Hindi News Saturday, September 05, 2015
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > Samachar > National > Bhim Rao Ambedkar Showed New Path To India

भीमराव अंबेडकर ने दिखाई भारत को नई राह

bhim rao ambedkar showed new path to india
भारत के संविधान निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की आज (6 दिसंबर) पुण्यतिथि है। भारत रत्न से सम्मानित इस हस्ती ने देश को राजनीतिक और सामाजिक दिशा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

14 अप्रैल, 1891 को मध्य प्रदेश के मऊ में जन्मे अंबेडकर एक राजनीतिक नेता, कानूनविद, दार्शनिक, इतिहासकार, अर्थशास्‍त्री, शिक्षक और संपादक थे। प्यार से उनके अनुयायी उन्हें बाबासाहेब कहते थे।

भीमराव, रामजी मालोजी सकपाल और भीमाबाई मुरबादकर की 14वीं और अंतिम संतान थे। वे हिंदू महार जाति से संबंध रखते थे जो अछूत माना जाता था। अंबेडकर के पूर्वज लंबे समय तक ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना से जुड़े रहे। उनके पिता रामजी मालोजी सकपाल मऊ छावनी में काम करते थे और बाद में सूबेदार बने।

प्रारंभिक शिक्षा पूरी करने के बाद अंबेडकर ने 1908 में एलफिंस्टन कॉलेज में प्रवेश लिया। बाद में वे बडौदा के गायकवाड़ शासक सहयाजी राव के वजीफे पर उच्च अध्ययन के लिए अमेरिका गए। राजनीतिक और अर्थशास्‍त्र में उच्च डिग्री हासिल करने के बाद स्वदेश लौटने पर उन्होंने बडौदा सरकार में नौकरी की। नौकरी के दौरान उन्हें अछूत होने का कड़वा अनुभव हासिल हुआ।

हालाकि उस समय देश में ब्रिटिशों को बाहर करने के लिए आंदोलन अपने जोरों पर था। एक ओर महात्मा गांधी के नेतृत्व में अहिंसक आंदोलन से अंग्रेज सरकार सहम गई थी। वहीं चंद्रशेखर आजाद, भगत सिंह, खुदीराम बोस जैसे क्रांतिकारियों ने अंग्रेज सरकार के नाकों में दम कर रखा था।

1936 में अंबेडकर ने 'इंडिपेंडेंट लेबर पार्टी' नामक राजनीतिक दल का गठन कर सियासी धरातल पर कदम रखा। समाज में अछूतों के प्रति असहिष्‍णु व्यवहार खत्म करने के लिए उन्होंने 'बहिष्कृत भारत' नामक पत्रिका का संपादन किया। जब 15 अगस्त 1947 को भारत स्वतंत्र हुआ तो संविधान के मसौदे को अंतिम रूप देने में अंबेडकर की अहम भूमिका रही। उन्हें देश का प्रथम कानून मंत्री होने का श्रेय प्राप्त है।

1950 के दशक में अंबेडकर बौद्ध धर्म के प्रति आकर्षित हुए। इसी दशक में करीब पांच लाख समर्थकों के साथ अंबेडकर ने बौद्ध धर्म ग्रहण किया। 6 दिसंबर 1956 को नई दिल्ली में इस महान हस्ती का निधन हो गया।

भारत मैट्रीमोनी - Register FREE

Sponsored

ज़बर खबर : पढ़ना न भूलें

24 महीने, 24 बातें जानिए आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन की

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम गोविंदा राजन ने आज से ठीक दो साल पहले देश के सबसे युवा गवर्नर के रूप में बागडोर संभाली थी।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

National News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.


Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

केंद्र ने शर्तों के साथ मानी OROP की मांग, पूर्व सैनिक अब भी नाराज

Govt has decided to implement OROP says Defence Minister केंद्र सरकार ने बीते 2 महीने से जंतर मंतर पर 'वन रैंक, वन...

ऊर्जा मंत्रालय में नौकरी, पदों की संख्या 102 और 73 हजार तक सैलरी

govs jobs in ministry of energy बेरोजगार युवाओं के लिए भारत सरकार के ऊर्जा मंत्रालय में सरकारी नौकरी पाने...

आरएसएस ने मोदी सरकार को कितने नंबर दिए?

pm narendra modi and RSS meet बीजेपी और संघ की बैठक में सरकार के 14 माह के कार्यकाल पर...

संघ के बदले सुर, पाकिस्तान को बताया अपना भाई

Pak is our ‘brother’, government must work to improve ties: RSS संघ ने कहा है पाकिस्तान हमारा भाई है और मोदी सरकार ने पिछले...

ख़बरें राज्यों से

उग्र हुए निषादों पर पुलिस ने भांजी लाठी, फायरिंग

Police cancharge nishads in Patna ‘निषाद मार्च’ के दौरान हालात इतने खराब हो गए कि पुलिस को न...

जापानी युवती को मिला न्‍याय, दोषियों को कैद

rapist get 20 year jail term in Japanese woman rape case जयपुर में जापानी युवती के साथ दुष्कर्म के मामले में निचली अदालत ने...

बिहार में क्या है मुसलमानों की राय, आप भी जानिए?

bihar election 2015, what is the opinion of muslims बिहार चुनावों में एक बड़ा तबका ऐसा है जिसके वोटों पर सबकी निगाह...

मुझसे सौदेबाजी कर रहे थे सीएम शिवराज: डॉ. राय

Vypam scam: Dr anand rai make allegation on cm shivraj chauhan व्यापमं के व्हिसब्लोअर डा. आनंद राय ने सीएम शिवराज पर अपना नाम न...
Read daily news in Hindi about what's happening in India - Amarujala.com publishes latest and breaking national news in Hindi on politics, business and incidents. Browse through incisive analysis and unbiased views on current affairs and get the best and original hindi news. Amarujala.com - Saar se Vistaar tak!