आपका शहर Close

नहीं मिली पेंशन, लाइन में लगी वृद्धा की गई जान

अमर उजाला ब्‍यूूराे प्रतापगढ़

Updated Fri, 02 Dec 2016 12:12 AM IST
old women died foe pention

न्‍यूूज


भारतीय स्टेट बैंक में गुरुवार को पेंशन की रकम निकालने के लिए आई एक वृद्धा की मौत हो गई। घंटों से लाइन में खड़ी वृद्धा 15,000 रुपये की मांग रही थी, मगर कैशियर दो हजार से अधिक देने को तैयार नहीं था। आखिरकार वृद्धा की मौत होते ही कैशियर ने उसके बेटे को पंद्रह हजार रुपये का भुगतान कर दिया। वृद्धा की मौत से बैंक परिसर में अफरा-तफरी मच गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसका शव जिला अस्पताल भेजवाया।

गुरुवार को एसबीआई की मुख्य शाखा में कोहंड़ौर इलाके के मंगापुर (हथसारा) गांव निवासी करमैता देवी (80) अपने बड़े बेटे रामकिशोर और बहू बिकना के साथ पेंशन के रुपये निकालने आई थी। करमैता ने पंद्रह हजार रुपये के लिए फार्म भरा था। काउंटर पर बैठा कैशियर उसे पंद्रह की बजाए सिर्फ दो हजार रुपये दे रहा था। करमैता और उसका बेटा रामकिशोर कैशियर से विनती करते रहे कि इलाज के लिए पंद्रह हजार रुपये चाहिए, मगर वह अपनी बात पर अड़ा रहा। इस बीच लाइन में खड़ी करमैता को अचानक चक्कर आया और वह गिर पड़ी। बेटा रामकिशोर जब तक उसे उठाता तब तक उसके प्राण पखेरू उड़ चुके थे। वृद्धा की मौत के बाद बैंक में हड़कंप मच गया। कैशियर ने तत्काल उसके बेटे को 15,000 हजार रुपये दे दिए। घटना की जानकारी मिलते ही आनन-फानन में सीओ सिटी, प्रभारी नगर कोतवाल समेत फोर्स मौके पर पहुंच गई। पुलिस वृद्धा के शव को जिला अस्पताल ले गई। देर शाम पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को शव सौंप दिया गया।

मर के दिखाओ तो दूं पंद्रह हजार रुपये
मर के दिखाओ, तो दूं पंद्रह हजार रुपये.....। यह शब्द गुरुवार को काउंटर पर बैठे कैशियर के थे। एसबीआई की मुख्यशाखा में घंटे भर से लाइन में खड़ी करमैता और उसके बेटा रामकिशोर पेंशन के रुपये के लिए गिड़गिड़ाते रहे, मगर कैशियर ने एक न सुनी।
कोहंड़ौर इलाके के मंगापुर (हथसारा) गांव निवासी करमैता देवी (80) के पति रामप्रसाद रेलवे से रिटायर होने बाद वर्ष 2003 दुनिया में छोड़ गए। करमैता देवी का बड़ा बेटा रामकिशोर गांव में जबकि छोटा बेटा कांधरपुर बाजार में घर बनवाकर रहता है। गुरुवार को करमैता देवी अपने बडे़ बेटे रामकिशोर और बहू बिकना के साथ एसबीआई की मुख्य शाखा में पेंशन लेने आई हुईं थीं।  बीमार चल रही करमैता रुपये नहीं होने के कारण इलाज नहीं करा पा रही थी। 30 नवंबर की रात खाते में पेंशन आते ही गुररुवार को वह बैंक पहुंच गईं, मगर कैशियर दो हजार  से अधिक रकम देने को तैयार नहीं था। जब वृद्धा बोली कि साहब रुपये नहीं देंगे तो हम इलाज के अभाव में मर जाएंगे, तो कैशियर ने कहा कि पहले मर के दिखाओ, बाद में देंगे पंद्रह हजार रुपये। अब नियति का खेल देखिए, इसके कुछ देर बाद ही उसकी मौत हो गई।
Comments

Browse By Tags

news

स्पॉटलाइट

दिवाली 2017: इस त्योहार घर को सजाएं रंगोली के इन बेस्ट 5 डिजाइन के साथ

  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

पुरुषों में शारीरिक कमजोरी दूर करती है ये सब्जी,जानें इसके दूसरे फायदे

  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

वायरल हो रहा है वाणी कपूर का ये हॉट डांस वीडियो, कटरीना कैफ को होगी जलन

  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

KBC 9: हॉटसीट पर फैंस को एक खबर देते हुए इतने भावुक हुए अमिताभ, निकले आंसू

  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

बढ़ती उम्र के साथ रोमांस क्यों कम कर देती हैं महिलाएं, रिसर्च में खुलासा

  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

Most Read

लुधियानाः RSS कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या, सीसीटीवी में कैद हुए कातिल

RSS leader Ravinder Gosai shot dead in Ludhiana Kailash Nagar
  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

पास में सो रहे बेटे की खून से लथपथ लाश देखकर मां के होश उड़े, ‘लड़की की मिसकॉल’ खोल सकती है राज

young man shot dead in kanpur
  • रविवार, 15 अक्टूबर 2017
  • +

छात्रा से अश्लीलता करते रंगेहाथ पकड़ा गया था प्रधानाध्यापक, अब हुई बड़ी कार्रवाई 

principals was caught during obscenity
  • शनिवार, 14 अक्टूबर 2017
  • +

ट्रेन में बेटिकट पकड़ा गया दरोगा, मजिस्ट्रेट के सामने कहने लगा ये

sub inspector in agra found without ticket in taj express
  • सोमवार, 16 अक्टूबर 2017
  • +

दिल्ली: तीन दिन से लापता था युवक, फ्रिज में टुकड़ों में मिला शव

Man missing for last three days found murdered, body chopped in pieces recovered from fridge
  • रविवार, 15 अक्टूबर 2017
  • +

यूपी के बलिया में सांप्रदायिक तनाव, पथराव और आगजनी, कई घायल

communial clash break out in ballia
  • बुधवार, 11 अक्टूबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!