आपका शहर Close

दिन दहाड़े जारी है अवैध खनन

Gorakhpur Bureau

Gorakhpur Bureau

Updated Fri, 15 Sep 2017 10:47 PM IST
सिद्धार्थनगर। न शासन की सख्ती का असर दिख रहा है और न ही एंटी माफिया स्क्वाड की सक्रियता। जिले में अवैध खनन पर अभी तक अंकुश नहीं लग सका है। लिहाजा जिम्मेदार बेखबर हैं। सूचना देने के बाद भी उनकी ओर से कोई ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे हैं। मुख्यालय के आसपास ही धड़ल्ले से हो रहे खनन को देखकर ग्रामीण क्षेत्रों की स्थिति का अंदाजा लगाया जा सकता है।
नगर से सटे भीमापार गांव में भी खनन का ऐसा ही हाल है। यहां रोजाना सुबह आधा दर्जन से अधिक ट्रैक्टर ट्राली लगाकर मिट्टी-बालू की ढुलाई का कार्य शुरू हो जाता है। गांव की कच्ची सड़क से मुख्य मार्ग तक ट्रैक्टर ट्राली पर लदे अवैध खनन के सामान की ढुलाई हो रही है, फिर भी किसी की नजर नहीं पड़ रही। गुरुवार की सुबह कई ट्रालियां अवैध ढंग से मिट्टी खनन करते हुए देखी गईं। ग्रामीणों ने सदर पुलिस को सूचना दी। पुलिस दो घंटे बाद हरकत में तब आई, जब मौके से खनन करने वाले ट्रैक्टर ट्राली लेकर चले गए थे। लकीर पीटती पुलिस खाली हाथ लौट आई।
बताते हैं कि अवैध खनन के इस कार्य में कई सफेदपोश व उनके करीबी लगे हैं। कुछ की पहुंच सत्ताधारी दल में भी है। लिहाजा पुलिस प्रशासन की शह पाकर वह खनन के अवैध काम में बेखौफ लगे हैं। अवैध खनन के बदले अफसरों को हिस्सा मिलता रहता है जिससे वह चुप्पी साधे रहते हैं। गांव निवासी शिवेंद्र पांडेय का कहना है कि यह पहली बार नहीं है, गांव में रोजाना खनन हो रहा है। हर बार सूचना देने के बावजूद घंटों बाद पुलिस प्रशासन के लोग हरकत में आते हैं। अवैध खनन को रोकना सरकार की प्राथमिकता में है। फिर भी अफसरों की शह पर यहां खनन का काम धड़ल्ले से चल रहा है। ऐसे में जिम्मेदारों की मंशा पर सवाल उठना लाजिमी है।
इस संबंध में एसओ डीके श्रीवास्तव का कहना था कि भीमापार गांव में अवैध खनन की सूचना मिली थी। पुलिस मौके पर अकेले नहीं पहुंच सकती इसलिए तहसीलदार को सूचित किया गया। तहसील टीम के साथ जब मौके पर पहुंची तो वहां कुछ नहीं मिला। अवैध खनन रोकने के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है। पुलिस पूरी तरह सतर्क है।

ट्रैक्टर ट्राली से जा चुकी है मासूम की जान
अवैध खनन की मिट्टी-बालू लदे ट्रैक्टर ट्रालियां सिर्फ सरकारी राजस्व को चूना ही नहीं लगा रही, बल्कि निरीह लोगों को मौत की नींद भी सुला रही हैं। करीब एक साल पहले भीमापार में ही अवैध मिट्टी लदी ट्रैक्टर ट्राली की चपेट में आने से गांव के ही एक मासूम की मौत हो गई थी। छानबीन के दौरान ट्रैक्टर गांव के ही एक प्रभावशाली व्यक्ति की पाई गई। नतीजा कार्रवाई की बजाय पुलिस खुद मामले को निपटाने में जुट गई थी। अंत में सुलह-समझौते के आधार पर मामला खत्म कर दिया गया। हरी झंडी मिलने के बाद ट्रैक्टर मालिक फिर से इसी काम में जुट गए हैं।
Comments

Browse By Tags

स्पॉटलाइट

इंटरव्यू के जरिए 10वीं पास के लिए CSIO में नौकरी, 40 हजार सैलरी

  • शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2017
  • +

'दीपिका पादुकोण के ट्वीट के बाद एक्शन में आई पुलिस, 5 आरोपियों को किया गिरफ्तार

  • शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2017
  • +

पोती आराध्या संग दिवाली पर कुछ ऐसे दिखाई दिए बिग बी, देखें PHOTOS

  • शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2017
  • +

दिवाली पर पटाखे छोड़ने के बाद हाथों को धोना न भूलें, हो सकते हैं गंभीर रोग

  • शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2017
  • +

...जब बर्थडे पर फटेहाल दिखे थे बॉबी देओल तो सनी ने जबरन कटवाया था केक

  • गुरुवार, 19 अक्टूबर 2017
  • +

Most Read

लखनऊ में रॉकेट से लगी आग, जिंदा जल गया युवक

fire because of crackers in Lucknow.
  • शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2017
  • +

दिवाली पर बुझे दो घरों के चिराग, गम में बदली खुशियां

road accident in ajmer, two died
  • शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2017
  • +

पास में सो रहे बेटे की खून से लथपथ लाश देखकर मां के होश उड़े, ‘लड़की की मिसकॉल’ खोल सकती है राज

young man shot dead in kanpur
  • रविवार, 15 अक्टूबर 2017
  • +

पटाखे से बिदकी गाय ने पलटाई डायल 100, पुलिस पर पथराव के बाद मारपीट और तोड़फोड़

attack on police team in kanpur dehat
  • शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2017
  • +

छात्रा से अश्लीलता करते रंगेहाथ पकड़ा गया था प्रधानाध्यापक, अब हुई बड़ी कार्रवाई 

principals was caught during obscenity
  • शनिवार, 14 अक्टूबर 2017
  • +

दीवाली की शाम गोली मारकर शिक्षक की हत्या

murder teacher
  • गुरुवार, 19 अक्टूबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!