्ट्रीय सुरक्षा के आधार पर रिकॉर्ड नहीं किया जा सकता।"

मलिक गुलाम साबिर,कानून विशेषज्ञ
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

OMG! इंटरनेट पर धमाल मचा रही है ये महिला, असल उम्र पर नहीं होगा यकीन

  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

सलमान-शाहरुख से भी बड़ा सुपरस्टार है ये हीरो, सेल्फी लेने के लिए फैंस लगाते हैं लंबी लाइन

  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

जब भरी पार्टी में 16 साल छोटी अमृता को हीरो ने किया था किस, देखते रह गए थे सेलेब्रिटी

  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

प्रेम के मामले में परेशानियाें से भरा रहेगा सप्ताह का पहला दिन, ये 3 राशि वाले रहें संभलकर

  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

शेविंग के बाद भूलकर न लगाएं 'आफ्टरशेव', होगा ये नुकसान

  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

Most Read

जाधव की दया याचिका के दावे पर बोला भारत- बदल नहीं सकता सच

Pakistan's New trick, Army released second video of KulBhushan Jadhav
  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

पाक सेना ने दिया टीम को जीत का तोहफा, कराएगी उमरा

COAS congrats Team Pakistan & nation. Announces Umrah for team.
  • रविवार, 18 जून 2017
  • +

भारत को ठेंगा दिखा सिंधु पर चीन बनाएगा बांध

Pakistan says China will make dam project India objects to part of its CPEC project in Islamabad
  • मंगलवार, 20 जून 2017
  • +

आतंकवादियों को फंडिंग करना अब पाक को पड़ेगा भारी, भारत ने की ये तैयारी 

Terror funding watchdog FATF Spain meet pakistan will face heat over terror funding
  • शनिवार, 17 जून 2017
  • +

चैंपियंस ट्रॉफी जीतकर घर पहुंचे सरफराज, 1992 की विश्वविजेता टीम जैसा हुआ स्वागत

Amazing scenes outside home of Pakistani Captain Sarfraz Ahmed on his arrival in Karachi
  • मंगलवार, 20 जून 2017
  • +

रोजे में पानी पीने पर मौलवियों ने की पाकिस्तानी पत्रकार की पिटाई

pakistani journalist has been beaten by clerics on drinking water
  • गुरुवार, 22 जून 2017
  • +
Live-TV
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top