Breaking News in Hindi Thursday, May 28, 2015
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > State > Uttar Pradesh > Uptet Case Referred To Full Bench Of The Allahabad Highcourt

UPTET: रुकी रहेगी भर्ती, मामला फुल बेंच को रेफर

uptet case referred to full bench of the allahabad highcourt
उत्तर प्रदेश में सहायक अध्यापकों की भर्ती पर फिलहाल रोक लगी रहेगी। सहायक अध्यापकों की भर्ती टीईटी मेरिट पर होगी या शैक्षिक गुणांक पर, इस मामले की सुनवाई की जिम्मेदारी अब तीन जजों की फुल बेंच को सौंप दी गई है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट में मामले की सुनवाई कर रही खंडपीठ ने मंगलवार को वैधानिक दिक्‍कतों को ध्यान में रखकर, इसे फुल बेंच को भेजने का निर्णय लिया।

गौरतलब है कि बीएड अभ्यर्थियों के एक मामले में सुनाए गए खंडपीठ के आदेश की सुनवाई की जिम्‍मेदारी भी इसी बेंच के पास है। इस प्रकरण को मुख्य न्यायाधीश के समक्ष भेज दिया गया है।

मंगलवार को सहायक अध्यापकों की भर्ती के मामले में सुनवाई कर रही न्यायमूर्ति सुशील हरकौली और न्यायमूर्ति मनोज मिश्र की खंडपीठ को अवगत कराया गया कि बीएड अ‌भ्यर्थियों से संबंधित प्रभाकर सिंह केस में दिए खंडपीठ के फैसले को स्पष्टीकरण के लिए फुल बेंच को रैफर कर दिया है।

प्रभाकर सिंह केस में खंडपीठ ने बीएड अभ्यर्थियों को बिना टीईटी उत्तीर्ण किए सहायक अध्यापक भर्ती प्रक्रिया में शामिल करने का निर्देश दिया था। कोर्ट का कहना था कि यदि इस स्तर पर मौजूदा याचिका पर कोई आदेश दिया जाता है और वह फुल बेंच के निर्णय, जो कि अभी आना बाकी है, से असंगत होता है तो वैधानिक समस्या खड़ी हो सकती है।

कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि इस स्थिति में यदि दोनों मामले एक साथ सुने जाएं तो बेहतर होगा।

टीईटी की गड़बड़ी की फिर शुरु हुई जांच

टीईटी-2011 में धांधली में कुछ और अफसरों पर गाज गिर सकती है। इस मामले की एक बार फिर विभागीय जांच कराने की तैयारी हो रही है। इसमें यह पता लगाया जाएगा कि संजय मोहन के साथ धांधली में और कौन-कौन दोषी है।

हाल ही में तत्कालीन माध्यमिक शिक्षा परिषद की सचिव प्रभा त्रिपाठी से इस बाबत स्पष्टीकरण भी मांगा गया था। उन्होंने स्पष्टीकरण का जवाब तो दे दिया है, लेकिन उच्चाधिकारी उनके जवाब से संतुष्ट नहीं हैं। विभागीय सूत्रों के मुताबिक, उनके खिलाफ कभी भी कार्रवाई की जा सकती है।

गौरतलब है कि शिक्षा का अधिकार अधिनियम लागू होने के बाद शिक्षक बनने के लिए टीईटी पास होना अनिवार्य कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश में नवंबर 2011 में टीईटी आयोजित कराई गई। इसे कराने में तत्कालीन माध्यमिक शिक्षा परिषद के निदेशक संजय मोहन और सचिव प्रभा त्रिपाठी की महत्वपूर्ण भूमिका थी।

बाद में गड़बड़ी के आरोप में संजय मोहन को गिरफ्तार कर लिया गया।

ज़बर खबर : पढ़ना न भूलें

मोदी की रैली में कौन थे ये 'नकाब' वाले शख्स?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मथुरा में हुई रैली के दौरान पंडाल में मौजूद दो शख्स सफेद कपड़े से अपना चेहरा ढके हुए थे। आखिर कौन थे ये?

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

Uttar Pradesh News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.


सम्बंधित फोटो गैलरी

  • cii partnership summit 2013
  • beauty contest in farrukhabad
  • saifai festival scene

Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

कम होगा प्रीमियम ट्रेनों का किराया, जानिए कितना और कब से?

premium train fair cut down soon मुसाफिरों पर बोझ बन गईं प्रीमियम ट्रेनों को एक बार फिर लोगों से...

पगड़ी का उड़ाया मजा‌क, तो बरसे मुक्के ही मुक्के

sikh boy fights teaches bully a lesson किसी सिख व्यक्ति का मजा‌क उड़ाने से पहले एक बार जरूर सोच लें।...

ड्वेन ब्रावो ने जब किया एक भारतीय लड़की को प्रपोज

dwayne bravo official video music launch ड्वेन ब्रावो ने एक वीडियो में एक भारतीय लड़की को प्रपोज करके सनसनी...

कालेधन पर भाजपा सांसद ने दिया विवादित बयान

Sonaram controversial statement on black money issue. मोदी सरकार के एक साल पर भाजपा सांसद कर्नल सोनाराम ने कुछ ऐसा...

ख़बरें राज्यों से

चाइल्ड लिफ्टर गैंग की अफवाह में अनजान को मार रही भीड़

mob killed a person rumours of child lifter gang रायपुर के आसपास लोग बच्चा उठाने वाले गिरोह की अफवाह से इस कदर...

गुर्जर आंदोलनः हाईकोर्ट ने दिया बड़ा आदेश

gurjar andolan: Rajsthan highcourt gave order to empty track आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे गुर्जरों के प्रति राजस्थान हाई...

राजस्‍थान का 'साइबर विलेज', जहां हैरत में पड़ गए थे जुकरबर्ग

In a village of rajasthan zuckerberg were happy saw the facebook राजस्थान के अलवर में चंदौली गांव के साइबर सेंटर में कंप्यूटर और इंटरनेट...

बिहार पुलिस को अब मिलेगा 13 माह का वेतन

Bihar police will get 13 month salary बिहार में पुलिसकर्मियों को अब 12 की जगह 13 माह का वेतन मिलेगा।...
UP News in Hindi - Get the latest news of up in Hindi - Saar se Vistaar tak! only on Amarujala.com. Keep yourself up-to-date about the recent incidents, current affairs and daily news of Uttar Pradesh cities including Lucknow, Agra, Allahabad, Varanasi, Kanpur, Gorakhpur, Moradabad, Noida, Ghaziabad and other major cities of UP. Read daily UP news in Hindi on Amarujala.com and get unbiased analytical views on recent events and incidents in Uttar Pradesh.