आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

ओल्टमेंस की बरखास्तगी से नाराज खेल मंत्रालय, हॉकी इंडिया को किया तलब 

amarujala.com- Presented by: नवीन चौहान

Updated Mon, 04 Sep 2017 08:07 PM IST
Sports ministry summons Hockey india on sacking of Roelant Oltmans

रोलेंट ओल्टमंसPC: Getty Images

एशिया कप और कॉमनवेल्थ गेम्स से ठीक पहले डच कोच रोलैंट ओल्टमेंस की बरखास्तगी ने खेल मंत्रालय की त्योरियां चढ़ा दी हैं। मंत्रालय ने हॉकी इंडिया के इस कदम को गलत करार देते हुए जवाब देने के लिए तलब कर लिया है। मंत्रालय का कहना है कि इतने बड़े और महत्वपूर्ण टूर्नामेंटों से पहले विदेशी कोच को अचानक कैसे बरखास्त किया जा सकता है? मंत्रालय का मानना है कि ओलंपिक क्वालीफायर जकार्ता एशियाई खेल जैसे टूर्नामेंट की तैयारियों  के लिए इतने महत्वपूर्ण मौके पर नामी विदेशी कोच को ढूंढना आसान काम नहीं होगा।
खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के पदभार ग्रहण करने के दौरान मंत्रालय के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि ओल्टमेंस का अनुबंध खेल मंत्रालय ने किया है। कोच को 15 हजार डॉलर प्रति माह का भारी भरकम वेतन भी मंत्रालय देता है, लेकिन ओल्टमेंस की बरखास्तगी करने से पहले हॉकी इंडिया ने एक बार भी मंत्रालय को भरोसे में लेने की जरूरत नहीं समझी। यह गलत है। हॉकी इंडिया के पदाधिकारियों को इस संबंध में जवाब देने के लिए बुलाया गया है। उन्हें यह भी बताया जाएगा कि ओल्टमेंस का मंत्रालय इस्तीफा स्वीकार नहीं करने जा रहा है।

इससे पहले मंत्रालय अंडर-17 फुटबाल टीम के कोच निकोलाई एडम की बरखास्तगी पर नाराजगी जता चुका है। एआईएफएफ से कई दौर की बातचीत के बाद मंत्रालय एडम को हटाने के लिए तैयार हुआ था। सूत्र बताते हैं कि हॉकी इंडिया किसी भी कीमत पर ओल्टमेंस को रखने को तैयार नहीं है। उसका कहना है कि अगर मंत्रालय ओल्टमेंस का इस्तीफा स्वीकार नहीं करता है तो वह उसका उपयोग अपने लिए कर सकते हैं, लेकिन राष्ट्रीय टीम केलिए उनकी अब जरूरत नहीं है।

पूरी कमेटी थी ओल्टमेंस की बरखास्तगी के पक्ष में
हॉकी इंडिया की ओर से बुलाई गई मंथन बैठक में ओल्टमेंस की बरखास्तगी का सभी 33 सदस्यों ने समर्थन किया। इस बैठक में सरदार सिंह, पीआर श्रीजेश और कप्तान मनप्रीत सिंह तक शामिल थे, लेकिन ओल्टमेंस को किसी का समर्थन नहीं मिला। ज्यादातर का तर्क यह था कि डच कोच की रणनीति विरोधियों के लिए बेहद आसान और भांपने वाली है।

 

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Amarujala Hindi News APP
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

  • कैसा लगा
Comments

स्पॉटलाइट

आखिर क्यों करीना को साइन करना पड़ा था 'No Kissing Clause', अब ऐश्वर्या ने भी लिया ये फैसला

  • सोमवार, 25 सितंबर 2017
  • +

व्रत में सेंधा नमक क्यों खाते हैं? आप भी जान लें

  • सोमवार, 25 सितंबर 2017
  • +

PHOTOS: ऐश्वर्या राय ने पहनी अब तक की सबसे अजीब ड्रेस, शाहरुख की भी छूट गई हंसी

  • सोमवार, 25 सितंबर 2017
  • +

पत्नी को छोड़ इस राजकुमारी के साथ 'लिव इन' में रहते थे फिरोज खान, फिर सामने आया था ‌इतना बड़ा सच

  • सोमवार, 25 सितंबर 2017
  • +

नवरात्रि 2017ः इस पंडाल में मां दुर्गा ने पहनी 20 किलो सोने की साड़ी, जानें खासियत

  • सोमवार, 25 सितंबर 2017
  • +

Most Read

जब ध्यानचंद की हॉकी तुड़वा कर हुई जांच, चुंबक होने की थी आशंका 

 when dhyanchand stick investigated on the magnate suspect
  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +

कई ऐतिहासिक जीत दिलाने वाले ध्यानचंद के लिए यह मैच था सबसे बेस्ट  

this was the best match for dhyanchand in his all carrier  
  • सोमवार, 25 सितंबर 2017
  • +

भारतीय महिला हॉकी टीम ने बेल्जियम को 4-3 से हराया

india women hockey team beat belgium junior mens team by 4-3
  • मंगलवार, 19 सितंबर 2017
  • +

अशोक ध्यानचंद का बड़ा खुलासा- राजनीति का शिकार हुए दद्दा, नहीं मिला ये सम्मान

Ashok Dhyanchand said major dhyanchand became victim of politics, did not get the honor
  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +

हॉकी को बहुत कुछ दिया, लेकिन इस वजह से अपने आखिरी के दिनों में खुश नहीं थे मेजर ध्यानचंद

Ashok said, dadda were very sad in last days, they gave lots in hockey, but did not get anything
  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +

स्मृति शेष: दद्दा का अंतिम संस्कार उस मैदान में हुआ था जहां वह खेलते थे हॉकी 

dhyanchand was the other name of hockey, a memorable player 
  • शनिवार, 23 सितंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!