आपका शहर Close

दिवाली से पहले पुष्य नक्षत्र और शनिवार का शुभ योग, ये 5 उपाय करने से दूर होगा दुर्भाग्य

shani pushya nakshatra significance and importance of saturday

इस बार दीपावली और धनतेरस के ठीक पहले शनिवार को पुष्य शनि का शुभ योग बन रहा है। शनिवार और पुष्य नक्षत्र का संयोग काफी अच्छा माना जाता है। ज्योतिषियों के मुताबिक पुष्य नक्षत्र सभी 27 नक्षत्रों बलवान होता है, यह नक्षत्र शुभ कार्यों के लिए सबसे उत्तम रहता है। शनिवार को पुष्य नक्षत्र पड़ने के कारण जिन लोगों के ऊपर शनि की साढ़ेसाती और ढय्या होती है तो ये कुछ उपाय करने से दूर हो सकते हैं।

पढ़ें- Diwali 2017: दिवाली से पहले करें ये 5 काम, पूरे साल मां लक्ष्मी रहेंगी मेहरबान

Most Viewed

Diwali 2017: दिवाली पर इन 5 लोगों के पास कभी नहीं रुकती हैं माता लक्ष्मी

diwali 2017 always follow these 5 tips goddess lakshmi worship
  • गुरुवार, 19 अक्टूबर 2017
  • +

DIWALI 2017ः मां लक्ष्मी के घर आने पर दीपावली की रात दिखते हैं ये 4 जीव

diwali 2017 know indication, when maa lakshmi or laxmi comes at your home on deepawali
  • गुरुवार, 19 अक्टूबर 2017
  • +

श्रीकृष्ण ने नहीं हनुमानजी ने सबसे पहले उठाया था गोवर्धन पर्वत, दिया था ये वरदान

 story of govardhan puja and what is relation with lord hanuman
  • शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2017
  • +

Also View

मां लक्ष्मी को करना है प्रसन्न तो आज रात इन 5 जगहों पर जरूर जलाएंं दीपक

 burn lamp these 5 places on Diwali night ma Lakshmi will be happy
  • गुरुवार, 19 अक्टूबर 2017
  • +

Dhanteras 2017- सुबह से शाम तक शुभ मुहूर्त, ऐसा क्या करें जिससे खरीदारी हो अति शुभफलदायी

auspicious time on Dhanteras from morning to evening
  • सोमवार, 16 अक्टूबर 2017
  • +

दिवाली 2017: 27 साल बाद बन रहा महासंयोग, ऐसा करने से जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपा

Diwali 2017 Many coincidence after 27 years
  • शुक्रवार, 13 अक्टूबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!