Breaking News in Hindi Friday, October 31, 2014
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > State > Uttar Pradesh > Muslims First Govt Later Says Mulayam

मुसलमानों का हित पहले, सरकार बाद में: मुलायम

समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने रविवार को कहा कि मुसलमानों का हित पहले है और सरकार बाद में। उन्होंने प्रदेश में आतंकवाद के आरोप में जेलों में बंद बेगुनाह मुसलमानों को जल्द रिहा करने की घोषणा की।

लखनऊ में जमीयत उलमा हिंद द्वारा आयोजित कार्यक्रम में मुलायम सिंह यादव ने मुसलमानों को अपना सच्चा हमदर्द बताया। उन्होंने कहा कि सरकार बनाने में मुसलमानों ने जो सहयोग दिया, जिस तरह उन पर भरोसा जताया, उसे सपा की सरकार कभी भुला नहीं सकती।

प्रतापगढ़ में क्षेत्राधिकारी जिया उल हक की हत्या, प्रदेश में पिछले वर्ष हुए दंगों और जामा मस्जिद के शाही इमाम मौलाना बुखारी के समाजवादी पार्टी से अलग होने के बाद मुलायम के इस बयान को अब तक हुए राजनीतिक नुकसान की भरपाई करने की कोशिश के रूप में देखा जा रहा है।

मुलायम सिंह यादव ने कहा, ' संसद हो, सड़क हो अथवा सरकार, सपा हमेशा अल्पसंख्यकों के हित की लड़ाई लड़ती रही है और आगे भी लड़ती रहेगी।'

मुलायम ने कहा कि मुसलमानों ने उन्हें मुख्यमंत्री बनाने के लिए वोट दिया था लेकिन उन्होंने अखिलेश को मुख्यमंत्री इसलिए बनवाया ताकि वह दिल्ली में रहकर अल्पसंख्यकों की आवाज उठा सकें।

हाल ही में मौलाना अहमद बुखारी द्वारा सपा सरकार की आलोचना किए जाने पर उन्होंने बुखारी का नाम लिए बगैर कहा कि मुसलमानों को प्रदेश सरकार की नीति व नीयत दोनों को देखना चाहिए।

प्रदेश सरकार में 11 मुसलमान मंत्री

मुलायम ने कहा कि प्रदेश सरकार में 11 मंत्री मुसलमान हैं। कई विधायक भी मुसलमान हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्य सचिव भी मुसलमान हैं। ये सभी लोग मुसलमानों का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, 'प्रदेश की जेलो में बंद निर्दोष मुसलमानों की रिहाई के मामले में सरकार अच्छे नतीजे निकलाने की कोशिश कर रही है। यह भी कोशिश हो रही है कि जहां अदालतों का सहारा लेने की जरूरत हो, वहां अदालतों की मदद ली जाए। इसके लिए डीजीपी व मुख्य सचिव विचार-विमर्श कर रहे हैं।'

राजा भैया की गिरफ्तारी की मांग

जमीयत के कार्यक्रम में राजा भैया की गिरफ्तारी की मांग में नारे भी लगे। कार्यक्रम में लोगों ने मुलायम के सामने क्षेत्राधिकारी जिला उल हक की हत्या के आरोपी राजा भैया की गिरफ्तारी की मांग की।

मुलायम ने कहा कि यह मामला इस मंच से उठाना ठीक नहीं हैं। यहां मजलूमों ओर बेकसूरों को इंसाफ मिलने की आवाज उठ रही है। एक मंच से दो आवाज उठाना ठीक नहीं है। सरकार पूरे मामले को गंभीरता से ले रही है।

दंगा नियंत्रण कानून और आरक्षण


कार्यक्रम में जमीयत उलमा के संरक्षक असजद मदनी ने मुलायम को दंगा विरोधी कानून और मुसलमानों को 18 फीसदी आरक्षण का वादा भी याद दिलाया।

उन्होंने कहा कि संविधान में अब तक 117 संशोधन किए जा चुके हैं। इसलिए एक और संशोधन होना बहुत मुश्किल काम नहीं है।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

Uttar Pradesh News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.

Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

2जी घोटाले में राजा समेत 19 पर आरोप तय

Raja, Kanimozhi, Dayalu charged with money laundering in 2G scam case 2जी घोटाले में पूर्व मंत्री ए राजा, और कनिमोझी समेत 10 व्यक्तियों और...

मोदी दौड़े तो दौड़ पड़ा पूरा देश, देखिए तस्वीरें

run for unity at sardar patel birth anniversary देश के प्रथम गृह मंत्री सरदार पटेल की जयंती पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी...

समलैंगिक बनाकर ईश्वर ने मुझे तोहफा दिया: एप्पल सीईओ

apple tim cook says he is gay जानीमानी कपंनी एप्पल के सीईओ टिम कुक समलैंगिक हैं। उन्होंने पहली बार सार्वजनिक...

छेड़छाड़ का वीडियो दिखाने वाली अभिनेत्री को रेप की धमकी

Shoshana Roberts newyork 10 घंटे में एक अभिनेत्री के साथ हुई 100 से ज्यादा बार छेड़छाड़।...

ख़बरें राज्यों से

बीजेपी विधायक के निशाने पर वसुंधरा!

BJP legislator targets cm Raje. वसुंधरा मंत्रिमण्डल में जगह नहीं पाने के कारण भाजपा विधायक और वरिष्ठ नेता...

भंवरी मामला: आरोपी पूर्व मंत्री मदेरणा को सशर्त जमानत

Bhanwari case: Accused minister Maderna conditional bail. राजस्थान के चर्चित भंवरी देवी केस में आरोपी पूर्व मंत्री महिपाल मदेरणा को...

वसुंधरा टीम का विस्तार, 15 नए मंत्री शामिल

Vasundhara cabinet expanded. राजस्थान में महीनों से चल रही मंत्रीमंडल विस्तार की चर्चाओं पर आखिरकार विराम...

नि:शक्तों को सरकारी नौकरी में आरक्षण की तैयारी

rajasthan government new plan. राजस्थान में सरकारी नौकरियों में नि:शक्तों को अब 3 की जगह 5 प्रतिशत...
UP News in Hindi - Get the latest news of up in Hindi - Saar se Vistaar tak! only on Amarujala.com. Keep yourself up-to-date about the recent incidents, current affairs and daily news of Uttar Pradesh cities including Lucknow, Agra, Allahabad, Varanasi, Kanpur, Gorakhpur, Moradabad, Noida, Ghaziabad and other major cities of UP. Read daily UP news in Hindi on Amarujala.com and get unbiased analytical views on recent events and incidents in Uttar Pradesh.