आपका शहर Close

शहर, देहात में बिजली के लिए हाहाकार

Siddhartha nagar

Updated Mon, 16 Jul 2012 12:00 PM IST
सिद्धार्थनगर। शासन की लाख कोशिशों के बावजूद भी जिले की बिजली व्यवस्था बदहाल है। जनपद में नये शेड्यूल के अनुसार दिन में 10 से तीन बजे और रात में 10 से चार बजे तक बिजली आपूर्ति का समय निर्धारित है, लेकिन लोगों को महज आठ से नौ घंटे ही बिजली मिल रही है। उमस भरी गर्मी में लोगों को रात जागकर गुजारनी पड़ रही है। दूसरी ओर विभाग इस पर चुप्पी साधे है।
इनसेट
इमरजेंसी कटौती, जी का जंजाल
निर्धारित समय में लोगों को बिजली नहीं मिल रही है तो इसके पीछे इमरजेंसी कटौती है। मुख्यालय पर तीन शिफ्टों में कुल 17 घंटे बिजली आपूर्ति का शेड्यूल लागू है, जिसमें सुबह पांच से 11 बजे तक, शाम तीन से रात 10 बजे तक और रात 12 बजे से सुबह चार बजे तक बिजली मिलनी है, लेकिन घंटों इमरजेंसी कटौती से दिन में बिजली शाम चार बजे के बाद आती है और फिर रात आठ बजे ही गुल हो जाती है। फिर पूरी रात गायब रहती है। वहीं उसका बाजार, शोहरतगढ़, बढ़नी, बांसी, इटवा आदि क्षेत्रों में सुबह 10 बजे से शाम तीन बजे तक और रात 10 बजे से लेकर सुबह चार बजे तक कुल 11 घंटे बिजली आपूर्ति का दावा है, लेकिन यहां महज चार से पांच घंटे ही बिजली मिल रही है।
इनसेट
ग्रामीण क्षेत्राें में बिजली संकट
ग्रामीण क्षेत्र के लोग इस समय बिजली की जबरदस्त किल्लत से जूझ रहे हैं। बढ़नी ब्लाक के उपभोक्ताओं को तीन से चार घंटे बिजली मिल रही है। यहां के सैकड़ों गांवों में बिजली खजुरिया फीडर से दी जाती है। लोगों का आरोप है कि यहां तैनात अधिकारियों की मनमानी से लोगों को भीषण कटौती से जूझना पड़ रहा है। इसी प्रकार बांसी में भी तय शेड्यूल की बिजली न मिलने के कारण लोगों का हाल बेहाल है। नगर पालिका क्षेत्र होने के बावजूद भी यहां के लोग बिजली का संकट झेल रहे हैं। आसपास के ग्रामीण इलाकों में बिजली कई दिनों तक गुल रहती है। इटवा क्षेत्र में बिजली आने का कोई समय नहीं है। दिन में अथवा रात में तीन चार घंटे ही लोगों को बिजली मिल रही है। इससे लोगों को काफी असुविधा हो रही है। इसके अलावा उसका बाजार, लोटन, सिकरी, मोहाना, बर्डपुर, कपिलवस्तु के लोग भी बिजली संकट से जूझ रहे हैं।
इनसेट
जर्जर तार बने हैं बाधक
जिला मुख्यालय सहित ग्रामीण अंचलों में बिजली रहने के बाद भी लोगों को बिजली नहीं मिलती है। इसके लिए जर्जर तार जिम्मेदार हैं। इसकी वजह से लोकल फाल्ट लगातार बना रहता है। मुख्यालय के अधिकांश वार्डों में जर्जर तारों के वजह से लोगों को काफी परेशानी होती है। तेज हवा से ये अक्सर टूट कर गिरते रहते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में जर्जर तारों के साथ ट्रांसफार्मरों के जलने से भी कई गांव हफ्तों बिजली से वंचित रहते हैं। सिकरी मोहाना और लोटन क्षेत्र में कई ऐसे गांव हैं जहां का ट्रांसफार्मर लंबे समय से जले हैं, लेकिन विभाग की उदासीनता के कारण बदला नहीं जा सके हैं। इटवा, बिस्कोहर क्षेत्र के लोगों की मानें तो उनके यहां जर्जर पुराने तारों के सहारे बिजली दी जाती है, जिससे हमेशा फाल्ट की संभावना बनी रहती है। एक बार फाल्ट सही करवाने में लोगों को चार से पांच सौ रुपये तक चंदा देना पड़ता है। तब विभाग के लाइनमैन गांव में दर्शन देते हैं।
इनसेट
पावर हाउस में विधायक ने ली क्लास
बिजली की समस्याओं को देखते हुए कपिलवस्तु विधायक विजय पासवान ने रविवार सुबह 10:30 बजे पावर हाउस पहुंचकर वहां ट्रांसफार्मरों की उपलब्धता का निरीक्षण किया। वर्कशाप में पहुंचकर वहां चल रही रिपेयरिंग को भी देखा। विधायक ने बताया कि दो दिन पूर्व बिजली विभाग के लोगों ने एक गांव का ट्रांसफार्मर बदलने की बात पर ट्रांसफार्मर न होने का बहाना बनाया, लेकिन आज यहां 25 केवी के 30-35 ट्रांसफार्मर उपलब्ध हैं। विभाग उदासीनता बरत रहा है। हिदायत दी गई है।
इनसेट
ट्रांसफार्मर जलने पर आंदोलन की तैयारी
शोहरतगढ़ प्रतिनिधि के अनुसार सोनाड़ी मोहल्ले में लगा ट्रांसफार्मर दो दिन पहले जल गया। लोगों को बिजली नहीं मिल रही है। बिजली को लेकर शोहरतगढ़ में हाहाकार मचा है, लेकिन विभाग चुप्पी साधे है। विभाग की उदासीनता से लोगों में आक्रोश व्याप्त है। हिंदू युवा वाहिनी देवी पाटन मंडल के प्रभारी सुभाष गुप्ता ने कहा है कि अगर 24 घंटे के अंदर ट्रांसफार्मर नहीं बदला गया तो हिंदू युवा वाहिनी आंदोलन प्रारंभ करेगी।

Comments

स्पॉटलाइट

सांस की बदबू दूर होने के साथ मोती जैसे चमकेंगे दांत, इस जादुई नुस्खे को आजमाकर तो देखिए

  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

इतना बुरा गाकर भी लाखों कमाती हैं ढिंचैक पूजा, बिग बॉस के लिए भी ली सबसे ज्यादा फीस

  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

चंद दिनों में होगी बैक फैट की छुट्टी, बस करनी होगी ये आसान एक्सरसाइज

  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

साथी को नहीं रोमांस में दिलचस्पी तो हो सकती है ये मुख्‍य वजह

  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

6000 लड़कियों ने 'बाहुबली' को शादी के लिए किया था प्रपोज, सबको ठुकरा थामा इस हीरोइन का हाथ

  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

Most Read

ऐसी सजा देंगे कि पीढ़ियां भूल जाएंगी नौकरी करनाः सीएम योगी

Give punishment that generations will forgetto do job
  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

राहुल के पैराशूट से ठियोग में उतरे राठौर, इनकी कहानी है रोचक

himachal assembly election 2017 theog seat deepak rathore
  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

छात्र नेता ने सीएम को बोले अपशब्द, अखिलेश बोले, मैं उसके शब्द वापस लेता हूं

ex cm akhilesh yadav press conference in lucknow
  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

इस सीट से चुनाव लड़ेंगे सीएम वीरभद्र के बेटे विक्रमादित्य, हाईकमान ने दी हरी झंडी

himachal assembly election 2017 Vikramaditya Singh to file nomination from shimla rural seat
  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

पार्टी हाईकमान से नाराजगी, भाजपा में इस्तीफों की लग गई झड़ी

Hamirpur bjp mandal president resign
  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

अब बंद कमरों से बाहर आ गई भाजपा की बगावत, नहीं थम रहे बागी सुर

himachal assembly election 2017 rebellion in bjp
  • रविवार, 22 अक्टूबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!