Breaking News in Hindi Wednesday, May 06, 2015
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > State > Uttarakhand > 100 Days Of Kedarnath Disaster

आपदा के 100 दिन, खतरे से मुक्त नहीं 'केदारनाथ'

100 days of kedarnath disaster
नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हाइड्रोलॉजी से अध्ययन कराया जाना चाहिए। नदी के रुख को मोड़ने और ग्लेशियरों से बचाव के लिए सर्वेक्षण रिपोर्टों के आधार पर ट्रीटमेंट वर्क होना चाहिए।

- डा. रामनाथ सिंह फोनिया

भगवान शिव के ग्यारहवें ज्योतिर्लिंग केदारनाथ मंदिर पर खतरा मंडरा है। यह खतरा मंदाकिनी नदी के साथ-साथ ग्लेशियर और गांधी सरोवर के मलबे से है।

समय रहते यहां बह रही नदियों के प्रवाह को मोड़ने के उपाय नहीं किए गए तो मंदिर में पुन: पानी घुस सकता है।


पढ़ें, केदारनाथः मिल गया भोले का नाग...

विस्तृत सर्वेक्षण कराने की सलाह
भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग (एएसआई) ने भी राज्य सरकार को वैज्ञानिकों से ग्लेशियर और भूगर्भीय स्थिति का विस्तृत सर्वेक्षण कराने की सलाह दी है।

पढ़ें, ...यहां पिंडदान से धुलेंगे 21 जन्मों के पाप

सुरक्षात्मक उपाय की जरूरत
एएसआई का कहना है कि जल्द से जल्द सुरक्षात्मक उपाय किए जाने चाहिए ताकि एतिहासिक धरोहर को कोई आंच नहीं आए।

मालूम हो कि 16/17 जून को भारी बारिश और ग्लेशियर टूटने से केदारनाथ मंदिर से करीब ढाई किलोमीटर ऊपर गांधी सरोवर (चोराबाड़ी तालाब) टूट गया था।

मलबा मंदिर परिसर में जमा
इससे पानी के साथ-साथ भारी मात्रा में बोल्डर और मलबा मंदिर परिसर में जमा हो गया। बोल्डरों ने मंदिर के पिछले हिस्से को भी नुकसान पहुंचाया था। बाढ़ के कारण मंदाकिनी का प्रवाह क्षेत्र बदल गया है।

पढें, भारी पड़ी मस्ती, 'लड़की' पैसे न चुकाने पर भड़की

पहले मंदाकिनी सीधे नीचे की ओर बहते हुए मंदिर के दाहिनी ओर से निकल जाती थी, मगर अब ऐसा नहीं है। अब नदी मंदिर से लगभग 200 मीटर पीछे से घूमकर बायीं ओर बह रही है, इससे मंदिर को खतरा बना हुआ है।

पढ़ें, संवारने के चक्कर में बिगाड़ दी 'केदारनाथ' की सूरत


मंदिर में पहुंच रहा पानी
मंदिर से करीब तीन किलोमीटर ऊपर तक बोल्डर जमा हैं जो जल स्तर बढ़ने पर पानी के प्रवाह को रोक सकते हैं। हफ्ते भर पहले ही भारी बारिश से नदी का पानी मंदिर के करीब 100 मीटर पीछे पहुंच गया था।

पढें, ...उत्तराखंड में भूखी नहीं सोएंगी 'चिड़िया'

ग्लेशियरों से भी खतरा बना हुआ है। है। ग्लेशियरों के चटकने की आवाज अकसर सुनाई देती है। यह ग्लेशियर भी मंदिर की पिछली ओर की चोटियों में हैं।

तस्वीरों में देंखे...आपदा के 100 दिन और केदारनाथ

जल्द करें ट्रीटमेंट वर्क: डा. फोनिया
आपदा कभी भी आ सकती है। अब पहले की तुलना में खतरा बढ़ गया है। आगे की सोचनी होगी। राज्य सरकार को सलाह दी गई है कि समय पर हाईड्रोलॉजी, मेट्रोलॉजिकल और जियोलॉजिकल सर्वे कराए।

पढें, सोनिया पर टिप्पणी से घिरे रामदेव बाबा, बवाल


वाडिया इंस्टीट्यूट ऑफ जियोलॉजिकल सर्वे, जीएसआई की टीम मौसम और भूगर्भीय सर्वेक्षण कर रहे हैं। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हाइड्रोलॉजी से भी अध्ययन कराया जाना चाहिए।

नदी के रुख को मोड़ने और ग्लेशियरों से बचाव के लिए सर्वेक्षण रिपोर्टों के आधार पर ट्रीटमेंट वर्क होना चाहिए।
- डा. रामनाथ सिंह फोनिया, निदेशक केदारनाथ संरक्षण योजना/भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण दिल्ली

ज़बर खबर : पढ़ना न भूलें

स्वीमिंग पूल में नहाते वक्त सरक गया हीरोइन का अंतर्वस्त्र

'ग्रैंड मस्ती' में बोल्ड किरदार निभाकर चर्चा में आने वाली अभिनेत्री के साथ नहाते वक्त कुछ ऐसा हुआ कि वो शर्म से पानी-पानी हो गईं।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

Tags »

kedarnath
Uttarakhand News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.


Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

बंद होने की कगार पर ग्रीनपीस इंडिया, निशाने पर सरकार

Greenpeace India on the verge of closure. ग्रीनपीस इंडिया पर बंद होने का खतरा मंडरा रहा है। पर्यावरण से जुड़े...

नेपाल भूकंप: 10 दिन बाद भी आ रहे झटके, सकते में लोग

Nepal earthquake: after the 10 days coming shocks. नेपाल में 25 अप्रैल को आए विनाशकारी भूकंप के 10 दिन बाद भी...

फिनायल नहीं, अब 'गोनाइल' के इस्तेमाल से होगी सफाई

Not phenyle now may used gonile. राजस्थान में अस्पतालों की सफाई फिनायल के बजाय अब गोमूत्र और अन्य गौ...

ये लो चाकू... कत्ल करके आए हैं, लाश उठा लाओ

brutally murdered in moradabad, two caught पुलिस और मुखबिर के खौफ से तंग आकर दो युवकों ने ऐसा खौफनाक...

ख़बरें राज्यों से

मध्यप्रदेश के पन्‍ना में भीषण बस हादसा, 30 की मौत

20 people killed in bus accicdent in mp panna मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में भीषण सड़क हादसे में 30 लोगों के मारे...

क्लेम के लिए बैंक ने मांगा भूकंप आने का सर्टिफिकेट

The Bank sought of earthquakes Certificate for clam जिन लोगों ने अपने घरों, दुकानों और अन्य प्रॉपर्टी का बीमा करा...

एमपीः बाथरूम में विदेशी पर्यटक का वीडियो क्लिप बनाते व्यक्ति गिरफ्तार

man arrest in offence of make video clip होटल के बाथरूम में नहा रही एक विदेशी पर्यटक लड़की का वीडियो क्लिप...

आईपीएस ने हेलीकॉप्टर में जाने से किया मना, खतरे में डाली अपनी जान

nepal disaster: ips officer saroj भूकम्प के बाद एवरेस्ट पर 5340 मीटर की ऊंचाई पर फंसी झुंझनूं जिले...
Uttarakhand News in Hindi - Get the latest news of Uttarakhand in Hindi - Saar se Vistaar tak only on Amarujala.com. Keep yourself up-to-date about the recent incidents, current affairs and daily news of Uttarakhand cities including Dehradun, Haridwar, Nainital, Almorah and other major cities of Uttarakhand. Read daily Uttarakhand news in Hindi on Amarujala.com and get unbiased analytical views on recent events and incidents in Uttarakhand.