Breaking News in Hindi Thursday, April 02, 2015
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > State > Uttar Pradesh > Uptet Case Referred To Full Bench Of The Allahabad Highcourt

UPTET: रुकी रहेगी भर्ती, मामला फुल बेंच को रेफर

uptet case referred to full bench of the allahabad highcourt
उत्तर प्रदेश में सहायक अध्यापकों की भर्ती पर फिलहाल रोक लगी रहेगी। सहायक अध्यापकों की भर्ती टीईटी मेरिट पर होगी या शैक्षिक गुणांक पर, इस मामले की सुनवाई की जिम्मेदारी अब तीन जजों की फुल बेंच को सौंप दी गई है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट में मामले की सुनवाई कर रही खंडपीठ ने मंगलवार को वैधानिक दिक्‍कतों को ध्यान में रखकर, इसे फुल बेंच को भेजने का निर्णय लिया।

गौरतलब है कि बीएड अभ्यर्थियों के एक मामले में सुनाए गए खंडपीठ के आदेश की सुनवाई की जिम्‍मेदारी भी इसी बेंच के पास है। इस प्रकरण को मुख्य न्यायाधीश के समक्ष भेज दिया गया है।

मंगलवार को सहायक अध्यापकों की भर्ती के मामले में सुनवाई कर रही न्यायमूर्ति सुशील हरकौली और न्यायमूर्ति मनोज मिश्र की खंडपीठ को अवगत कराया गया कि बीएड अ‌भ्यर्थियों से संबंधित प्रभाकर सिंह केस में दिए खंडपीठ के फैसले को स्पष्टीकरण के लिए फुल बेंच को रैफर कर दिया है।

प्रभाकर सिंह केस में खंडपीठ ने बीएड अभ्यर्थियों को बिना टीईटी उत्तीर्ण किए सहायक अध्यापक भर्ती प्रक्रिया में शामिल करने का निर्देश दिया था। कोर्ट का कहना था कि यदि इस स्तर पर मौजूदा याचिका पर कोई आदेश दिया जाता है और वह फुल बेंच के निर्णय, जो कि अभी आना बाकी है, से असंगत होता है तो वैधानिक समस्या खड़ी हो सकती है।

कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि इस स्थिति में यदि दोनों मामले एक साथ सुने जाएं तो बेहतर होगा।

टीईटी की गड़बड़ी की फिर शुरु हुई जांच

टीईटी-2011 में धांधली में कुछ और अफसरों पर गाज गिर सकती है। इस मामले की एक बार फिर विभागीय जांच कराने की तैयारी हो रही है। इसमें यह पता लगाया जाएगा कि संजय मोहन के साथ धांधली में और कौन-कौन दोषी है।

हाल ही में तत्कालीन माध्यमिक शिक्षा परिषद की सचिव प्रभा त्रिपाठी से इस बाबत स्पष्टीकरण भी मांगा गया था। उन्होंने स्पष्टीकरण का जवाब तो दे दिया है, लेकिन उच्चाधिकारी उनके जवाब से संतुष्ट नहीं हैं। विभागीय सूत्रों के मुताबिक, उनके खिलाफ कभी भी कार्रवाई की जा सकती है।

गौरतलब है कि शिक्षा का अधिकार अधिनियम लागू होने के बाद शिक्षक बनने के लिए टीईटी पास होना अनिवार्य कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश में नवंबर 2011 में टीईटी आयोजित कराई गई। इसे कराने में तत्कालीन माध्यमिक शिक्षा परिषद के निदेशक संजय मोहन और सचिव प्रभा त्रिपाठी की महत्वपूर्ण भूमिका थी।

बाद में गड़बड़ी के आरोप में संजय मोहन को गिरफ्तार कर लिया गया।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

Uttar Pradesh News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.


सम्बंधित फोटो गैलरी

  • cii partnership summit 2013
  • beauty contest in farrukhabad
  • saifai festival scene

Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

बंगलूरू: कॉलेज हॉस्टल में लड़की की गोली मारकर हत्या

Firing in college hostel in bangluru. बंगलूरू में एक कॉलेज के कर्मचारी ने गर्ल्स हॉस्टल में घुसकर एक छात्रा...

पूर्व BJP नेता जसवंत सिंह आईसीयू में भर्ती

Former BJP leader Jaswant Singh admitted in ICU. पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा के पूर्व नेता जसवंत सिंह को अस्पताल में...

मोदी के वाराणसी प्रेम पर जुकरबर्ग भी हुए फिदा

modi create new facebook page on varanasi टेक्नॉलोजी प्रेमी माने जाने वाले प्रधानमंत्री मोदी के वाराणसी प्रेम ने फेसबुक के...

तस्वीरें: तो ऐसे तब खत्म हो जाएगी पूरी दुनिया!

pictures earth end will come soon ऐसे तथ्य सामने आएं हैं जिससे पता चला है कि कैसे पूरी दुनिया...

ख़बरें राज्यों से

बिहारः नकल के बाद अब एक और बड़ा फर्जीवाड़ा

forgery in bihar police recruitment बोर्ड परीक्षाओं में नकल के बाद से बिहार एक बार फिर से चर्चा...

दहेज में नहीं दी भैंस तो बेटी समेत जिंदा जलाया

bihar: bride and her doughter murder in dowry matter भैंस की मांग पूरी न होने पर विवाहिता को उसकी बेटी समेत जिंदा...

झारखंडः मुठभेड़ में दो नक्सली ढेर, मह‌िला नक्‍सली घायल

two naxali killed in police opration jharkhand झारखंड के लातेहार में सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में दो नक्सली...

एबीवीपी पर लाठी चार्ज के विरोध में बिहार विधानसभा में हंगामा

bjp MLA protest in bihar assembly एबीवीपी के सदस्यों पर किए गए लाठी चार्ज के विरोध में शुक्रवार को...
UP News in Hindi - Get the latest news of up in Hindi - Saar se Vistaar tak! only on Amarujala.com. Keep yourself up-to-date about the recent incidents, current affairs and daily news of Uttar Pradesh cities including Lucknow, Agra, Allahabad, Varanasi, Kanpur, Gorakhpur, Moradabad, Noida, Ghaziabad and other major cities of UP. Read daily UP news in Hindi on Amarujala.com and get unbiased analytical views on recent events and incidents in Uttar Pradesh.