Breaking News in Hindi Wednesday, July 29, 2015

Home > City > Hardoi

हरदोई से ऊषा, मिश्रिख से जयप्रकाश लडे़ंगे चुनाव

हरदोई। लोकसभा चुनाव के लिए सपा ने पार्टी प्रत्याशियों को सूची शुक्रवार को घोषित कर दी। इसमें हरदोई सीट से वर्तमान सांसद ऊषा वर्मा को दोबारा उतारा जाएगा, जबकि मिश्रिख-हरदोई (आंशिक) सीट से पूर्व सांसद जय प्रकाश को चुनाव लड़ने के लिए हरी झंडी दे दी गई। इस सूची में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव डा. अशोक बाजपेयी को तवज्जो देते हुए लखनऊ सीट से लड़ाने की घोषणा की गई। सूची के जारी होते ही प्रत्याशियों के समर्थकों के चेहरे खिल गए।
हरदोई सुरक्षित सीट से सपा ने सांसद ऊषा वर्मा को दोबारा टिकट देने की घोषणा कर दी जिससे उनके समर्थक संदीप दीक्षित, अभिजीत सिंह, उस्मान सिद्दीकी, राकेश तिवारी, अमित मिश्रा, अंकुर चौहान आदि ने खुशी का इजहार किया। वहीं मिश्रिख-हरदोई (आंशिक) सीट से जयप्रकाश की घर वापसी पर टिकट का तोहफा दे दिया। जय प्रकाश का वर्ष 1991 से हरदोई से राजनीतिक नाता जुड़ा हुआ है। वे हरदोई सु. सीट से तीन बार सांसद रह चुके है और उसके बाद वर्ष 2004 में मोहनलाल गंज लखनऊ से संासद चुने गए थे। उसके बाद राज्यसभा सदस्य भी रहे। कुछ समय पूर्व ही उन्होंने सपा में वापसी की थी और तभी से उनके मिश्रिख लोकसभा सीट से सपा से चुनाव लड़ने की संभावनाएं जताईं जा रही थीं। सपा से प्रत्याशी बनाने की खबर आने के बाद उनके समर्थकों में हर्ष की लहर दौड़ गई। जय प्रकाश के लिए खास बात यह है कि पुराने घर सपा में वापसी के साथ ही उन्हें अपनी पहली कर्मस्थली वाले जिले हरदोई में फिर से काम करने लोगों से जुड़ने का मौका मिल गया है। वैसे तो जय प्रकाश ने अपने राजनीतिक सफर की सफलता भाजपा की टिकट पर वर्ष 1991 में हासिल की थी और उसके बाद उनके राजनीतिक ठिकाने एवं राजनीतिक कर्मस्थली बदलती रही। हाल में वे बसपा छोड़कर सपा में वापस आए थे और इसके बाद उनके लोकसभा चुनाव लड़ने की तस्वीर बनने लगी थी जो कि सपा के प्रत्याशियों की घोषणा के बाद साफ हो गई।
पूर्व सभासद अमित त्रिवेदी रानू, प्रदीप पाठक, पप्पू, दीपक तथा अरविंद सहित तमाम समर्थकाें ने खुशी का इजहार किया है। इधर, सवायजपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव हारने के बाद पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव डा. अशोक बाजपेयी को पार्टी ने तवज़्जो देते हुए लखनऊ से उतारने की घोषणा कर दी। माना जा रहा है कि सपा ने ब्राह्मण वोट को पार्टी के पक्ष में करने के लिए यह ट्रंप कार्ड खेला है। पार्टी के जिला उपाध्यक्ष पीके वर्मा ने बताया कि आज जारी सूची में सांसद ऊषा वर्मा का भी नाम शामिल है।

ज़बर खबर : पढ़ना न भूलें

10 अं‌तिम बातें, जो पूरी दुनिया से कह गए कलाम

किसे मालूम था कि 27 जुलाई को मिसाइल मैन एपीजे अब्‍दुल कलाम हमेशा-हमेशा के लिए हम सभी से दूर चले जाएंगे और छोड़ जाएंगे हमारे लिए कुछ सपने जो पूरे होने बाकी हैं।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

Hardoi News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.


Share on Social Media