Breaking News in Hindi Thursday, August 21, 2014
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > State > Uttar Pradesh > Muslims First Govt Later Says Mulayam

मुसलमानों का हित पहले, सरकार बाद में: मुलायम

समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने रविवार को कहा कि मुसलमानों का हित पहले है और सरकार बाद में। उन्होंने प्रदेश में आतंकवाद के आरोप में जेलों में बंद बेगुनाह मुसलमानों को जल्द रिहा करने की घोषणा की।

लखनऊ में जमीयत उलमा हिंद द्वारा आयोजित कार्यक्रम में मुलायम सिंह यादव ने मुसलमानों को अपना सच्चा हमदर्द बताया। उन्होंने कहा कि सरकार बनाने में मुसलमानों ने जो सहयोग दिया, जिस तरह उन पर भरोसा जताया, उसे सपा की सरकार कभी भुला नहीं सकती।

प्रतापगढ़ में क्षेत्राधिकारी जिया उल हक की हत्या, प्रदेश में पिछले वर्ष हुए दंगों और जामा मस्जिद के शाही इमाम मौलाना बुखारी के समाजवादी पार्टी से अलग होने के बाद मुलायम के इस बयान को अब तक हुए राजनीतिक नुकसान की भरपाई करने की कोशिश के रूप में देखा जा रहा है।

मुलायम सिंह यादव ने कहा, ' संसद हो, सड़क हो अथवा सरकार, सपा हमेशा अल्पसंख्यकों के हित की लड़ाई लड़ती रही है और आगे भी लड़ती रहेगी।'

मुलायम ने कहा कि मुसलमानों ने उन्हें मुख्यमंत्री बनाने के लिए वोट दिया था लेकिन उन्होंने अखिलेश को मुख्यमंत्री इसलिए बनवाया ताकि वह दिल्ली में रहकर अल्पसंख्यकों की आवाज उठा सकें।

हाल ही में मौलाना अहमद बुखारी द्वारा सपा सरकार की आलोचना किए जाने पर उन्होंने बुखारी का नाम लिए बगैर कहा कि मुसलमानों को प्रदेश सरकार की नीति व नीयत दोनों को देखना चाहिए।

प्रदेश सरकार में 11 मुसलमान मंत्री

मुलायम ने कहा कि प्रदेश सरकार में 11 मंत्री मुसलमान हैं। कई विधायक भी मुसलमान हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्य सचिव भी मुसलमान हैं। ये सभी लोग मुसलमानों का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, 'प्रदेश की जेलो में बंद निर्दोष मुसलमानों की रिहाई के मामले में सरकार अच्छे नतीजे निकलाने की कोशिश कर रही है। यह भी कोशिश हो रही है कि जहां अदालतों का सहारा लेने की जरूरत हो, वहां अदालतों की मदद ली जाए। इसके लिए डीजीपी व मुख्य सचिव विचार-विमर्श कर रहे हैं।'

राजा भैया की गिरफ्तारी की मांग

जमीयत के कार्यक्रम में राजा भैया की गिरफ्तारी की मांग में नारे भी लगे। कार्यक्रम में लोगों ने मुलायम के सामने क्षेत्राधिकारी जिला उल हक की हत्या के आरोपी राजा भैया की गिरफ्तारी की मांग की।

मुलायम ने कहा कि यह मामला इस मंच से उठाना ठीक नहीं हैं। यहां मजलूमों ओर बेकसूरों को इंसाफ मिलने की आवाज उठ रही है। एक मंच से दो आवाज उठाना ठीक नहीं है। सरकार पूरे मामले को गंभीरता से ले रही है।

दंगा नियंत्रण कानून और आरक्षण


कार्यक्रम में जमीयत उलमा के संरक्षक असजद मदनी ने मुलायम को दंगा विरोधी कानून और मुसलमानों को 18 फीसदी आरक्षण का वादा भी याद दिलाया।

उन्होंने कहा कि संविधान में अब तक 117 संशोधन किए जा चुके हैं। इसलिए एक और संशोधन होना बहुत मुश्किल काम नहीं है।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

Uttar Pradesh News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more Hindi News.

Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

नवाज हटेंगे तो ही बातचीत होगी : इमरान खान

imran khan continues the protest against PM sharif in pakistan पाकिस्तान सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे इमरान खान ने कहा है कि...

जापान में भू-स्खलन, 39 मौतें

39 died in japan in landslides जापान के हिरोशिमा प्रांत में हुए भू-स्खलन में कम से कम 39 लोगों...

खुलेगा कालेधन का राज, SC के पास पहुंची रिपोर्ट!

Supreme court praise mb shah committee report on black money. सुप्रीम कोर्ट ने विदेशी बैंकों में जमा काले धन को वापस लाने की...

हर गांव को इंटरनेट से जोड़ने के लिए ये है 'प्लान मोदी'

Cabinate pass digital india project. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक अहम वादे को पूरा करने के लिए सरकार...

ख़बरें राज्यों से

बीजेपी में नेता पुत्रों और रिश्तेदारों को नहीं मिलेंगे टिकट

relatives will not receive tickets in BJP. राजस्थान में भाजपा ने चार सीटों पर होने वाले उपचुनावों के लिए नेताओं...

सचिन पायलट का चुनाव लड़ने से इंकार

Sachin Pilot refused to fight bypoll election. राजस्थान में उपचुनावों में उम्मीदवार बनने को लेकर चल रही अटकलों को प्रदेश...

गुरूद्वारे में लगाई आग, दो गिरफ्तार

fire in Sikh temple, two arrested. राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले में बुधवार तड़के गुरूद्वारे में आग लगा दी गई,...

मेरठ, बागपत और फलावदा में तनाव, हंगामा

communal tension in meerut, bagpat and Phalawada अलग-अलग कारणों से यूपी में मेरठ और बागपत के इलाके में सांप्रदायिक तनाव...
UP News in Hindi - Get the latest news of up in Hindi - Saar se Vistaar tak! only on Amarujala.com. Keep yourself up-to-date about the recent incidents, current affairs and daily news of Uttar Pradesh cities including Lucknow, Agra, Allahabad, Varanasi, Kanpur, Gorakhpur, Moradabad, Noida, Ghaziabad and other major cities of UP. Read daily UP news in Hindi on Amarujala.com and get unbiased analytical views on recent events and incidents in Uttar Pradesh.