Breaking News in Hindi Wednesday, September 03, 2014

Home > State > Uttarakhand > Pauri

पौड़ी

मार्च तक टली 29 दुकानों की पुनर्निलामी

लैंसडौन। छावनी परिषद ने अपनी 29 दुकानों की पुनर्निलामी मार्च तक टाल दी है। तब तक दुकानों की लीज बढ़ा दी गई है।

साढे़ बारह बजे ही बंद मिले नगर के कई स्कूल

कोटद्वार। नगर के कई सरकारी स्कूल निर्धारत समय से पहले ही बंद कर दिए जा रहे हैं। इस आशय की शिकायत मिलने पर बीईओ ने जब संकुल समन्वयक को जांच के लिए भेजा तो वह भी हैरान रह गए।

अब गुपचुप चार प्रधानों को मिला प्रभार

कीर्तिनगर। विकास खंड के ग्राम प्रधानों को प्रभार न देने का मामला विभागीय अधिकारियों ने गंभीरता से लिया है। टिहरी के जिला पंचायत राज अधिकारी ने डेढ़ माह तक ग्राम प्रधानों को प्रभार न देने के मामले को गंभीरता से लिया है तथा कार्रवाई की बात की है।

सिंचाई गूल में बही बच्ची, मौत

कोटद्वार। शहर से सटे सिताबपुर की डबराल कालोनी में अंडरग्राउंड सिंचाई गूल के खुले चैंबर ने एक चार साल की बच्ची की जान ले ली। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद बच्ची को दायीं खोह नहर से निकाला गया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

गुलदार को मार गिराने वाली कमला की स्थिति में सुधार

श्रीनगर। अकेले भिड़कर गुलदार को मारने वाली कमला देवी की स्थिति में लगातार सुधार है। हाथ की दोनों हड्डियों के फ्रेक्चर तथा सिर में गुलदार के वार से लगे 100 से अधिक टांके जब दुख रहे हैं, तो उन्हें गुलदार से हुआ आमना-सामना याद आ रहा है।

बिना पानी के धान के खेतों में पड़ी दरारें

कोटद्वार। साहब, न पौध हाथ लगी न पैसे, खेत बिना धान के खाली हैं। पौध बोने के लिए बीज पैसों में लिए थे।

शहर की समस्याएं हल करने के लिए होगा सामूहिक संघर्ष

पौड़ी। विभिन्न संगठनों की बैठक में शहर की दुर्दशा पर आक्रोश जताया गया। उन्होंने जिला अस्पताल में डाक्टरों की तैनाती करने और ग्राम्य विकास निदेशालय का कैंप आफिस देहरादून खोलने के विरोध में आंदोलन का फैसला लिया गया।

श्मशान पहुंचते ही जिंदा हो गया मुर्दा

लैंसडौन। श्मशान घाट पहुंचते ही एक मुर्दा जिंदा हो उठा तो परिजन हैरान हो गए। घाट पर उसके लिए चिता सजाने वाले ग्रामीणों के भी आश्चर्य का ठिकाना नहीं रहा।

भोजन माताओं ने शुरू किया बेयिादी धरना

पौड़ी। हटाई गईं भोजन माताओं की सेवा बहाल करने समेत कई अन्य मांगों को लेकर भोजन माताओं ने जिला शिक्षा अधिकारी बेसिक के कार्यालय में बेमियादी धरना शुरू कर दिया गया। भोजनमाताओं ने सरकार और शिक्षा विभाग अधिकारियों के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन भी किया।

श्रीनगर तथा मलेथा में आंदोलनों को समर्थन देने पहुंचे कोश्यारी

श्रीनगर/कीर्तिनगर। नंदादेवी राजजात से लौट रहे पूर्व मुख्यमंत्री तथा नैनीताल सांसद भगत सिंह कोश्यारी ने श्रीनगर में संयुक्त अस्पताल तथा मलेथा में क्रशर के विरोध में चल रहे आंदोलनों को समर्थन दिया। आंदोलन स्थलों पर पहुंचकर उन्होंने राज्य सरकार से दोनों आंदोलनों के बाबत वार्ता करने की बात कही।
1 2 3 4 5 अगला

प्रमुख ख़बरें

'मोदी ने किसी मंत्री को जींस पहनने से नहीं रोका'

Prakash jawdekar defend narendra modi on dress code issue. सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का कहना है कि मोदी सरकार में सभी मंत्रियों को काम करने की पूरी स्वतंत्रता है।...

पूर्व अटॉर्नी जनरल जीई वाहनवती का निधन

Attorney general vahanvati died. पूर्व अटॉनी जनरल गुलाम ई वाहनवती का दिल का दौरा पड़ने से 65 वर्ष की उम्र में निधन हो गया।...

'लव जेहाद' पीड़‌िता को मिलेगी नौकरी!

Tara sahdev got government job. झारखंड की मंत्री ने कहा है कि अगर तारा सहदेव चाहें तो उन्हें खेल कोटे से सरकारी नौकरी देगी।...