आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

राजस्थान

जापान ने खरीदा विवादित सेनकाकू द्वीप

बीजिंग/टोक्यो

Updated Fri, 14 Sep 2012 01:19 PM IST
japan buys disputed senkaku islands from private owner
जापान ने चीन की चेतावनी को नजरअंदाज करते हुए पूर्वी चीन सागर के विवादित द्वीपों को खरीद लिया है। जापान में इन्हें सेनकाकू और चीन में दिओयू के नाम से जाना जाता है। जापान के इस कदम से दोनों देशों में तनाव और बढ़ने की आशंका है।
इन द्वीपों पर अपना दावा मजबूत करने के लिए चीन ने अपने दो गश्ती जहाज भेजे हैं। उसने आरोप लगाया है कि जापान खतरे से खेल रहा है। जापान ने इस बात पर जोर दिया है कि उसने केवल शांतिपूर्ण इरादे से पूर्वी चीन सागर के तीन निर्जन द्वीपों को लगभग 2.6 करोड़ डॉलर में खरीदा है। अब तक जापान ने इन द्वीपों को एक जापानी परिवार से लीज पर ले रखा था। ये द्वीप इस परिवार के पास पिछली सदी के आठवें दशक से थे। जापान के विदेश मंत्री कोइचिरो गेंबा ने कैबिनेट बैठक में इस लेनदेन को मंजूरी दिए जाने के बाद कहा, ‘हम इस मुद्दे के कारण जापान और चीन के संबंधों को नुकसान नहीं पहुंचा सकते हैं।’

चीन की सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने कहा है कि दोनों चौकसी पोत देश की संप्रभुता सुनिश्चित कराने के लिए दियाओयू द्वीपों के आसपास पहुंच गए हैं। यह कदम तब उठाया गया है, जब कुछ घंटे पहले ही बीजिंग स्थित जापानी राजदूत को विदेश मंत्रालय में बुलाकर द्वीपों के इस समूह में से तीन द्वीपों को खरीदने के जापान के निर्णय पर आपत्ति दर्ज कराई गई। जापान सरकार ने कहा है कि इन द्वीपों पर जापानी तटरक्षकों का अधिकार होगा। चीनी प्रधानमंत्री वेन जियाबाओ ने कहा है कि ये द्वीप चीनी भूभाग के अभिन्न हिस्सा हैं, और उन्होंने संकल्प लिया है कि उनका देश अपनी संप्रभुता पर एक इंच पीछे नहीं हट सकता।

चीनी विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को कहा, चीन सरकार घोषणा करती है कि इन द्वीपों को खरीदने की कोशिश बिल्कुल अवैध है। बयान में कहा गया है, इससे जापान के अतिक्रमण और चीनी क्षेत्र पर उसके कब्जे तथा दियाओयू द्वीपों तथा उससे लगे टापुओं पर चीन की संप्रभुता के ऐतिहासिक तथ्य कभी नहीं बदले जा सकते। बयान में कहा गया है कि जापान की एकतरफा कार्रवाई के होने वाले किसी भी गंभीर परिणाम के लिए वह जिम्मेदार होगा।

पूर्व चीन सागर में स्थित इन विवादित द्वीपों पर ताईवान भी दावा करता है। ये द्वीप महत्वपूर्ण पोत-परिवहन मार्ग पर पड़ते हैं और उनके चारों ओर हाइड्रोकार्बन के विशाल भंडार हैं। दोनों एशियाई ताकतों के बीच मौजूदा तनाव अगस्त में उस समय शुरू हुआ है, जब चीन समर्थक कार्यकर्ता इनमें से एक द्वीप पर पहुंचे थे। जापानी अधिकारियों ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था और वापस चीन भेज दिया था। उसके कुछ ही दिनों बाद दर्जन भर जापानी नागरिकों ने उसी द्वीप पर जापानी ध्वज फहराया, जिसके प्रतिक्रियास्वरूप पूरे चीन में विरोध प्रदर्शन हुए।

  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

लगने वाली है इन 5 राश‌ियों को शन‌ि की नजर, इन उपयों से बचें

  • मंगलवार, 24 जनवरी 2017
  • +

फिल्मफेयर मैग्जीन पर दिखा दीपिका का 'कातिलाना' अंदाज, दिल थाम लीजिए जनाब!

  • मंगलवार, 24 जनवरी 2017
  • +

'ट्यूबलाइट' के सेट पर कौन है ये बच्चा, गले लगाकर रो पड़े सलमान खान

  • मंगलवार, 24 जनवरी 2017
  • +

कपिल शर्मा के शो में कुछ ऐसे करतब दिखाएंगे सुपरस्टार जैकी चैन

  • मंगलवार, 24 जनवरी 2017
  • +

हर किसी में होती हैं ये आदतें जो बना सकती हैं डिप्रेशन का शिकार

  • मंगलवार, 24 जनवरी 2017
  • +

Most Read

पाक स्टॉक एक्सचेंज में चीन भी हिस्सेदार, 40 फीसदी शेयर के समझौते पर हस्ताक्षर

 china made hold over pakistan stock exchange
  • रविवार, 22 जनवरी 2017
  • +

चीन ने खबरें प्रसारित करने का कारण बता बंद कीं 17 वेबसाइट

China shuts down 17 websites
  • रविवार, 22 जनवरी 2017
  • +

'अगर भारत विएतनाम को मिसाइल बेचेगा तो चुप नहीं बैठेगा चीन'

China not to sit idle if India sells missiles to Vietnam: Reports
  • बुधवार, 11 जनवरी 2017
  • +

सुअरों के बाड़े में 92 वर्षीय महिला को रखा, न खाना दिया न पानी

Elderly Chinese woman kept in pigsty
  • शुक्रवार, 13 जनवरी 2017
  • +

कर्ज में डूबा चीन, मंडरा रहे आर्थिक संकट के बादल

China in Debt Burden, It may lead crisis in the country
  • गुरुवार, 29 दिसंबर 2016
  • +

चीन ने तिब्बतियों पर 'कालचक्र पूजा' में हिस्सा लेने का दबाव डालने से किया इनकार

China denies pressuring Tibetans to abstain from Dalai Lama event 'Kalachakra'
  • शुक्रवार, 6 जनवरी 2017
  • +
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top