Breaking News in Hindi Tuesday, July 28, 2015

Home > Tags > tax

Read Stories on Tax

आयकर विभाग में शार्ट सर्किट से आग

सेक्टर-17 के शॉपिंग कांप्लेक्स में स्थित आयकर विभाग के सेंकेंड फ्लोर पर शनिवार सुबह आग लग गई। आग की चपेट में आकर विभाग के स्टेबलिशमेंट शाखा का रिकॉर्ड जल गया।  0

  • बस में पकड़ा गया सेल्स टैक्स चोरी का माल

    दिल्ली से सेल्स टैक्स चोरी करके लाए जा रहे स्पेयर पार्ट्स के करीब 50 नग विभाग के सचल दल ने पकड़ लिए। बस में शहर के दुकानदारों के साथ ही आस-पास के ब्लाकों के दुकानदारों का माल भी है। 0

  • सुखबीर समेत 81 सांसद, विधायकों को हाईकोर्ट से राहत

    उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल समेत पंजाब के मौजूदा और 81 पूर्व विधायकों व सांसदों को हाईकोर्ट ने बड़ी राहत दी है। 0

  • सेबी ने पकड़ी ऐसी 'दुकानें', जिनसे हुई 6000 करोड़ की टैक्स चोरी

    सेबी ने ऐसे कई संगठित सिंडिकेट पर कार्रवाई की है, जिन्होंने काले धन को कानूनी दिखने वाले फंडों में बदलने के लिए ‘दुकानें’ खोल रखी थीं।
     0
  • बहाने नहीं चलेंगे, आज शाम तक प्रॉपर्टी टैक्स भरें, नहीं तो...

    अब बहाने नहीं चलेंगे। अगर लोगों ने आज शाम तक प्रॉपर्टी टैक्स नहीं भरा तो भारी हर्जाना भुगतना पड़ेगा। इसलिए जल्दी करें।
     0
  • टैक्सी वालों ने ऑटो चालकों को पीटा, देखती रही पुलिस

    टैक्सी चालकों ने सवारी छोड़ने वाले ऑटो चालकों को पुलिस फोर्स की मौजदूगी में दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। 0

  • रेलवे स्टेशन पर दो गुटों में खूनी जंग, ताकती रह गई पुलिस

    रेलवे स्टेशन पर पार्किंग को लेकर दो गुटों में विवाद इतना गहरा गया कि खूनी संघर्ष हो गया। पुलिस मूक बनी रही। देखिए, पूरा मामला।
     0

  • एक लाख नए आयकर दाता बनाने की कवायद

    रियासत में कुल 12.70 लाख परमानेंट अकाउंट नंबर (पैन) जारी हुए हैं, लेकिन इनमें से मात्र 84,420 पैन धारक ही आयकर रिटर्न भरते हैं।
     0
  • हाउस टैक्स में करोड़ों की हेराफेरी

    प्रॉपर्टी के असिस्मेंट में नगर निगम का कर विभाग जमकर खेल कर रहा है। कर्मचारी आंखों में धूल झोंककर हर साल करोड़ों रुपये का चूना लगा रहे हैं। मल्टीस्टोरी भवनों के साथ-साथ होटलों से गृहकर वसूली में बड़ी गड़बड़ी सामने आई है।
    नगर निगम की सबसे बड़ी आय का जरिया गृहकर वसूली है। इसी में कर विभाग के कर्मचारी धांधली कर रहे हैं। आंकड़ों के मुताबिक नगर निगम सीमा में ढाई लाख से ज्यादा भवन हैं। इसके अलावा मल्टीस्टोरी, होटल और कामर्शियल भवन भी सैकड़ों की संख्या में हैं। निगम सूत्रों की मानें तो यदि ठीक से इन सभी की प्रॉपर्टी का असिस्मेंट किया जाए तो नगर निगम हर साल 50 करोड़ से ज्यादा की कमाई कर सकता है। लेकिन इस साल निगम ने लगभग 22 करोड़ ही गृहकर वसूले हैं। जबकि पिछले साल लगभग 17 करोड़ और इससे पहले 14 करोड़ की वसूली हुई थी। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि हर साल कर विभाग के कर्मचारी मनचाहा प्रॉपर्टी का असिस्मेंट कर लगभग 28 करोड़ का नगर निगम को नुकसान पहुंचा रहे हैं।
     0

  • हाउस टैक्स में पेंच, हजारों को बिलों में राहत नहीं

    प्रदेश सरकार ने इस बार हाउस टैक्स की नई पॉलिसी के मुताबिक टैक्स की रिकवरी करने के निर्देश दिए हैं।
     0

1 2 3 4 5 अगला

आपके शहर की ख़बरें

Read stories about tax in Hindi on Amarujala.com. Keep yourself updated on latest news and stories from across the nation on tax . Amarujala.com is India’s No. 1 Online Hindi newspaper.