Breaking News in Hindi Thursday, October 23, 2014
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > Hindi News > National News > Bhim Rao Ambedkar Showed New Path To India

भीमराव अंबेडकर ने दिखाई भारत को नई राह

भारत के संविधान निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की आज (6 दिसंबर) पुण्यतिथि है। भारत रत्न से सम्मानित इस हस्ती ने देश को राजनीतिक और सामाजिक दिशा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

14 अप्रैल, 1891 को मध्य प्रदेश के मऊ में जन्मे अंबेडकर एक राजनीतिक नेता, कानूनविद, दार्शनिक, इतिहासकार, अर्थशास्‍त्री, शिक्षक और संपादक थे। प्यार से उनके अनुयायी उन्हें बाबासाहेब कहते थे।

भीमराव, रामजी मालोजी सकपाल और भीमाबाई मुरबादकर की 14वीं और अंतिम संतान थे। वे हिंदू महार जाति से संबंध रखते थे जो अछूत माना जाता था। अंबेडकर के पूर्वज लंबे समय तक ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना से जुड़े रहे। उनके पिता रामजी मालोजी सकपाल मऊ छावनी में काम करते थे और बाद में सूबेदार बने।

प्रारंभिक शिक्षा पूरी करने के बाद अंबेडकर ने 1908 में एलफिंस्टन कॉलेज में प्रवेश लिया। बाद में वे बडौदा के गायकवाड़ शासक सहयाजी राव के वजीफे पर उच्च अध्ययन के लिए अमेरिका गए। राजनीतिक और अर्थशास्‍त्र में उच्च डिग्री हासिल करने के बाद स्वदेश लौटने पर उन्होंने बडौदा सरकार में नौकरी की। नौकरी के दौरान उन्हें अछूत होने का कड़वा अनुभव हासिल हुआ।

हालाकि उस समय देश में ब्रिटिशों को बाहर करने के लिए आंदोलन अपने जोरों पर था। एक ओर महात्मा गांधी के नेतृत्व में अहिंसक आंदोलन से अंग्रेज सरकार सहम गई थी। वहीं चंद्रशेखर आजाद, भगत सिंह, खुदीराम बोस जैसे क्रांतिकारियों ने अंग्रेज सरकार के नाकों में दम कर रखा था।

1936 में अंबेडकर ने 'इंडिपेंडेंट लेबर पार्टी' नामक राजनीतिक दल का गठन कर सियासी धरातल पर कदम रखा। समाज में अछूतों के प्रति असहिष्‍णु व्यवहार खत्म करने के लिए उन्होंने 'बहिष्कृत भारत' नामक पत्रिका का संपादन किया। जब 15 अगस्त 1947 को भारत स्वतंत्र हुआ तो संविधान के मसौदे को अंतिम रूप देने में अंबेडकर की अहम भूमिका रही। उन्हें देश का प्रथम कानून मंत्री होने का श्रेय प्राप्त है।

1950 के दशक में अंबेडकर बौद्ध धर्म के प्रति आकर्षित हुए। इसी दशक में करीब पांच लाख समर्थकों के साथ अंबेडकर ने बौद्ध धर्म ग्रहण किया। 6 दिसंबर 1956 को नई दिल्ली में इस महान हस्ती का निधन हो गया।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

National News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.

Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

बाप ने तीन साल की बेटी की पत्‍थर से कुचलकर की हत्या

Minor girl stoned to death by father in Rajasthan राजस्थान के डूंगरपुर जिले में एक पिता ने अपनी तीन साल की बेटी...

मोदी ने शोध छात्रों को दिया दिवाली का तोहफा

Research scholars to get higher grants नरेंद्र मोदी ने शोध छात्रों को दिवाली पर बड़ा तोहफा दिया है। फेलोशिप...

पुलिसकर्मी के बेटे ने की मासूम की हत्या

Cop's son shoots kid with dad's carbine in Patna प्रदीप ने पिस्तौल दिखाई, डराया और ट्रिगर दबाते ही गोली चार साल के...

'राष्ट्रपति जी, मेरी गर्लफ्रेंड को मत छूना'

'president obama, dont touch my girlfriend' राष्ट्रपति ओबामा ‏शिकागो में मिड-टर्म चुनाव में वोट डाल रहे थे, जब उन्हें...

ख़बरें राज्यों से

नि:शक्तों को सरकारी नौकरी में आरक्षण की तैयारी

rajasthan government new plan. राजस्थान में सरकारी नौकरियों में नि:शक्तों को अब 3 की जगह 5 प्रतिशत...

गहलोत-पायलट के खिलाफ अब सीबीआई जांच!

Ambulance scandal: Gehlot-pilot troubles will grow! एम्बुलेंस सेवा के गबन के मामले में अशोक गहलोत, सचिन पायलट की मुश्किलें...

राजस्थान: 10 हजार करोड़ के निवेश की तैयारी में मलेशिया

Malaysia plan 10 thousand million investment in rajasthan. मलेशिया ने राजस्थान के रोड सेक्टर में 10 हजार करोड़ रुपए निवेश करने...

राजे के पास 47 महकमें, पकड़ कमजोर: पायलट

pilot targets vasundhara raje. सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर निशाना साधा है और प्रदेश की...
Read daily news in Hindi about what's happening in India - Amarujala.com publishes latest and breaking national news in Hindi on politics, business and incidents. Browse through incisive analysis and unbiased views on current affairs and get the best and original hindi news. Amarujala.com - Saar se Vistaar tak!