Breaking News in Hindi Thursday, July 02, 2015
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > State > Uttar Pradesh > Uptet Case Referred To Full Bench Of The Allahabad Highcourt

UPTET: रुकी रहेगी भर्ती, मामला फुल बेंच को रेफर

uptet case referred to full bench of the allahabad highcourt
उत्तर प्रदेश में सहायक अध्यापकों की भर्ती पर फिलहाल रोक लगी रहेगी। सहायक अध्यापकों की भर्ती टीईटी मेरिट पर होगी या शैक्षिक गुणांक पर, इस मामले की सुनवाई की जिम्मेदारी अब तीन जजों की फुल बेंच को सौंप दी गई है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट में मामले की सुनवाई कर रही खंडपीठ ने मंगलवार को वैधानिक दिक्‍कतों को ध्यान में रखकर, इसे फुल बेंच को भेजने का निर्णय लिया।

गौरतलब है कि बीएड अभ्यर्थियों के एक मामले में सुनाए गए खंडपीठ के आदेश की सुनवाई की जिम्‍मेदारी भी इसी बेंच के पास है। इस प्रकरण को मुख्य न्यायाधीश के समक्ष भेज दिया गया है।

मंगलवार को सहायक अध्यापकों की भर्ती के मामले में सुनवाई कर रही न्यायमूर्ति सुशील हरकौली और न्यायमूर्ति मनोज मिश्र की खंडपीठ को अवगत कराया गया कि बीएड अ‌भ्यर्थियों से संबंधित प्रभाकर सिंह केस में दिए खंडपीठ के फैसले को स्पष्टीकरण के लिए फुल बेंच को रैफर कर दिया है।

प्रभाकर सिंह केस में खंडपीठ ने बीएड अभ्यर्थियों को बिना टीईटी उत्तीर्ण किए सहायक अध्यापक भर्ती प्रक्रिया में शामिल करने का निर्देश दिया था। कोर्ट का कहना था कि यदि इस स्तर पर मौजूदा याचिका पर कोई आदेश दिया जाता है और वह फुल बेंच के निर्णय, जो कि अभी आना बाकी है, से असंगत होता है तो वैधानिक समस्या खड़ी हो सकती है।

कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि इस स्थिति में यदि दोनों मामले एक साथ सुने जाएं तो बेहतर होगा।

टीईटी की गड़बड़ी की फिर शुरु हुई जांच

टीईटी-2011 में धांधली में कुछ और अफसरों पर गाज गिर सकती है। इस मामले की एक बार फिर विभागीय जांच कराने की तैयारी हो रही है। इसमें यह पता लगाया जाएगा कि संजय मोहन के साथ धांधली में और कौन-कौन दोषी है।

हाल ही में तत्कालीन माध्यमिक शिक्षा परिषद की सचिव प्रभा त्रिपाठी से इस बाबत स्पष्टीकरण भी मांगा गया था। उन्होंने स्पष्टीकरण का जवाब तो दे दिया है, लेकिन उच्चाधिकारी उनके जवाब से संतुष्ट नहीं हैं। विभागीय सूत्रों के मुताबिक, उनके खिलाफ कभी भी कार्रवाई की जा सकती है।

गौरतलब है कि शिक्षा का अधिकार अधिनियम लागू होने के बाद शिक्षक बनने के लिए टीईटी पास होना अनिवार्य कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश में नवंबर 2011 में टीईटी आयोजित कराई गई। इसे कराने में तत्कालीन माध्यमिक शिक्षा परिषद के निदेशक संजय मोहन और सचिव प्रभा त्रिपाठी की महत्वपूर्ण भूमिका थी।

बाद में गड़बड़ी के आरोप में संजय मोहन को गिरफ्तार कर लिया गया।

ज़बर खबर : पढ़ना न भूलें

एयर होस्टेस ने खोली विमान में अय्याशियों की पोल

आधी रात को विमान की बत्तियां बंद होते ही पैसे वालों का मुखौटा उतर जाता था। पढ़ें और क्या-क्या है 'केबिन फीवर' में।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

Uttar Pradesh News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.


सम्बंधित फोटो गैलरी

  • cii partnership summit 2013
  • beauty contest in farrukhabad
  • saifai festival scene

Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

'तीन दिनों के प्रेम में वो मर ही गया था'

widow fraud with lover प्रेम में पड़ना कभी कभी जानलेवा भी साबित हो जाता है। फ्रांस के...

‘अंग्रेज़ी नहीं आती’ का बहाना नहीं चलेगा

english is important for career growth दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश जैसे हिंदीभाषी राज्यों में 40...

राजनीतिक पार्टी बनाएंगे ललित मोदी, लोगों से मांग रहे आवेदन

now lalit modi will create political party ललित मोदी ने कुछ अलग तरह का ट्वीट किया है। राजनीतिक पार्टी बनाने...

भारत ने खोजे हैं ग्रीस सकंट से बचने के रास्ते

greece debt crisis and impact on india कर्ज ना चुका पाने के कारण ग्रीस का आर्थिक संकट गहरा गया है...

ख़बरें राज्यों से

'जींस नहीं पहनेंगी और मोबाइल से दूर रहेंगी छोरियां'

rajasthan khaap banned mobile and jeans for girls राजस्‍थान के बाडमेर में एक खाप पंचायत युवतियों के मोबाइल इस्तेमाल करने और...

बिहार में गुस्साई भीड़ ने पीटकर मार डाले तीन बदमाश

Angry mob beat three gangsters killed in Bihar बिहार में कानून व्यवस्‍था इस कदर लचर होती दिख रही है कि लोग...

जगत सिंह के ट्वीट के बाद मुसीबत में वरुण गांधी

varun gandhi is in another trouble after jagat singh's tweet भाजपा विधायक जगत सिंह के ट्वीट के बाद भाजपा सांसद लमो मामले पर...

दूरदर्शन की अधिकारी को मंत्री ने दी मारने की धमकी

bihar's minister shyam rajak threat doordarshan's officer बिहार में जेडीयू के एक मंत्री पर दूरदर्शन की महिला अधिकारी ने जान...
UP News in Hindi - Get the latest news of up in Hindi - Saar se Vistaar tak! only on Amarujala.com. Keep yourself up-to-date about the recent incidents, current affairs and daily news of Uttar Pradesh cities including Lucknow, Agra, Allahabad, Varanasi, Kanpur, Gorakhpur, Moradabad, Noida, Ghaziabad and other major cities of UP. Read daily UP news in Hindi on Amarujala.com and get unbiased analytical views on recent events and incidents in Uttar Pradesh.