आपका शहर Close

चकबंदी विभाग में फर्जीवाड़ा, डेढ़ बीघा जमीन की विरासत दूसरे के नाम की

Moradabad  Bureau

Moradabad Bureau

Updated Sun, 22 Oct 2017 11:47 PM IST
चकबंदी अफसरों ने फर्जीवाड़ा कर दूसरे के नाम कर दी जमीन
- सहखातेदार को भनक लगने पर खुला मामला डेढ़ बीघा जमीन दूसरे के नाम होने का मामला
- तत्कालीन चकबंदी अधिकारी ने शपथपत्र के आधार दर्ज की विरासत
- पचास साल पहले मर चुके किसान के नाम कर दी 25 साल पहले खरीदी जमीन की वसीयत
अमर उजाला ब्यूरो
संभल/बबराला।
गुन्नौर क्षेत्र में मृतक किसान की डेढ़ बीघा जमीन को नकबंदी अफसरों ने फर्जी तरीके से दूसरे गांव के किसान के नाम कर दिया। आरोप है कि तत्कालीन चकबंदी अधिकारी ने ऐसे लोगों के नाम विरासत कर दी, जोकि मृतक के वारिस नहीं थे। अब मामला खुलने पर इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से की गई है। विभाग की आंतरिक जांच में आरोप सही पाया गया है।
क्षेत्र के गांव उदरनपुर अजमतनगर में चकबंदी चल रही है। क्षेत्र के गांव कल्हा के ज्ञानचंद्र पुत्र शिवलाल ने बताया कि उनके चचेरे भाई खमानी पुत्र मंगलसैन ने उदरनपुर अजमतनगर में वर्ष 1992 में गांव भागनगर के रहने वाले प्यारेलाल से डेढ़ बीघा जमीन खरीदी थी। इसके कुछ समय बाद भाई की मृत्यु हो गई। अब वर्तमान में गांव में चकबंदी प्रक्रिया अंतिम चरण में चल रही है, तो भाई की जमीन का दावेदार भतीजों को मानकर हमे मिलनी चाहिए थी। भाई की जमीन को पाने के लिए उन्होंने खाते को देखा तो उनके होश उड़ गए। जांच में पता कि केवल शपथपत्र के आधार पर फर्जीवाड़ा किया गया है। तत्कालीन चकबंदी अधिकारी रमजान वख्श ने ऐसे लोगों के नाम विरासत दर्ज कर दी, जोकि दूूसरे गांव का रहने वाला है। विरासत हेतु ग्राव प्रधान को भी नहीं पूंछा गया और न ही वारिस के ठोस सबूत जुटाए गए। केवल वारिशान ने अपना हक जताते हुए शपथ पत्र दिया, जिसके आधार पर विरासत कर दी। जिस किसान के नाम फर्जी विरासत की गई उसकी मृत्यु पचास साल पहले हो चुकी है, जबकि बैनामा करीब पच्चीस साल पहले हुआ है। इसकी शिकायत चकबंदी के उच्चाधिकारियों से की गई। शिकायतकर्ता ने इस प्रकरण को उच्च न्यायालय व शासन स्तर पर उठाने की बात कही है।
....
जिस जमीन की दूसरे नाम विरासत हुई है, उसकी मृत्यु करीब पचास वर्ष पूर्व हो चुकी है। जबकि हमारे भाई ने पच्चीस वर्ष पहले जमीन खरीदी थी। इस फर्जीवाड़े की शिकायत हमने अभी मुख्यमंत्री से की है। अगर जरूरत पड़ी को हाईकोर्ट भी जाएंगे। - ज्ञानचंद्र पुत्र शिवलाल।
...
हमने मुकदमे की सुनवाई करते हुए गवाहों व सबूतों का पूरा ध्यान रखा है। प्रकरण का फैसला शपथपत्र के आधार पर किया गया है। वारिस होने का दावा करते हुए शपथपत्र दिए गए थे। अगर शपथपत्र गलत है तो अदालत से धोखाधड़ी के आरोप में एफआईआर होनी चाहिए। अगर निर्णय से किसी को आपत्ति है तो न्यायालय में वाद दायर कर खारिज कराया जा सकता है।- रमजान वख्श, तत्कालीन चकबंदी अधिकारी, गुन्नौर।
Comments

Browse By Tags

स्पॉटलाइट

सिर्फ क्रिकेटर्स से रोमांस ही नहीं, अनुष्का-साक्षी में एक और चीज है कॉमन, सबूत हैं ये तस्वीरें

  • गुरुवार, 23 नवंबर 2017
  • +

पहली बार सामने आईं अर्शी की मां, बेटी के झूठ का पर्दाफाश कर खोल दी करतूतें

  • गुरुवार, 23 नवंबर 2017
  • +

धोनी की एक्स गर्लफ्रेंड राय लक्ष्‍मी का इंटीमेट सीन लीक, देखकर खुद भी रह गईं हैरान

  • गुरुवार, 23 नवंबर 2017
  • +

बेगम करीना छोटे नवाब को पहनाती हैं लाखों के कपड़े, जरा इस डंगरी की कीमत भी जान लें

  • बुधवार, 22 नवंबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: फिजिकल होने के बारे में प्रियांक ने किया बड़ा खुलासा, बेनाफशा का झूठ आ गया सामने

  • बुधवार, 22 नवंबर 2017
  • +

Most Read

मोदी-योगी समेत आठ भाजपा नेता आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के निशाने पर

BJP leaders on target of terrorists.
  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +

बहू की आपत्तिजनक फोटो दिखाकर उसकी छोटी बहन को किया ब्लैकमेल, 8 महीने से बना रहा संबंध

Fifty three year old man raped with daugter in laws sister in Ambernath of Maharashtra
  • सोमवार, 20 नवंबर 2017
  • +

दिल्लीः मेट्रो स्टेशन के पास एनकाउंटर, 25-30 राउंड फायर‌िंग के बाद 5 ग‌िरफ्तार

5 people apprehended in a shootout with Delhi and Punjab police at Dwarka Mor Metro Pillar 768
  • मंगलवार, 21 नवंबर 2017
  • +

युवती को जंगल ले जाकर की दरिंदगी की सारी हदें पार, बदहवास हालत में घर पहुंचकर सुनाई आपबीती

gangrape in nainital uttarakhand
  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

दर्दनाक हादसे ने ली 3 भारतीय जवानों की जान, ऐसे आई मौत

three soldiers death in road accident
  • गुरुवार, 23 नवंबर 2017
  • +

आखिर शादी के अगले दिन क्यूं छत से कूदी नई नवेली दुल्हन

as the gas cylinder blasted newly wedded bride jumped from the terrace
  • सोमवार, 20 नवंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!