आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

बड़ा खिलाड़ी और अच्छा इंसान छोड़ गया हॉकी

नई दिल्ली/ब्‍यूरो

Updated Fri, 21 Dec 2012 12:57 AM IST
great hockey player and a good person has left
बात बीते माह की है, लेसली क्लॉडियस अस्पताल में दाखिल थे। देश के कुछ नामी ओलंपियनों को यह खबर लगी। बस क्या था अशोक कुमार, असलम शेर खान, चार्ल्स कारनोलियस, अब्दुल अजीज जैसे पुरोधा फौरन उन्हें देखने के लिए पहुंच गए। इन कुछ लम्हों से वह इतने तरोताजा हो गए कि डॉक्टरों ने उन्हें डिसचार्ज करने का फैसला कर लिया।
ये ओलंपियन अपने साथ ‘लेस साहब’ को डिसचार्ज कराकर ले गए। इस वायदे के साथ कि अगली बार फिर कोलकाता क्लब में बैठकर गपशप करेंगे। अशोक हों या असलम उन्हें अब तक विश्वास नहीं हो रहा है कि लेस साहब अपने वायदे को नहीं निभा पाए। अशोक तो अपने गुरु तुल्य सीनियर को याद कर भावुक हो जाते हैं। वह बताते हैं कि कोलकाता में क्लब हॉकी खेलने के दौरान उनका लेस साहब से गहरा नाता बना। वह अक्सर उनके साथ कोलकाता कस्टम्स क्लब जाते थे।

अगली मुलाकात में इसी क्लब में जाने की बात कहकर उन्होंने उनसे विदा ली थी। उनसे 16 नवंबर की यह अंतिम मुलाकात यादगार थी। वह जितने बड़े खिलाड़ी थे उससे भी बेहतर इंसान थे। थे तो वह एंग्लो इंडियन लेकिन उन्हें देश की सेवा एक रियल इंडियन की तरह की। 48,52,56 और 60 के ओलंपिक खेलने वाले लेस साहब 1978 के बैंकाक एशियाई खेलों के लिए टीम के कोच थे। उन्होंने अशोक को सलाह दी कि वह ड्रिब्लिंग बहुत ज्यादा करते हैं। उन्होंने लेस साहब की इस बात पर अमल किया। इसके बाद ही वह बड़े खिलाड़ी बनें।

असलम शेर खान कहते हैं कि वह खिलाड़ी से भी बड़े एक अच्छे इंसान थे। 1974 के तेहरान एशियाई खेलों के सेमीफाइनल में उन्होंने गोल कर टीम को फाइनल में जगह दिलाई। लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ फाइनल से पहले कोच बालकिशन सिंह ने मैनेजर लेस साहब से सलाह ली कि उन्हें मैच में खिलाना चाहिए या नहीं। लेस साहब का जवाब था उनकी पहली च्वाइस असलम होंगे। हालांकि यह मुकाबला भारत हार गया था। अजीत पाल सिंह बताते हैं कि लंदन ओलंपिक से पहले भारतीय टीम को विदाई देने वह दिल्ली आए। उस वक्त भी उनका हॉकी के प्रति जोश देखते बनता था।

  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

बाप की तरह विलेन ना बन पाया, लेकिन एड की दुनिया का बेताज बादशाह है प्राण का ये बेटा

  • बुधवार, 24 मई 2017
  • +

रेखा ही नहीं उनकी सौतेली बहनें भी हैं दुनियाभर में मशहूर, जानिए उनके बारे में

  • बुधवार, 24 मई 2017
  • +

Modi@3: मोस्ट स्टाइलिश पीएम ऑफ द वर्ल्ड, देखें जानदार 'Look'

  • बुधवार, 24 मई 2017
  • +

B'Day Spl: सरेआम SRK से पिट चुके हैं शिरीष कुंदर, 8 साल बड़ी फराह से शादी से पहले बनाते थे मोबाइल

  • बुधवार, 24 मई 2017
  • +

नाखून चबाने की लत को छूमंतर कर देगें ये टिप्स

  • बुधवार, 24 मई 2017
  • +

Most Read

अजलान शाह हॉकी: भारत ने जीता कांस्य पदक

India beat New Zealand 4-0 in Sultan Azlan Shah Cup Hockey
  • शनिवार, 6 मई 2017
  • +

अजलान शाह कप हॉकी: न्यूजीलैंड को 3-0 से हराकर भारत ने जीता टूर्नामेंट का पहला मैच

Sultan Azlan Shah Cup- India v New Zealand
  • रविवार, 30 अप्रैल 2017
  • +

अजलान शाह कप हॉकी: ऑस्ट्रेलिया-भारत के बीच मुकाबला आज

Sultan Azlan Shah: India aim to extend unbeaten run against Australia 
  • मंगलवार, 2 मई 2017
  • +

सुल्तान अजलान शाह कप हॉकी: आज ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगा भारत

India To Take on Defending Champions Australia in Sultan Azlan Shah Hockey Cup 2017
  • मंगलवार, 2 मई 2017
  • +

अजलन शाह हॉकी: विश्व चैंपियन ऑस्ट्रेलिया ने दी भारत को 3-1 से दी मात 

sultan azlan shah cup:  australia beat india by 3-1
  • बुधवार, 3 मई 2017
  • +

'भारत का पाक के साथ हॉकी न खेलना विश्व हॉकी को नुकसान'

India's refusal to play with pakistan at the international level will damage world hockey
  • शुक्रवार, 21 अप्रैल 2017
  • +
Live-TV
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top