आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

आगरा से पकड़ी गई जाली करेंसी की महिला सप्लायर 

आगरा से पकड़ी गई जाली करेंसी की महिला सप्लायर 

Updated Fri, 17 Feb 2017 12:33 AM IST
karanci

आगरा से पकड़ी गई जाली करेंसी की महिला सप्लायर PC: अमर उजाला ब्यूरो


एत्माद्दौला के सुशील नगर की मस्जिद वाली गली में रहने वाले शेर अली की पत्नी फातिमा उर्फ लीची (41) को गुरुवार सुबह जाली करेंसी की सप्लाई के संगीन आरोप में गिरफ्तार कर लिया। नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) की कोलकाता ब्रांच और एंटी टेरेरिस्ट स्कवैड (एटीएस) की आगरा इकाई ने उसे उसके घर से पकड़ा है। वह जाली करेंसी को सब्जी मंडी में खपाती थी। इसके अलावा अन्य सप्लायरों के पास इसकी खेप भी पहुंचाती थी। उससे पूछताछ के बाद कई और लोग पकड़े जा सकते हैं।
लीची का मायका बांग्लादेश के चापई नवाबगंज जिले के शिवगंज में है। उसके पड़ोसी अनवार उल इस्लाम (50) को 18 जनवरी 2016 को बांग्लादेश बार्डर पार करते समय पश्चिम बंगाल पुलिस ने दो लाख की जाली करेंसी के साथ पकड़ा था। उससे पूछताछ में ही लीची का नाम सामने आया था। 25 फरवरी को यह केस एनआईए के सुपुर्द कर दिया गया। अनवार उल की गिरफ्तारी के बाद जाली करेंसी की सप्लाई का काम नवाबगंज के अपल शेख उर्फ एप्पल ने संभाल लिया। भारत सरकार के कहने पर शेख को बांग्लादेश पुलिस ने दस दिन पहले आठ फरवरी को गिरफ्तार किया है। वह ढाका जेल में बंद है। इसके बाद एनआईए की कोलकाता शाखा के डिप्टी एसपी कंचन मित्रा से मिले इनपुट पर आगरा एटीएस के इंस्पेक्टर आलोक कुमार ने फातिमा के बारे में जानकारी की। उसके फोटो और वीडियो भेजे। एनआईए ने अनवार को इन्हें दिखाया। उसने फोटो फातिमा के बताए। इसके बाद गुरुवार सुबह एनआईए और एटीएस की टीम ने फातिमा को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। उसके पास बंद किए जा चुके 1000-1000 के दो नोट मिले। यह गिरोह नोटबंदी के बाद नई करेंसी नहीं छाप पाया था। फातिमा सब्जी बेचती है। वह जाली करेंसी को सब्जी मंडी में खपाती थी। उसे 2700 रुपये असली के बदले एक हजार के दस नकली नोट मिलते थे।

खाते में मिले तीन लाख
आगरा। लीची का खाता एत्माद्दौला क्षेत्र की एक बैंक शाखा में है। इसमें तीन लाख रुपये जमा मिले हैं। इसके अलावा 50 हजार, 30 हजार, एक लाख रुपये जमा किए जाने के वाउचर उसके पास मिले हैं। खाते से हर महीने लाखों का ट्रांजेक्शन हुआ है।
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

कान के दर्द से चुटकी में राहत दिलवाएंगे ये कुछ उपाय, आजमाकर तो देखिए

  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

ऑफिस में अगर चल रहा है आपका रोमांस, तो न करें ये हरकतें वरना...

  • शुक्रवार, 23 जून 2017
  • +

इसी 'हीरोइन के प्यार में' सलमान का हो गया था 'ऐसा हाल', एक ही फिल्म से रातोंरात बन गई थी स्टार

  • गुरुवार, 22 जून 2017
  • +

पटौदी खानदान की इस बेटी के बारे में नहीं जानते होंगे, संभालती है 2700 करोड़ की विरासत

  • गुरुवार, 22 जून 2017
  • +

पति से भी ज्यादा अमीर हैं बॉबी देओल की पत्नी, फर्नीचर का बिजनेस कर बनी करोड़पति

  • गुरुवार, 22 जून 2017
  • +

Most Read

व्हाट्सएप पर चै‌टिंग से रोका तो पति पर किए हंसिए से वार

woman attacked on her husband after denial chat on whatsapp
  • सोमवार, 12 जून 2017
  • +

पूर्वांचल के 'यादव सिंह' का खेल, ड्राइवर होटल का मालिक, बेटा नौकर

Purvanchal 'Yadav Singh' RS Yadav game, owner of driver hotel, son servant
  • सोमवार, 12 जून 2017
  • +

जेल भेजा गया काली कमाई का कुबेर आरएस यादव, कई ठिकानों पर पड़े छापे

Chandauli ARTO RS Yadav sent Jail, raid on many bases
  • रविवार, 11 जून 2017
  • +

बच्ची को पंचायती फरमान- 8 साल बाद होगी रेपिस्ट से शादी

purnia-girl-molested-asked-by-panchayat-not-to-approach-cops
  • शनिवार, 10 जून 2017
  • +

फेसबुक पोस्ट करना पड़ा महंगा, हुई 35 साल की जेल

Just for Facebook post, man jailed for 35 years in Thailand
  • शुक्रवार, 9 जून 2017
  • +

शर्मनाक : पूजा के बहाने बहन की सहेली को बुलाया घर, कर डाला कांड

Sonbhadra Brother called Sister friend in the house for the excuse of worship, rape
  • रविवार, 11 जून 2017
  • +
Live-TV
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top