आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

मकर संक्रांत‌ि के द‌िन त‌िल और ख‌िचड़ी खाने की परंपरा क्यों है?

importance of til and khichdi in makar sankranti

मकर संक्रांत‌ि का त्योहार पूरे भारत में मनाया जाता है भले ही अलग-अलग प्रांतों में इसके नाम अलग हों और इसकी मान्यताएं अगल हों। लेक‌िन कुछ चीजें इस त्‍योहार से ऐसे जुड़ी हैं ज‌िन्हें पूरा देश मानता है और वह है मकर संक्रांत‌ि के द‌िन प्रातः स्नान दान और त‌िल का सेवन। इस द‌िन लोग नए चावल से बनी ख‌िचड़ी और त‌िल से बनी चीज जरूर खाते हैं आइये जानें इसके पीछे क्या कारण है।

  • कैसा लगा

Most Viewed

नवरात्रि 2017: इस मुहूर्त में हुई घटस्‍थापना और पूजा, होता है फलदायक

navratri 2017 know about worship or puja and ghata sthapana subh muhurat
  • गुरुवार, 21 सितंबर 2017
  • +

नवरात्रि 2017: जानिए सबसे पहले किसने रखा था 9 दिनों का व्रत

navratri start from 21 september 2017 know about how it was start and Significance
  • बुधवार, 20 सितंबर 2017
  • +

नवरात्रि चौथा दिन: आज ऐसे करें मां कूष्मांडा का ध्यान, उपासना से दूर होंगे रोग

navratri 2017 fourth day worship of maa kushmanda and puja method
  • रविवार, 24 सितंबर 2017
  • +

Also View

वर्षों बाद मकर संक्रांत‌ि पर बना बेहद शुभ संयोग, शन‌ि शांत‌ि के ल‌िए करें यह 5 काम

makar sankranti 2017 on saturday
  • शनिवार, 14 जनवरी 2017
  • +

इन 6 घटनाओं के कारण ह‌िन्दू धर्म में है मकर संक्रांत‌ि का खास महत्व

story makar sankranti in hindu dharm
  • गुरुवार, 14 जनवरी 2016
  • +

मकर संक्रांत‌ि का महत्व ज्योत‌िष और धर्म की दृष्ट‌ि से

makar sankranti importance in sprituality and astrology
  • बुधवार, 13 जनवरी 2016
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!