आपका शहर Close

आज भी लड़ती हैं यहां राम-रावण की सेनाएं, 'जलता' नहीं 'मरता' है दशानन

battles of Ram-Ravana today

दशहरे पर पूरे देश में बुराई के प्रतीक रावण के पुतले को हर साल जलाया जाता है, वहीं एक जगह ऐसी भी है जहां रावण को जलाया नहीं जाता, बल्कि उसे युद्ध में पराजित कर मारा जाता है। यह परंपरा करीब पौने दो सौ साल से चली आ रही है।
हम बात कर रहे हैं सीकर जिले के दांतारामगढ़ तहसील के बाय गांव की। प्रसिद्ध खाटूश्याम जी के नजदीकी छोटे से गांव बाय की पहचान उसके दशहरे मेले के लिए है। दक्षिण भारतीय शैली में होने वाले इस मेले को देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। यहां के मेले का माहौल देखते ही बनता है। मेले की विशेषता यह है कि यहां रावण का पुतला नहीं बनाया जाता।

Most Viewed

कपाट बंद होने के वक्त केदारनाथ धाम में हुआ 'चमत्कार', देखकर अचंभित हुए सब

miracle during kedarnath dham door closing ceremony
  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

बैंक से ज्यादा कैश निकालने के नियम में बदलाव, अब करना होगा ऐसा

bank money transaction rule change
  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

कांग्रेस ने जारी की आखिरी सूची, इनका कटा टिकट, ये नए चेहरे किए शामिल

himachal assembly election 2017 congress final list of candidates
  • सोमवार, 23 अक्टूबर 2017
  • +

Also View

PHOTOS: इस अनोखे मंदिर में विराजमान है 'महाशिवभक्त रावण', पीले फूल चढ़ाने वाले पाते हैं विशेष वरदान

unique temple sits mahashivbkt Ravana find yellow wreath blessing
  • रविवार, 1 अक्टूबर 2017
  • +

कुल्लू दशहरा आज से, देव-मानस मिलन देखने उमड़ेंगे हजारों श्रृद्धालु

there will be a animal sacrifice in kullu dussehra utsav
  • शनिवार, 30 सितंबर 2017
  • +

दशहरा 2017: इन जगहों पर बेहद अलग तरीके से मनाया जाता है दशहरा

Dussehra 2017 these places in india where dussehra celebrate different ways
  • शनिवार, 30 सितंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!