Hindi News Friday, August 28, 2015
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > State > Uttar Pradesh > Uptet Case Referred To Full Bench Of The Allahabad Highcourt

UPTET: रुकी रहेगी भर्ती, मामला फुल बेंच को रेफर

uptet case referred to full bench of the allahabad highcourt
उत्तर प्रदेश में सहायक अध्यापकों की भर्ती पर फिलहाल रोक लगी रहेगी। सहायक अध्यापकों की भर्ती टीईटी मेरिट पर होगी या शैक्षिक गुणांक पर, इस मामले की सुनवाई की जिम्मेदारी अब तीन जजों की फुल बेंच को सौंप दी गई है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट में मामले की सुनवाई कर रही खंडपीठ ने मंगलवार को वैधानिक दिक्‍कतों को ध्यान में रखकर, इसे फुल बेंच को भेजने का निर्णय लिया।

गौरतलब है कि बीएड अभ्यर्थियों के एक मामले में सुनाए गए खंडपीठ के आदेश की सुनवाई की जिम्‍मेदारी भी इसी बेंच के पास है। इस प्रकरण को मुख्य न्यायाधीश के समक्ष भेज दिया गया है।

मंगलवार को सहायक अध्यापकों की भर्ती के मामले में सुनवाई कर रही न्यायमूर्ति सुशील हरकौली और न्यायमूर्ति मनोज मिश्र की खंडपीठ को अवगत कराया गया कि बीएड अ‌भ्यर्थियों से संबंधित प्रभाकर सिंह केस में दिए खंडपीठ के फैसले को स्पष्टीकरण के लिए फुल बेंच को रैफर कर दिया है।

प्रभाकर सिंह केस में खंडपीठ ने बीएड अभ्यर्थियों को बिना टीईटी उत्तीर्ण किए सहायक अध्यापक भर्ती प्रक्रिया में शामिल करने का निर्देश दिया था। कोर्ट का कहना था कि यदि इस स्तर पर मौजूदा याचिका पर कोई आदेश दिया जाता है और वह फुल बेंच के निर्णय, जो कि अभी आना बाकी है, से असंगत होता है तो वैधानिक समस्या खड़ी हो सकती है।

कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि इस स्थिति में यदि दोनों मामले एक साथ सुने जाएं तो बेहतर होगा।

टीईटी की गड़बड़ी की फिर शुरु हुई जांच

टीईटी-2011 में धांधली में कुछ और अफसरों पर गाज गिर सकती है। इस मामले की एक बार फिर विभागीय जांच कराने की तैयारी हो रही है। इसमें यह पता लगाया जाएगा कि संजय मोहन के साथ धांधली में और कौन-कौन दोषी है।

हाल ही में तत्कालीन माध्यमिक शिक्षा परिषद की सचिव प्रभा त्रिपाठी से इस बाबत स्पष्टीकरण भी मांगा गया था। उन्होंने स्पष्टीकरण का जवाब तो दे दिया है, लेकिन उच्चाधिकारी उनके जवाब से संतुष्ट नहीं हैं। विभागीय सूत्रों के मुताबिक, उनके खिलाफ कभी भी कार्रवाई की जा सकती है।

गौरतलब है कि शिक्षा का अधिकार अधिनियम लागू होने के बाद शिक्षक बनने के लिए टीईटी पास होना अनिवार्य कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश में नवंबर 2011 में टीईटी आयोजित कराई गई। इसे कराने में तत्कालीन माध्यमिक शिक्षा परिषद के निदेशक संजय मोहन और सचिव प्रभा त्रिपाठी की महत्वपूर्ण भूमिका थी।

बाद में गड़बड़ी के आरोप में संजय मोहन को गिरफ्तार कर लिया गया।

भारत मैट्रीमोनी - Register FREE

Sponsored

ज़बर खबर : पढ़ना न भूलें

भारत को पीछे छोड़ तीसरी सबसे बड़ी ताकत बन जाएगा पाकिस्तान

अगले एक दशक में पाकिस्तान भारत को बहुत पीछे छोड़ अमेरिका और रूस के बाद दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी ताकत बन जाएगा।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

Uttar Pradesh News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.


सम्बंधित फोटो गैलरी

  • cii partnership summit 2013
  • beauty contest in farrukhabad
  • saifai festival scene

Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

आज है हॉकी के 'जादूगर' का जन्मदिन, जानिए इनकी 10 अनसुनी कहानियां

major dhyan chand's birthday on 29th august हॉकी के 'जादूगर' मेजर ध्यानचंद की आज 110वीं जयंती है। जानिए, उनके जीवन...

रंग लाई रोशनी की मुहिम, बुजुर्ग महिला को मिला अपना घर

amar ujala 's brilliant work इंटर कालेज की छात्रा रोशनी ने ‘पुलिस की पाठशाला’ में उठाया था मामला,...

इसी गुफा में छिपा था आतंकी सज्जाद हुसैन, देखें तस्वीरें

Terrorist caught by BSF and his hiding place भारतीय सेना ने पिछले दो दिनों में तीन आतंकियों को मारने में कामयाब...

वैदेही ने मोदी से पूछा, अब मेरा और मेरी बहन का क्या होगा?

lathicharge victim family ask to Narendra Modi गुजरात में पटेल आरक्षण आंदोलन के बाद हुई हिंसा में अहमदाबाद के नीलेश...

ख़बरें राज्यों से

एक IFS अफसर जो दुनियाभर में बजा रहा भारत का डंका

A IFS officer who is the world champion on power lifting सिविल सेवा के अधिकारी गाहे बगाहे सुर्खियों में रहते हैं लेकिन छत्तीसगढ़ का...

मां-बाप के खिलाफ कोर्ट पहुंची 15 साल की लड़की, चौंका देगी वजह

15 years old girl reached court against her parents उदयपुर के स्पेशल कोर्ट में एक ऐसी याचिका पहुंची जिसे देखकर हर कोई...

पटना ट्रेन हादसाः सामने आई हादसे के पीछे की दर्दनाक कहानी

Patna train accident, five killed पटना में सुबह हुए हृदयविदारक ट्रेन हादसे के पीछे एक दर्दनाक कहानी सामने...

राजनीतिक गुंडागर्दी पर उतरी केन्द्र सरकारः केजरी

Aap worker shown black flag to Arvind kejriwal दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने पटना में नीतीश कुमार के मंच से केन्द्र...
UP News in Hindi - Get the latest news of up in Hindi - Saar se Vistaar tak! only on Amarujala.com. Keep yourself up-to-date about the recent incidents, current affairs and daily news of Uttar Pradesh cities including Lucknow, Agra, Allahabad, Varanasi, Kanpur, Gorakhpur, Moradabad, Noida, Ghaziabad and other major cities of UP. Read daily UP news in Hindi on Amarujala.com and get unbiased analytical views on recent events and incidents in Uttar Pradesh.