आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

अपने स्वर्णिम अतीत की ओर लौट रहा है भारतीय फुटबॉल

amarujala.com- Written by: नवीन चौहान

Updated Mon, 14 Aug 2017 02:47 AM IST
Indian football tending Towards its golden Era

अंडर-17 फुटबाल कोच का इस्तीफा

आजादी के सत्तर साल पहले भारतीय फुटबॉल की दुनिया में जो पहचान थी वो पिछले छह दशक में वो घूमिल हो गई थी। आजादी के बाद 1956 में ओलंपिक में भारतीय फुटबाल टीम ओलंपिक सेमीफाइनल तक पहुंची थी। भारत ओलंपिक के सेमीपाइनल में पहुंचने वाली पहली एशियाई टीम थी।  भारत ने 1950 में फीफा वर्ल्ड कप के लिए भी क्ववालीफाई किया था लेकिन खिलाड़ियों के पैरों में जूते नहीं होने के कारण भारतीय टीम को मैदान पर उतरने नहीं दिया गया। 1951  से 1962 का दौर भारतीय फुटबॉल का सर्वश्रेष्ठ दौर था। इसके बाद धीरे-धीरे भारतीय फुटबाल अपने बुरे दौर में पहुंच गया।
कई सालों तक फीफा रैंकिंग में टीम इंडिया 150 पायदान से पीछे पहुंच गई। दुनिया की टॉप 100 टीमों में शामिल होना भी उसके लिए लोहे के चने चबाने जैसा था। पिछले कुछ महीनों में जारी रैंकिंग में भारतीय टीम एक बार फिर अंडर 100 में जगह बनाने में कामयाब रही है। 

पिछले कुछ सालों में भारतीय फुटबाल जगत में व्यापक बदलाव हुआ है। पारंपरिक फुटबॉल कल्चर के इतर व्यावसायिक घरानों और फीफा के भारत में फुटबॉल के प्रसार में रुचि दिखाने का फायदा हुआ है। एक तरफ आईलीग की शुरुआत हुई तो वहीं दूसरी तरह इंडियन सुपर लीग की। इन दोनों स्पर्धाओं ने भारतीय फुटबाल के सुधार की दिशा में अच्छा काम किया है। 

देश के युवा खिलाड़ियों को विश्व फुटबाल के पूर्व दिग्गज फुटबॉलरों के साथ खेलने और उनसे फुटबॉल की बारीकियां सीखने का मौका मिला है। जिसका फायदा भारत के युवा उठा रहे हैं। इससे इनके खेल में सुधार भी हो रहा है और वो वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के लिए भी खुद को तैयार कर रहे हैं। 

इसी साल अक्टूबर में भारत फीफा अंडर-17 विश्वकप की मेजबानी कर रहा है। देश भर के युवा खिलाड़ियों को पिछले कुछ सालों में चुनकर उन्हें कड़े और विश्वस्तरीय माहौल में प्रशिक्षित किया गया है। फुटबॉल के भारत में विकास के लिए इससे पहले इस तरह के प्रयास नहीं किए गए थे। भले ही टीम इंडिया के खिलाड़ी दिग्गज टीमों के खिलाफ जीत हासिल न कर सकें लेकिन उनके अंदर इस तरह की प्रतियोगिताओं में खेलने उसके लिए क्वालीफाइ करने की आग तो पैदा होगी। 

आईएसएस और विश्वकप के आयोजन के बाद देश में फुटबॉल के इंफ्रास्ट्रक्चर में भी सुधार हो रहा है। जो कि विश्वस्तरीय है। आईएसएस की शुरुआत से पहले भारत में फुटबॉल के विश्वस्तरीय स्टेडियम के नाम पर कोलकाता का साल्ट लेक स्टेडियम ही था लेकिन अब ऐसे स्टेडियम्स की संख्या में बड़ा इजाफा हुआ है। 

दुनिया के मैनचेस्टर यूनाइटेड, एटलेटिको,  रियाल मैड्रिड और बार्सिलोना जैसे क्लब भारत में प्रशिक्षण केंद्रों की स्थापना कर युवाओं को प्रशिक्षित कर रहे हैं। ऐसा पहले कभी नहीं हुआ। 

आज भारत फीफा रैंकिंग में 97 वें पायदान पर है। फीफा रैंकिंग की शुरुआत के बाद से भारत की औसत रैंकिंग 133 रही है। साल 2012 में भारत अपनी सबसे खराब 166वें पायदान पर पहुंच गया था लेकिन पिछले पांच साल में हुए सुधार का असर दिख रहा है और भारत 97वें स्थान तक पर पहुंच गया है। जहां उसका साथ जिंबाब्वे और इस्टोनिया जैसे देश दे रहे हैं। 1993 में भारत 100वें पायदान पर था। इसका मतलब हम धीरे-धीरे ही सही लेकिन फुटबॉल के स्वर्णिम अतीत की तरफ बढ़ रहे हैं। 

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Amarujala Hindi News APP
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

इस हीरोइन की मजबूरी के चलते खुल गई थी मनीषा की किस्मत, शाहरुख के साथ बनी थी 'जोड़ी'

  • सोमवार, 21 अगस्त 2017
  • +

रोजाना लस्सी का एक गिलास कर देगा सभी बीमारियों को छूमंतर

  • सोमवार, 21 अगस्त 2017
  • +

LFW 2017: शो के आखिरी दिन लाइमलाइट पर छा गए जैकलीन और आदित्य

  • सोमवार, 21 अगस्त 2017
  • +

फैशन नहीं लड़कों की दाढ़ी के पीछे छिपा है ये राज, क्या आपको पता है?

  • सोमवार, 21 अगस्त 2017
  • +

एक असली शापित गुड़िया जिस पर बनी है फिल्म, जानें इसकी पूरी कहानी...

  • सोमवार, 21 अगस्त 2017
  • +

Most Read

रॉबिन और बलवंत के गोल की बदौलत भारत ने मॉरिशस को 2-1 से हराया

india beat mauritius in tri nation tournament opener
  • रविवार, 20 अगस्त 2017
  • +

पूरा होगा बोल्ट का इस टीम के लिए फुटबॉल खेलने का सालों पुराना सपना  

Usain Bolt to play for Manchester United in Legends game against Barcelona
  • बुधवार, 16 अगस्त 2017
  • +

रोनाल्डो पर लगा पांच मैचों का प्रतिबंध, रैफरी को दिया धक्का

Cristiano Ronaldo hit with five-match ban for pushing referee
  • मंगलवार, 15 अगस्त 2017
  • +

सुब्रत कप फुटबॉल टूर्नामेंट इस बार समय से पहले, क्लब टीमें नहीं लेंगी भाग

Subroto Cup school football tournament will kick off on 22 August
  • गुरुवार, 17 अगस्त 2017
  • +

'ॐ नमः शिवाय' का टैटू गुदवाकर भारत में स्टार बन गया आर्सेनल क्लब का फुटबॉलर

Walcott unveils Om Namah Shivaya tattoo, Twitter goes viral
  • गुरुवार, 10 अगस्त 2017
  • +

अपने स्वर्णिम अतीत की ओर लौट रहा है भारतीय फुटबॉल

Indian football tending Towards its golden Era
  • सोमवार, 14 अगस्त 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!