Breaking News in Hindi Friday, February 27, 2015
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > Hindi News > National News > Bhim Rao Ambedkar Showed New Path To India

भीमराव अंबेडकर ने दिखाई भारत को नई राह

bhim rao ambedkar showed new path to india
भारत के संविधान निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की आज (6 दिसंबर) पुण्यतिथि है। भारत रत्न से सम्मानित इस हस्ती ने देश को राजनीतिक और सामाजिक दिशा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

14 अप्रैल, 1891 को मध्य प्रदेश के मऊ में जन्मे अंबेडकर एक राजनीतिक नेता, कानूनविद, दार्शनिक, इतिहासकार, अर्थशास्‍त्री, शिक्षक और संपादक थे। प्यार से उनके अनुयायी उन्हें बाबासाहेब कहते थे।

भीमराव, रामजी मालोजी सकपाल और भीमाबाई मुरबादकर की 14वीं और अंतिम संतान थे। वे हिंदू महार जाति से संबंध रखते थे जो अछूत माना जाता था। अंबेडकर के पूर्वज लंबे समय तक ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना से जुड़े रहे। उनके पिता रामजी मालोजी सकपाल मऊ छावनी में काम करते थे और बाद में सूबेदार बने।

प्रारंभिक शिक्षा पूरी करने के बाद अंबेडकर ने 1908 में एलफिंस्टन कॉलेज में प्रवेश लिया। बाद में वे बडौदा के गायकवाड़ शासक सहयाजी राव के वजीफे पर उच्च अध्ययन के लिए अमेरिका गए। राजनीतिक और अर्थशास्‍त्र में उच्च डिग्री हासिल करने के बाद स्वदेश लौटने पर उन्होंने बडौदा सरकार में नौकरी की। नौकरी के दौरान उन्हें अछूत होने का कड़वा अनुभव हासिल हुआ।

हालाकि उस समय देश में ब्रिटिशों को बाहर करने के लिए आंदोलन अपने जोरों पर था। एक ओर महात्मा गांधी के नेतृत्व में अहिंसक आंदोलन से अंग्रेज सरकार सहम गई थी। वहीं चंद्रशेखर आजाद, भगत सिंह, खुदीराम बोस जैसे क्रांतिकारियों ने अंग्रेज सरकार के नाकों में दम कर रखा था।

1936 में अंबेडकर ने 'इंडिपेंडेंट लेबर पार्टी' नामक राजनीतिक दल का गठन कर सियासी धरातल पर कदम रखा। समाज में अछूतों के प्रति असहिष्‍णु व्यवहार खत्म करने के लिए उन्होंने 'बहिष्कृत भारत' नामक पत्रिका का संपादन किया। जब 15 अगस्त 1947 को भारत स्वतंत्र हुआ तो संविधान के मसौदे को अंतिम रूप देने में अंबेडकर की अहम भूमिका रही। उन्हें देश का प्रथम कानून मंत्री होने का श्रेय प्राप्त है।

1950 के दशक में अंबेडकर बौद्ध धर्म के प्रति आकर्षित हुए। इसी दशक में करीब पांच लाख समर्थकों के साथ अंबेडकर ने बौद्ध धर्म ग्रहण किया। 6 दिसंबर 1956 को नई दिल्ली में इस महान हस्ती का निधन हो गया।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

National News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.


Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

खुलासा: एस्सार ग्रुप ने फायदे के लिए नेताओं को किया उपकृत

Exposé: Essar group obliged ministers for own profits एक व्हिसलब्लोअर ने एस्सार ग्रुप को लेकर सनसनीखेज खुलासे किए हैं। जिसमें कई...

आम जनता से मंत्रियों की संपत्ति छुपाएगी मोदी सरकार

PMO to block public access to minister's assests प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मशहूर बयान 'ना खाऊंगा, ना खाने दूंगा' भी चुनावी...

पाकिस्तान: मोबाइल पर वायरल हो रहा गैंगरेप का वीडियो

gangrape video viral in pakistan जिस बदनामी से बचने के लिए सादिया (काल्पनिक नाम) चुप रही, वही अब...

विपक्षी टीमें नहीं बल्कि चोट दे रही टीम इंडिया को 'झटके पे झटका'

Mohammed Shami will NOT be available against UAE - India Vs UAE टीम इंडिया वर्ल्ड कप में अपना खिताब बचाने मैदान पर उतरी है लेकिन...

ख़बरें राज्यों से

प्राचार्य ने की विदेशी छात्रा से छेड़छाड़

Principal molest foreigner student जयपुर स्थित निम्स विश्वविद्यालय परिसर में फार्मेसी कॉलेज प्राचार्य ने अपने कक्ष में...

स्वाइन फ्लू को लेकर चिकित्सा मंत्री से इस्तीफा देने की मांग

Demand for resign of health minister for swine flu राजस्थान विधानसभा में कांग्रेस विधायकों ने स्वाइन फ्लू की रोकथाम में सरकार पर...

मदर टेरेसा के यहां भी होता था धर्म परिवर्तन: भागवत

Bhagwat said relegious conversion behind the sewa घर वापसी के मुद्दे पर दूसरों को नसीहत देने वाले आरएसएस प्रमुख भागवत...

मंत्रियों को रोजाना दो घंटे जन सुनवाई के निर्देश

Ministers will held 2 hours of daily jan sunwai राजस्थान सरकार ने जनता की काम नहीं होने की आम शिकायतों को दूर...
Read daily news in Hindi about what's happening in India - Amarujala.com publishes latest and breaking national news in Hindi on politics, business and incidents. Browse through incisive analysis and unbiased views on current affairs and get the best and original hindi news. Amarujala.com - Saar se Vistaar tak!