Breaking News in Hindi Wednesday, July 30, 2014

Home > State > Uttarakhand > Champawat

संघर्ष समिति को मिल रहा व्यापक समर्थन

लोहाघाट। कोलीढेक में झील की स्वीकृति देने की मांग को लेकर झील बनाओ संघर्ष समिति के आंदोलन को व्यापक जन समर्थन मिल रहा है। आंदोलन की कमान कैप्टन मोहन सिंह ढेक ने संभाली है। बृहस्पतिवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भगीरथ भट्ट और सभासद बल्लू माहरा ने भी आंदोलन को समर्थन दिया। उन्होंने धरना स्थल से फोन पर मुख्यमंत्री हरीश रावत और सांसद महेंद्र सिंह माहरा को आंदोलन की जानकारी दी। धरना देने वालों में बीएसएफ के रिटायर्ड सहायक कमांडेंट पीएस बोहरा, मनोहर सिंह ढेक, पीएस ढेक, राजेंद्र माहरा, ललित मोहन जोशी, विनोद ढेक, कै. दीवान सिंह बोहरा, चंदन बोहरा, महेश बोहरा, खीम सिंह पाटनी, श्याम राम, पार्वती देवी, भावना ढेक, गंगा देवी, चंचला ढेक, सांसद प्रतिनिधि डा. महेश ढेक शामिल थे।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

सहारनपुर: तनावपूर्ण माहौल में अदा हुई नमाज

id in saharanpur सहारनपुर में ईद की नमाज बेहद तनावपूर्ण माहौल में अदा हुई। पुराने शहर...

ज्योति मर्डर मिस्ट्री: पति पीयूष और प्रेमिका हिरासत में

husband and his lover in custody in jyoti murder case कानपुर के हाई प्रोफाइल ज्योति हत्याकांड में पुलिस ने शिकंजा कसते हुए ज्योति...

एक ही रात में मारे गए 100 फलस्तीनी

100 palestinian killed in one night इसराइली कार्रवाई के दौरान ग़ज़ा पर सबसे भीषण हवाई हमले हुए जिनमें 100...

नरेंद्र मोदी को किसने कहा, ‘निरंकुश’ और ‘मौनेंद्र मोदी’

chavan accuses modi of being autocratic, questions 'silence' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘चुप्पी’ पर सवाल उठाते हुए एक बड़े कांग्रेस नेता...

ख़बरें राज्यों से

सड़क हादसे में चार की मौत, 11 जख्मी

four died in road accident in aligarh अलीगढ़-पलवल मार्ग पर डंपर-मैक्स की भिड़ंत में चार लोगों की मौत हो गई...

यूपी: ईद पर चली गोलियां, पथराव, आगजनी, कई घायल

violence on id in up अल्लीपुर में नमाज पढ़ने को लेकर चल रहे विवाद की आग ईद के...

आखिर धरा गया पेपर आउट मामले का मास्टरमाइंड

police arrests mastermind of paper out case राजस्थान लोक सेवा आयोग की आरएएस प्री परीक्षा 2013 के पेपर आउट मामले...

माओवादियों ने सालभर में मारे गए 200 कैडर

Maoists admit to biggest setback since 2005 सीपीआई (माओविस्ट) ने इस बात को स्वीकारा कि वे पिछले एक साल में...