Breaking News in Hindi Saturday, April 25, 2015

Home > City > Varanasi >

राशनकार्ड में मनमाना फेरबदल नहीं हो सकेगा

वाराणसी। अबकी कंप्यूटराइज्ड राशन कार्ड जारी होंगे। सारा विवरण पहले कंप्यूटर में अंकित किया जाएगा। इसी डाटा बैंक के आधार पर कार्डों की प्रिंटिंग होगी। कार्ड पर काटकर नया विवरण नहीं भरा जा सकेगा। पहले विभागीय डाटा को दुरुस्त करना होगा। उसके बाद संशोधित विवरण कार्ड पर छापा जाएगा। हर उपभोक्ता के कार्ड का कोड अलग होगा। इंटरनेट पर नंबर डालते ही उसके परिवार का विवरण प्राप्त हो जाएगा। कार्ड बनने के बाद विवरण केंद्र सरकार को भेजा जाएगा। इसके आधार पर कैश सब्सिडी योजना लागू करना भी संभव होगा।
राशन कार्ड बनाने की प्रक्रिया 16 अप्रैल से शुरू की जाएगी। इस काम में विभिन्न विभागों के कर्मचारियों का सहयोग लिया जाएगा। गरीबी रेखा के ऊपर के राशन कार्ड का फार्म 16 से 25 अप्रैल तक भरवाया जाएगा। बीपीएल एवं अंत्योदय कार्डधारकों का सर्वेक्षण 26 अप्रैल से शुरू होगा। परिवार के मुखिया से आवेदनपत्र भरवाए जाएंगे और उनकी दो फोटोग्राफ भी ली जाएगी। फार्म के विवरण को कंप्यूटर में फीड किया जाएगा। राशन कार्ड पर कंप्यूटर से ही परिवार का विवरण छापा जाएगा। जिला पूर्ति अधिकारी पार्थ अच्युत ने बताया कि मैनुअल तरीके से बनने वाले राशन कार्ड में लोग गलत तरीके से नाम बढ़ा देते हैं। नए कार्ड में मैनुअल तरीके से इंट्री संभव नहीं हो पाएगी। किसी तरह का संशोधन भी विभागीय साफ्टवेयर के माध्यम से ही हो पाएगा। परिवार के मुखिया का हस्ताक्षर भी डाटा में रहेगा।
खाद्य मंत्री ने विधानसभा में बयान दिया था कि नए कार्ड बायोमैट्रिक होंगे पर इसपर अमल नहीं हो पाया। बायोमैट्रिक कार्ड के लिए दुकानों पर स्वैप मशीन, उनको बनाने वाले उपकरण की जरूरत पड़ती है। एडीएम नागरिक आपूर्ति का कहना है कि केंद्र सरकार की मंशा के अनुरूप ही शासन ने यह निर्णय लिया है।

ज़बर खबर : पढ़ना न भूलें

इस तरह सांपों को भट्टी में जलाकर बनाया जाता है हैंडबैग

स्टाइलिश दिखने वाले हैंडबैग किस तरह बनाए जाते हैं। ये जानकर आपके होश उड़ जाएंगे।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

Varanasi News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.


Share on Social Media