आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

जापान ने खरीदा विवादित सेनकाकू द्वीप

बीजिंग/टोक्यो

Updated Fri, 14 Sep 2012 01:19 PM IST
japan buys disputed senkaku islands from private owner
जापान ने चीन की चेतावनी को नजरअंदाज करते हुए पूर्वी चीन सागर के विवादित द्वीपों को खरीद लिया है। जापान में इन्हें सेनकाकू और चीन में दिओयू के नाम से जाना जाता है। जापान के इस कदम से दोनों देशों में तनाव और बढ़ने की आशंका है।
इन द्वीपों पर अपना दावा मजबूत करने के लिए चीन ने अपने दो गश्ती जहाज भेजे हैं। उसने आरोप लगाया है कि जापान खतरे से खेल रहा है। जापान ने इस बात पर जोर दिया है कि उसने केवल शांतिपूर्ण इरादे से पूर्वी चीन सागर के तीन निर्जन द्वीपों को लगभग 2.6 करोड़ डॉलर में खरीदा है। अब तक जापान ने इन द्वीपों को एक जापानी परिवार से लीज पर ले रखा था। ये द्वीप इस परिवार के पास पिछली सदी के आठवें दशक से थे। जापान के विदेश मंत्री कोइचिरो गेंबा ने कैबिनेट बैठक में इस लेनदेन को मंजूरी दिए जाने के बाद कहा, ‘हम इस मुद्दे के कारण जापान और चीन के संबंधों को नुकसान नहीं पहुंचा सकते हैं।’

चीन की सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने कहा है कि दोनों चौकसी पोत देश की संप्रभुता सुनिश्चित कराने के लिए दियाओयू द्वीपों के आसपास पहुंच गए हैं। यह कदम तब उठाया गया है, जब कुछ घंटे पहले ही बीजिंग स्थित जापानी राजदूत को विदेश मंत्रालय में बुलाकर द्वीपों के इस समूह में से तीन द्वीपों को खरीदने के जापान के निर्णय पर आपत्ति दर्ज कराई गई। जापान सरकार ने कहा है कि इन द्वीपों पर जापानी तटरक्षकों का अधिकार होगा। चीनी प्रधानमंत्री वेन जियाबाओ ने कहा है कि ये द्वीप चीनी भूभाग के अभिन्न हिस्सा हैं, और उन्होंने संकल्प लिया है कि उनका देश अपनी संप्रभुता पर एक इंच पीछे नहीं हट सकता।

चीनी विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को कहा, चीन सरकार घोषणा करती है कि इन द्वीपों को खरीदने की कोशिश बिल्कुल अवैध है। बयान में कहा गया है, इससे जापान के अतिक्रमण और चीनी क्षेत्र पर उसके कब्जे तथा दियाओयू द्वीपों तथा उससे लगे टापुओं पर चीन की संप्रभुता के ऐतिहासिक तथ्य कभी नहीं बदले जा सकते। बयान में कहा गया है कि जापान की एकतरफा कार्रवाई के होने वाले किसी भी गंभीर परिणाम के लिए वह जिम्मेदार होगा।

पूर्व चीन सागर में स्थित इन विवादित द्वीपों पर ताईवान भी दावा करता है। ये द्वीप महत्वपूर्ण पोत-परिवहन मार्ग पर पड़ते हैं और उनके चारों ओर हाइड्रोकार्बन के विशाल भंडार हैं। दोनों एशियाई ताकतों के बीच मौजूदा तनाव अगस्त में उस समय शुरू हुआ है, जब चीन समर्थक कार्यकर्ता इनमें से एक द्वीप पर पहुंचे थे। जापानी अधिकारियों ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था और वापस चीन भेज दिया था। उसके कुछ ही दिनों बाद दर्जन भर जापानी नागरिकों ने उसी द्वीप पर जापानी ध्वज फहराया, जिसके प्रतिक्रियास्वरूप पूरे चीन में विरोध प्रदर्शन हुए।

  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

OMG! इंटरनेट पर धमाल मचा रही है ये महिला, असल उम्र पर नहीं होगा यकीन

  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

सलमान-शाहरुख से भी बड़ा सुपरस्टार है ये हीरो, सेल्फी लेने के लिए फैंस लगाते हैं लंबी लाइन

  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

जब भरी पार्टी में 16 साल छोटी अमृता को हीरो ने किया था किस, देखते रह गए थे सेलेब्रिटी

  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

प्रेम के मामले में परेशानियाें से भरा रहेगा सप्ताह का पहला दिन, ये 3 राशि वाले रहें संभलकर

  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

शेविंग के बाद भूलकर न लगाएं 'आफ्टरशेव', होगा ये नुकसान

  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

Most Read

मसूद अजहर पर बैन की राह में चीन ने फिर लगाया अड़ंगा!

China once again hints at blocking a UN ban on Pakistan-based JeM leader Masood Azhar
  • मंगलवार, 20 जून 2017
  • +

चीन ने माना पाकिस्तान में धार्मिक वजह से मारे गए उनके नागरिक

China says its 2 citizens killed in Pakistan may have violated local customs
  • शनिवार, 17 जून 2017
  • +

अच्छे-बुरे आतंक का रवैया छोड़े ब्रिक्स देश: भारत

Don’t differentiate between good and bad terrorists, says VK Singh
  • मंगलवार, 20 जून 2017
  • +

चीन की 'ग्रेट वॉल ऑफ चाइना' में सेलीब्रेट किया जाएगा इंटरनेशनल योगा डे

 China: celebrates 'International Yoga Day' at Great Wall of China
  • मंगलवार, 20 जून 2017
  • +

एनएसजी में भारत की सदस्यता की राह में चीन फिर अटकाएगा रोड़ा

 China says no change in stance over India's NSG bid
  • शनिवार, 17 जून 2017
  • +

भारत ने ब्रिक्स देशों के साथ की गहरे संबंधों की वकालत

india advocates deep relationship with brics count
  • मंगलवार, 20 जून 2017
  • +
Live-TV
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top