आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

चीन में अधिकारियों के रोजे रखने पर पाबंदी

Ashok Kumar

Ashok Kumar

Updated Sat, 11 Aug 2012 12:50 PM IST
China banned officers to observe roza
चीन ने शिनजियांग प्रांत में मुस्लिम अधिकारियों और छात्रों के रोजा रखने पर पाबंदी लगा दी है। सरकार ने इस आदेश को कई सरकारी वेबसाइटों पर जारी कर दिया है। आदेश में रमजान के महीने में मुस्लिम अधिकारियों और छात्रों को रोजा रखने और मस्जिद जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। गौरतलब है कि शिनजियांग प्रांत में लगभग 90 लाख तुर्की भाषी मुस्लिम रहते हैं। अल्पसंख्यक के रूप में मौजूद इस समुदाय के कई लोग चीन के नेताओं पर धार्मिक और राजनीतिक उत्पीड़न करने का आरोप लगाते रहे हैं।
शिनजियांग में अक्सर धार्मिक हिंसा की लपटें उठती रहती हैं, लेकिन चीन दमन के आरोपों से इनकार करता है। चीन की सरकार दसियों हजार उइगुर अधिकारियों की मदद से इस प्रांत का प्रशासन संभालती है। शिनजियांग के काशगार जिले के जोंगलाग इलाके से जारी एक बयान में कहा गया है, "राज्य परिषद ने रमजान के दौरान सामाजिक स्थिरता के लिए विस्तार से नीतियों का एलान किया है। कम्युनिस्ट पार्टी के कैडर, प्रशासनिक अधिकारियों (रिटायर हो चुके भी) और छात्रों के रमजान के दौरान धार्मिक गतिविधियों में शामिल होने पर रोक लगा दी गई है।"

यह बयान शिनजियांग की सरकारी वेबसाइट पर लगा है। इसमें पार्टी नेताओं से गांव के स्थानीय नेताओं के लिए खाने का "तोहफा" लाने को कहा गया है जिससे कि यह तय किया जा सके कि वो लोग रमजान के दौरान रोजा न रखते हुए खाना खा रहे हैं। रमजान में धार्मिक गतिविधियों को रोकने के आदेश स्थानीय प्रशासन की वेबसाइटों पर भी लगाए गए हैं। इसके साथ ही वेन्सू के सभी शिक्षण संस्थानों के दफ्तर में भी लगाए गए हैं। स्कूल और कॉलेज प्रशासन से साफ कहा गया है कि वो यह सुनिश्चित करें कि कोई भी छात्र रमजान के दौरान मस्जिद न जाए।

उइगुर लोगों के हक की बात करने वाले गुट वर्ल्ड उइगुर कांग्रेस ने चेतावनी दी है कि यह नीति, 'उइगुर लोगों पर और विरोध करने के लिए' दबाव बनाएगी। गुट के प्रवक्ता दिलशात रेक्सिट ने बयान में कहा है, "रमजान के दौरान रोजा रखने पर रोक लगा कर चीन प्रशासनिक तरीके का इस्तेमाल कर उइगुर लोगों को खाने पर विवश कर रहा है जिसके कि रोजा तोड़ा जा सके।" शिनजियांग ने हाल के वर्षों में सबसे भयानक हिंसा 2009 के जुलाई में देखी जब उइगुर समुदाय के लोगों ने देश के प्रभावशाली हान जाति के लोगों पर उरुमकी में हमला किया। सरकार के मुताबिक इस हिंसा में दोनों पक्षों के 200 लोग मारे गए।
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

सैमसंग ने लॉन्च किए दो नए फोन, जानिए क्या है S-8 और S-8 प्लस की खासियत

  • बुधवार, 29 मार्च 2017
  • +

जब डायरेक्टर ने अमिताभ से कहा, 'तुम्हें कहानी की समझ होती तो आज एक्टर नहीं डायरेक्टर होते'

  • बुधवार, 29 मार्च 2017
  • +

सैमसंग गैलेक्सी एस8 की बिक्री इंडिया की इस वेबसाइट पर शुरू, जानें कीमत

  • बुधवार, 29 मार्च 2017
  • +

इस 'भुतहा' बंगले में जो भी हीरो रहा वो बन गया सुपरस्टार, जानें पूरी कहानी

  • बुधवार, 29 मार्च 2017
  • +

करण जौहर के बच्चों की तस्वीरें आईं सामने

  • बुधवार, 29 मार्च 2017
  • +

Most Read

रेलवे सेक्टर से चीन को बाहर रखना भारत के हित में नहीं :चीनी अखबार

 Keeping China out of railways sector is bad for India: Global Times
  • मंगलवार, 28 मार्च 2017
  • +

पहली उड़ान भरने के लिए तैयार हुआ चीन का स्वदेशी जेट C919

China's C919 jet is technically ready for its first test flight
  • रविवार, 26 मार्च 2017
  • +

यूपी में बीजेपी की जीत से डर गया ड्रैगन

china afraid of BJP's victory in UP election, pm narendra Modi threat to China
  • गुरुवार, 16 मार्च 2017
  • +

UN में भारत के इस दांव पर चीन की बोलती बंद!

Another Big Initiative By India At UN Draws Lukewarm China Response
  • बुधवार, 15 मार्च 2017
  • +

चीन ने दी धमकी, नेपाल-श्रीलंका संबंधों में खामोश रहे भारत 

 China threatens to India silent in Nepal-Sri Lanka ties
  • बुधवार, 22 मार्च 2017
  • +

अब भाजपा में मोदी से कोई असहमति नहीं जता सकेगा : चीनी मीडिया

No disagreement with Modi in BJP now said Chinese media
  • सोमवार, 20 मार्च 2017
  • +
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top