Breaking News in Hindi Wednesday, July 23, 2014
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > State > Uttar Pradesh

UPTET-2013: बीएड वालों को केवल उच्‍च प्राइमरी में मौका

यूपीटीईटी-2013 के लिए विज्ञापन इसी महीने के आखिरी हफ्ते में निकाला जाएगा। टीईटी के लिए ऑनलाइन आवेदन लिए जाएंगे। आवेदन के लिए तीन हफ्ते का समय मिलेगा।

प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा सुनील कुमार ने इस संबंध में बुधवार को एक शासनादेश जारी कर दिया।

विज्ञापन के चार सप्ताह बाद परीक्षा होगी और चार सप्ताह में परीक्षा परिणाम घोषित किया जाएगा।


टीईटी के लिए ढाई घंटे का समय दिया जाएगा, यह पिछली बार की अपेक्षा एक घंटे अधिक है। बीएड वाले उच्च प्राइमरी के लिए पात्र होंगे।

भाषा शिक्षकों संस्कृत, अंग्रेजी और उर्दू के लिए अलग से परीक्षा होगी। टीईटी की जिम्मेदारी परीक्षा नियामक प्राधिकारी को दी गई है। प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा सुनील कुमार ने इस संबंध में बुधवार को शासनादेश जारी कर दिया है।

चार स्तर पर आयोजित होगी टीईटी


इस बार टीईटी चार स्तर पर आयोजित की जाएगी। प्राथमिक कक्षा 1 से 5, भाषा शिक्षा प्राथमिक, उच्च प्राथमिक कक्षा 6 से 8 तथा भाषा शिक्षा उच्च प्राथमिक स्तर की होगी।

इसके लिए 50 फीसदी अंक वाले पात्र होंगे। अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ा वर्ग, नि:शक्त, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी आश्रित, भूतपूर्व सैनिक (स्वयं) को 5 प्रतिशत अंक में छूट होगी।

इसके लिए सभी प्रश्न बहुविकल्पीय होंगे और चार विकल्प होंगे। निगेटिव मार्किंग नहीं की जाएगी। अनुसूचित जाति, जनजाति के लिए आवेदन शुल्क 150 और अन्य के लिए 300 होगा।

शुल्क ई चालान से बैंकों में जमा किए जाएंगे। अलग-अलग परीक्षा के लिए अलग-अलग शुल्क देने होंगे। नि:शक्तों से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा।

60 प्रतिशत अंक पर होगा पास


टीईटी में 60 प्रतिशत अंक पाने वाला पास माना जाएगा। अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ा वर्ग, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी आश्रित और भूतपूर्व सैनिक स्वयं तथा नि:शक्त को 55 प्रतिशत पर पास माना जाएगा।

टीईटी आयोजित कराने के लिए जिला स्तर पर जिलाधिकारियों की अध्यक्षता में कमेटी बनाई जाएगी। यह केवल पात्रता परीक्षा होगी। टीईटी पास करने वाला केवल भर्ती प्रक्रिया के लिए पात्र होगा।

टीईटी रोजगार का अधिकार नहीं देता है। इसका प्रमाण पत्र पांच साल के लिए वैध होगा। इसके खोने पर 300 रुपये जमा करके नया प्राप्त किया जा सकेगा।

कौन पात्र

-
कक्षा 1 से 5 तक: स्नातक के साथ बीटीसी, विशिष्ट बीटीसी, शिक्षा शास्त्र (विशेष शिक्षा), डीएड, सीटी नर्सरी, एनटीटी, दो वर्षीय बीटीसी उर्दू, 11 अगस्त 1997 से पूर्व मोअल्लिम-ए-उर्दू उपाधिधारक (केवल उर्दू शिक्षक के लिए) व एएलएड।

-कक्षा 6 से 8 तक: स्नातक के साथ बीटीसी, शिक्षा शास्त्र (विशेष शिक्षा), बीएड विशेष शिक्षा, बीएड, बीएससीएड, बीएएड, बीएलएड।

-भाषा शिक्षा संस्कृत तथा अंग्रेजी कक्षा 1 से 5 तक: स्नातक के साथ बीटीसी, शिक्षा शास्त्र (विशेष शिक्षा), डीएड, सीटी नर्सरी तथा एनटीटी।

-भाषा शिक्षा कक्षा 6 से 8 तक संस्कृत तथा अंग्रेजी: स्नातक के साथ बीटीसी, सीटी नर्सरी, शिक्षा शास्त्र (विशेष शिक्षा), बीएड विशेष शिक्षा व बीएड।

-उर्दू भाषा शिक्षा कक्षा 1 से 5 तक: उर्दू विषय में स्नातकोत्तर परीक्षा उत्तीर्ण, बीटीसी, दो वर्षीय बीटीसी उर्दू, अलीगढ़ मुस्लिम विवि से डिप्लोमा इन टीचिंग तथा 11 अगस्त 1997 के पूर्व मोअल्लिम-ए-उर्दू उपाधिधारक।

-उर्दू भाषा शिक्षा कक्षा 6 से 8 तक: उर्दू में स्नातकोत्तर, बीटीसी, बीटीसी उर्दू विशेष प्रशिक्षण, अलीगढ़ मुस्लिम विवि से डिप्लोमा इन टीचिंग तथा 11 अगस्त 1997 से पूर्व मोअल्लिम वाले।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

तस्वीरों में.. मनरेगा से पहले, मनरेगा के बाद

people before manrega and after manrega मध्य प्रदेश में बड़वानी जिले के पती इलाके को मशहूर फोटोग्राफर सोहराब हूरा...

छोटे कमरों के बाद अब शाकाहारी खाने की कमी से परेशान भारतीय

indian players unhappy with shortage of veg food पहले भारतीय खिलाड़ी अपने लिए मिले छोटे कमरों से परेशान थे अब वे...

ये छह वीडियो देख कर आपके होश उड़ जाएंगे

six shocking video of flood in india देश के कई इलाकों में बारिश कहर बरपा रही है। चेतावनी के बावजूद...

करारी हार और बगावती तेवरों से हलकान कांग्रेस

after defeat congress rebels creats tension लोकसभा चुनाव कांग्रेस पार्टी के लिए सुनामी साबित हुआ। इसका असर अब तक...

ख़बरें राज्यों से

देखें वीडियो, कैसे बाइक समेत युवक समा गया पानी में

man washed away in Betul मध्य प्रदेश के बैतूल से एक दिल दहला देने वाला वीडियो सामने आया...

कांवड़िए की हत्या कर शव पेड़ से टांगा

kanwadiya_killed_jharkhand लाश को गमछे के सहारे पलाश के पेड़ से लटका दिया गया, आशंका...

'सांस का दुश्मन' बना एक पेड़

chhattisgarh_cg_tree_asthma छत्तीसगढ़ के विभिन्न शहरों में लगाए गए सप्तपर्णी यानी एल्सटोनिया स्कोलारिस के पेड़ों...

'चरित्रवान हो तो अग्निपरीक्षा देकर द‌िखाओ'

indore agnipariksha इंदौर में एक युवती के ससुराल वालों ने उसके चरित्र पर सवाल उठाया...