आपका शहर Close

'उड़नपरी' जैसा कोई नहीं, एथलेटिक्स की दुनिया में दिलाई भारत को पहचान

amarujala.com- Written by: नवीन चौहान

Updated Mon, 14 Aug 2017 01:30 AM IST
PT Usha all time best Indian Women Sprinter

पीटी ऊषा PC: reuters

भारत ने आजादी के बाद से अब तक खेलों में बहुत तरक्की की है लेकिन आजादी के 70 साल बाद भी ये प्रयास विश्व स्तर पर खुद को सर्वश्रेष्ठ साबित करने के लिए नाकाफी हैं। बावजूद इसके भारतीय खेल जगत में कुछ ऐसे सितारे भी उभरे जिनकी उपलब्धियां कभी धूमिल नहीं होंगी। उनकी वजह से आने वाली पीढ़ियों ने खेलों में अपना भविष्य बनाने की प्रेरणा हासिल की। 
ऐसी ही एक खिलाड़ी हैं पीटी ऊषा। देश में उड़नपरी के नाम से विख्यात पीटी ऊषा का नाम आज भी लोगों की जुबान पर है। लोगों के जेहन में उनकी यादें आज भी ताजा हैं। उड़नसिख मिल्खा सिख की तरह वो भी ओलंपिक पदक जीतने से सेकेंड के सौवें हिस्से से चूक गईं थी। 1984 के लॉस एन्जेल्स ओलंपिक की 400 मीटर फर्राट दौड़ के सेमीफाइनल में उन्होंने पहला स्थान हासिल किया था। लेकिन फाइनल में हुए कड़े मुकाबले में वो फोटो फिनिश के आधार पर चौथे स्थान पर रहीं और कांस्य पदक उनके हाथ से छिटक गया। लेकिन इस मुकाबले ने उन्हें देश दुनिया में पहचान दिला दी।  किसी भी ओलम्पिक प्रतियोगिता के फ़ाइनल में पहुंचने वाली पहली महिला और पांचवी भारतीय एथलीट थीं। 

पीटी ऊषा हार मानने वाली खिलाड़ी नहीं थीं। उनके मन में खुद को सर्वश्रेष्ठ साबित करने की ललक थी। ओलंपिक में मिली निराशा को अपनी ताकत बनाकर पीटी ऊषा 1985 में इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में आयोजित एशियाई चैंपियनशिप में 5 स्वर्ण और 1 कांस्य सहित कुल 6 पदक हासिल किए था। उनकी इस उपलब्धि की बराबरी आजतक कोई भारतीय नहीं कर सका। 

ऊषा ने 100m, 200m, 400m, 400m बाधा और 4 गुणा 400 मीटर स्पर्धा में स्वर्ण पदक हासिल किया था। यह उस समय एशियन चैंपियनशिप में किसी महिला खिलाड़ी द्वारा एक स्पर्धा में जीते गए सबसे ज्यादा स्वर्ण पदक थे। 100, 200 और 400 मीटर दौड़ का स्वर्ण पदक उन्होंने नए एशियाई रिकॉर्ड के साथ जीता था। ऊषा ने दो स्वर्ण पदक महज 35 मिनट के अंतराल में जीते थे। 4 गुणा 100 रिले में वह स्वर्ण पदक से चूक गईं। उनकी टीम को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा था।  इस शानदार प्रदर्शन करने के बाद पीटी ऊषा 'उड़नपरी' के नाम से जाना जाने लगा। 

ऊषा यहीं नहीं रुकीं 1986 में आयोजित सियोल एशियाई खेलों में ऊषा ने 4 स्वर्ण और एक रजत पदक हासिल किया। उन्होंने इस दौरान जिन स्पर्धाओं में भी भाग लिया सभी में नए एशियाई रिकॉर्ड स्थापित किए।  पीटी ऊषा को साल 1984,1985,1986,1987, 1989 में एशिया की सर्वश्रेष्ठ धाविका घोषित किया गया। इसके साथ ही साल 1985 और 1986 में उन्हें दुनिया की सर्वश्रेष्ठ महिला धाविका के पुरस्कार से भी नवाजा गया। वो यह पुरस्कार हासिल करने वाली पहली भारतीय एथलीट थीं। 

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

Comments

स्पॉटलाइट

B'DAY SPL: शम्मी कपूर ने दूसरी शादी के लिए रखी थी ऐसी शर्त, डर गए थे घरवाले

  • शनिवार, 21 अक्टूबर 2017
  • +

इंटरव्यू के जरिए 10वीं पास के लिए CSIO में नौकरी, 40 हजार सैलरी

  • शनिवार, 21 अक्टूबर 2017
  • +

'दीपिका पादुकोण के ट्वीट के बाद एक्शन में आई पुलिस, 5 आरोपियों को किया गिरफ्तार

  • शनिवार, 21 अक्टूबर 2017
  • +

पोती आराध्या संग दिवाली पर कुछ ऐसे दिखाई दिए बिग बी, देखें PHOTOS

  • शनिवार, 21 अक्टूबर 2017
  • +

दिवाली पर पटाखे छोड़ने के बाद हाथों को धोना न भूलें, हो सकते हैं गंभीर रोग

  • शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2017
  • +

Most Read

WWE में पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान बनीं कविता देवी 

 Kavita Devi becomes first Indian woman wrestler to sign deal with WWE
  • सोमवार, 16 अक्टूबर 2017
  • +

सचिन तेंदुलकर कैसे हो गए भारत रत्न के लिए ध्यानचंद से आगे  

 why sachin got ahead position for bharat ratan compare to dhyanchand  
  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +

सिंधु ने ओकुहारा से लिया हार का बदला, कोरिया ओपन का खिताब जीत रचा इतिहास

pv sindhu wins korea open title with victory over okuhara 
  • रविवार, 17 सितंबर 2017
  • +

फीफा अंडर-17: पहले मैच में भारत को मिली हार, अमेरिका ने 3-0 से हराया

 fifa under 17 world cup soccer india begins their encounter against usa
  • शनिवार, 7 अक्टूबर 2017
  • +

ओलंपिक-एशियाड की तैयारी कर रहे एथलीटों को हर माह 50 हजार देगी मोदी सरकार

modi govt will give 50,000 rs. per month to 152 elite athletes
  • शुक्रवार, 15 सितंबर 2017
  • +

पेरिस को 2024 और लॉस एंजेलिस को मिली 2028 के ओलंपिक खेलों की मेजबानी 

Paris and Los Angeles will host 2024 and 2028 summer Olympic  Games
  • गुरुवार, 14 सितंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!