आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

राजस्थान

यमन में आत्मघाती हमला, 42 की मौत

Ashok Kumar

Ashok Kumar

Updated Sat, 11 Aug 2012 04:35 PM IST
Suicide attack in Yemen 42 dead
यमन के दक्षिणी प्रांत अबयान के जार इलाके में हुए आत्मघाती हमले में कम से कम 42 लोगों की मौत हो गई और 37 लोग घायल हो गए। सभी घायलों का देश के विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। स्थानीय प्रशासन ने इस हमले के लिए अल कायदा को जिम्मेदार ठहराया है।
सेना ने जून में इस इलाके को जिहादियों से मुक्त कराया था। इस शहर पर एक साल से अधिक समय तक अल कायदा के वफादारों का कब्जा था। हादसे में अल कायदा के खिलाफ जंग में शामिल एक स्थानीय संगठन के नेता समेत दस से ज्यादा लोग घायल भी हुए हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक यह हमला शनिवार को हुआ। एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि विस्फोट इतना जबरदस्त था कि शवों के चिथडे़ हवा में उड़ते देखे गए। प्रांतीय गवर्नर जमाल अल क्वाल ने बताया कि अल कायदा के एक आत्मघाती हमलावर ने ‘पॉपुलर रेजिस्टेंस कमेटीज’ द्वारा आयोजित एक शोक सभा में खुद को विस्फोट से उड़ा दिया।

पॉपुलर रेजिस्टेंस कमेटीज एक स्थानीय मिलिशिया है, जिसने आतंकियों के खिलाफ महीने भर तक चली लंबी लड़ाई में सेना का साथ दिया था। जार में राजी अस्पताल के एक अधिकारी ने बताया कि अस्पताल को 24 लोगों के शव मिले हैं। वहीं चिकित्सकों ने बताया कि अदन के मुख्य दक्षिणी शहर में तीन अस्पतालों में 12 लोगों की मौत हो गई।

स्थानीय अधिकारी मोहसिन बिन जमीला ने बताया कि छह लोगों के रिश्तेदार उनके शवों को दफनाने के लिए सीधे घटनास्थल से लेकर चले गए। वहीं दूसरी ओर, एक स्थानीय अधिकारी ने बताया कि देश के पूर्वी हिस्से में किए गए ड्रोन हमले में अल कायदा के पांच संदिग्ध आतंकवादी भी मारे गए।

अमेरिका सऊदी के लिए खतरा
इस हमले ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि यमन में इसलामिस्ट आतंकवादियों की पैठ कायम है। यमन में अल कायदा के सक्रिय होने के बारे में समय-समय पर आगाह करते रहे अमेरिका और सऊदी अरब के लिए भी यह एक खतरे की घंटी है।

उल्लेखनीय है कि इसलामी कानून के पक्षधर अंसार अल शरिया ने गत वर्ष अबयान प्रांत के कई शहरों पर उस दौरान कब्जा कर लिया था जब यमन के तत्कालीन राष्ट्रपति अली अब्दुल्ला सालेह अपने शासन के खिलाफ आंदोलन से जूझ रहे थे। अंतत: सालेह को पद से इस्तीफा देना पड़ा था।
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

नए कलेवर में लॉन्च हुए नोकिया के मोबाइल फोन, खास हैं खूबियां

  • रविवार, 26 फरवरी 2017
  • +

जानिए दुनिया के सबसे सम्मानित पुरस्कार 'ऑस्कर' से जुड़ी 10 रोचक बातें 

  • रविवार, 26 फरवरी 2017
  • +

ICC रैंकिंग: स्टीव ओ'कीफ की ऊंची छलांग, अश्विन-जडेजा और विराट को हुआ नुकसान

  • रविवार, 26 फरवरी 2017
  • +

अब यह लोकप्रिय कार भी नहीं मिलेगी बाजार में

  • रविवार, 26 फरवरी 2017
  • +

सेक्स में चरम सुख की कुंजी क्या है? शोध में हुआ खुलासा

  • रविवार, 26 फरवरी 2017
  • +

Most Read

लीबिया के तट पर बहकर आए 74 प्रवासियों के शव

74 found dead on Libyan beach
  • बुधवार, 22 फरवरी 2017
  • +

हम इराक में तेल पर कब्जा करने के लिए नहीं हैं: अमेरिकी रक्षामंत्री

'We’re not here to seize anybody’s oil': Jim Mattis
  • मंगलवार, 21 फरवरी 2017
  • +

इराकी बलों का मोसुल के दो गांवों पर दोबारा कब्जा

SECURITY  Iraqi police recaptures 2 western Mosul villages from IS
  • सोमवार, 20 फरवरी 2017
  • +

दुश्मन देशों को ईरान की चेतावनी- चालबाजी का जवाब मिसाइल से देंगे

Iran says missiles will "come down" on country’s enemies if they do wrong
  • रविवार, 5 फरवरी 2017
  • +

यमन में अमेरिकी हवाई हमला, 41 अल कायदा आतंकी ढेर

american force Killed In Raid On Al Qaeda In Yemen
  • सोमवार, 30 जनवरी 2017
  • +

इराक: बगदाद में कार बम धमाका, 45 की मौत

Terrorist Attacks in Bagdad,  45 killed
  • शुक्रवार, 17 फरवरी 2017
  • +
TV
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top