आपका शहर Close

जिला प्रशासन है जलभराव का जिम्मेदार!

Farrukhabad

Updated Thu, 05 Jul 2012 12:00 PM IST
फर्रुखाबाद। चौथे दिन भी नाले के प्रकोप से तलैया फजल इमाम के बाशिंदों को राहत नहीं मिल सकी है। तीन दिनों से घरों में कैद लोग मजबूरीवश आज गंदे पानी के बीच ही हाटबाजार करने को निकले। हालात यह बने हुए हैं कि मोहल्ले में बनी मस्जिद में नमाज अदा करने के लिए नमाजियों को साइकिल से जाना पड़ रहा है। यहां के बाशिंदे इस नारकीय स्थिति का जिम्मेदार जिला प्रशासन को ठहरा रहे हैं। उनका साफ कहना है कि यह हाल आज का नहीं है। हमारे मोहल्ले के एक हिस्से में तो कई सालों से बारहों जलभराव की स्थिति रहती है। इस समस्या से निजात दिलाने की आज तक न तो पालिका व जिला प्रशासन और न ही किसी जनप्रतिनिधि ने सुध ली है। दर्जनों शिकायती पत्र रद्दी की टोकरी में डाल दिए गए।
दोपहर करीब 11.40 बजे तलैया फजल इमाम मोहल्ले में सब्जी विक्रेता रामनाथ बाथम निवासी हैवतपुर गढ़िया गंदे नाले के पानी के बीच मोहल्ले की ही एक महिला को सब्जी दे रहा था। इसी बीच गली से कुछ दूरी पर ही दूसरी महिला ने आवाज लगाई तो सब्जी विक्रेता बोला कि वह इस नरक से आगे नहीं आ सकता है। इस पर महिला खुद ही गंदे पानी के बीच होती हुई सब्जी विक्रेता के बीच पहुंची और सब्जी खरीदी। पूछने पर महिला रन्नो देवी ने कहा कि तीन दिन से गंदा पानी भरा होने के कारण बाजार सब्जी लेने तक नहीं जा पा रही हैं। इसी बीच मोहल्ले में बनी मस्जिद में सल्लन मिस्त्री, लईक, रसीद, लियाकत साइकिल से नमाज पढ़ने आए। पूछने पर बताते हैं कि वैसे तो मोहल्ले में जलभराव की समस्या कोई नई नहीं है। लेकिन अबकी बार मस्जिद के आसपास भी काफी जलभराव हो गया है। पैदल नमाज अदा करना संभव नहीं है। इसलिए साइकिल से आए हैं। इसी दौरान मस्जिद से 50 मीटर की दूरी से पेट्रोल पंप स्वामी नाजिम शमसी, माज शमसी कार से नमाज पढ़ने के लिए उतरे। उन्होंने बताया कि उनके घर के पास तो 12 महीनों जलभराव रहता है। कई बार लिखित शिकायत जिला प्रशासन और जनप्रतिनिधियों से कर चुके हैं लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया गया। मस्जिद के मौलाना हाफिज सादिक ने कहा कि पिछले साल जिला प्रशासन जलभराव की समस्या से अवगत कराया था। अगर समय रहते नाले की सफाई करा दी जाती तो आज यह स्थिति न होती। अतीक शमसी ने कहा कि हर महीने नाला चोक होता है। स्थिति यह है कि मोहल्ले के अधिकतर लोग छतों पर भोजन बना रहे हैं। इसी बीच रामप्रकाश आए और खीझ उतारते हुए बोले कि नेतऊ वोट मांगन तो आए जात, अब कोई नाही दिखाई पड़ रहो है। सतीश ने कहा कि रोजमर्रा की वस्तुओं को खरीदने के लिए भी मुश्किल उठानी पड़ रही है। मोहल्लों में स्थित परचून दुकानदार मोबाइल करने पर मानवता के नाते सौदा देने जलभराव में फंसे लोगों के घरों तक चले आते हैं। सुधीर ने अपने घर का नजारा दिखाते हुए कहा कि भीषण गर्मी में छत पर ही लेट-बैठ रहे हैं। भोजन भी छत पर ही बनता है। शौचालय, लघुशंका करने में घर की महिलाओं को काफी दिक्कत होती है। रफीक ने कहा कि बच्चे तो खेलने के लिए तरस गए हैं। उनके घर में छोटे बच्चे हैं, जिनका विशेष ख्याल रखना पड़ता है कि कहीं वह नाले में न गिर जाएं। पूर्व सभासद श्यामसुंदर लल्ला का कहना है कि तीन महीने पहले ईओ को अवगत कराया था कि नाला हर बार चोक हो जाता है। लिखित शिकायत भी की थी कि डा. विमल वाली गली और अतीक शमसी के पीछे का नाला की सफाई कराई जाए। पिछली साल पूर्व चेयरमैन मनोज अग्रवाल ने आकर आश्वासन दिया था कि चाहें जितना भी रुपया खर्च हो जाए लेकिन नाले की सफाई होगी। लेकिन किया कुछ भी नहीं।

Comments

Browse By Tags

district administration

स्पॉटलाइट

चंद दिनों में बालों को घना काला करता है लहसुन का ये चमत्कारी पेस्ट

  • सोमवार, 16 अक्टूबर 2017
  • +

Dhanteras 2017: इन चीजों को खरीदने में दिखाएंगे जल्दबाजी तो होगा नुकसान, जानें कैसे

  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

पकड़ने गए थे मछली, व्हेल ने कुछ ऐसा उगला मछुआरे बन गए करोड़पति

  • सोमवार, 16 अक्टूबर 2017
  • +

इस दीपावली घर का रंग-रोगन हो कुछ ऐसा कि दीवारें भी बोल उठें 'हैप्पी दिवाली'

  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

कहीं मजाक करते समय अपने पार्टनर का दिल तो नहीं तोड़ रहे आप?

  • सोमवार, 16 अक्टूबर 2017
  • +

Most Read

पार्टी हाईकमान से नाराजगी, भाजपा में इस्तीफों की लग गई झड़ी

Hamirpur bjp mandal president resign
  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

टिकट मिले न मिले, पांच बार विधायक रहे ये जनाब तो लड़ेंगे चुनाव

himachal assembly election 2017 rikhi ram kaundal to contest polls
  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

जब बदमाशों को पकड़ने के लिए AK-47 लेकर कीचड़ में दौड़े SSP

to caught goons in ranchi ssp of police jumped into mud with Ak-47 
  • सोमवार, 16 अक्टूबर 2017
  • +

टिकट कटने की अटकलों के बीच फूट-फूटकर रो पड़े पूर्व मंत्री किशन कपूर

himachal assembly election 2017 kishan kapoor get emotional
  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

गुरदासपुर में हार पर भाजपा पर बरसे शत्रुघ्न सिन्हा, पार्टी को दिखाया आईना

Shatrughan Sinha slams BJP after defeat in Gurdaspur Lok Sabha By Election
  • सोमवार, 16 अक्टूबर 2017
  • +

चिंतपूर्णी से इस पूर्व विधायक को मिला टिकट, ढोल नगाड़ों के साथ जश्न

himachal assembly election 2017 bjp chintpurni ticket to balbir chaudhary
  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!