Breaking News in Hindi Sunday, February 01, 2015
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > Hindi News > National News > Bhim Rao Ambedkar Showed New Path To India

भीमराव अंबेडकर ने दिखाई भारत को नई राह

bhim rao ambedkar showed new path to india
भारत के संविधान निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की आज (6 दिसंबर) पुण्यतिथि है। भारत रत्न से सम्मानित इस हस्ती ने देश को राजनीतिक और सामाजिक दिशा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

14 अप्रैल, 1891 को मध्य प्रदेश के मऊ में जन्मे अंबेडकर एक राजनीतिक नेता, कानूनविद, दार्शनिक, इतिहासकार, अर्थशास्‍त्री, शिक्षक और संपादक थे। प्यार से उनके अनुयायी उन्हें बाबासाहेब कहते थे।

भीमराव, रामजी मालोजी सकपाल और भीमाबाई मुरबादकर की 14वीं और अंतिम संतान थे। वे हिंदू महार जाति से संबंध रखते थे जो अछूत माना जाता था। अंबेडकर के पूर्वज लंबे समय तक ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना से जुड़े रहे। उनके पिता रामजी मालोजी सकपाल मऊ छावनी में काम करते थे और बाद में सूबेदार बने।

प्रारंभिक शिक्षा पूरी करने के बाद अंबेडकर ने 1908 में एलफिंस्टन कॉलेज में प्रवेश लिया। बाद में वे बडौदा के गायकवाड़ शासक सहयाजी राव के वजीफे पर उच्च अध्ययन के लिए अमेरिका गए। राजनीतिक और अर्थशास्‍त्र में उच्च डिग्री हासिल करने के बाद स्वदेश लौटने पर उन्होंने बडौदा सरकार में नौकरी की। नौकरी के दौरान उन्हें अछूत होने का कड़वा अनुभव हासिल हुआ।

हालाकि उस समय देश में ब्रिटिशों को बाहर करने के लिए आंदोलन अपने जोरों पर था। एक ओर महात्मा गांधी के नेतृत्व में अहिंसक आंदोलन से अंग्रेज सरकार सहम गई थी। वहीं चंद्रशेखर आजाद, भगत सिंह, खुदीराम बोस जैसे क्रांतिकारियों ने अंग्रेज सरकार के नाकों में दम कर रखा था।

1936 में अंबेडकर ने 'इंडिपेंडेंट लेबर पार्टी' नामक राजनीतिक दल का गठन कर सियासी धरातल पर कदम रखा। समाज में अछूतों के प्रति असहिष्‍णु व्यवहार खत्म करने के लिए उन्होंने 'बहिष्कृत भारत' नामक पत्रिका का संपादन किया। जब 15 अगस्त 1947 को भारत स्वतंत्र हुआ तो संविधान के मसौदे को अंतिम रूप देने में अंबेडकर की अहम भूमिका रही। उन्हें देश का प्रथम कानून मंत्री होने का श्रेय प्राप्त है।

1950 के दशक में अंबेडकर बौद्ध धर्म के प्रति आकर्षित हुए। इसी दशक में करीब पांच लाख समर्थकों के साथ अंबेडकर ने बौद्ध धर्म ग्रहण किया। 6 दिसंबर 1956 को नई दिल्ली में इस महान हस्ती का निधन हो गया।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

National News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.


Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

जानिए, सट्टा बाजार में क्या है BJP और 'AAP' का रेट

Delhi elections 2015, BJP favourite for bookies rather than AAP. दिल्ली का चुनावी पारा आसमान पर चढ़ते ही सट्टा बाजार में जबरदस्त गहमागहमी...

IS में शामिल होने जा रही थी, बदला इरादा और लौटी घर

hyderabad girl was going to join IS but retrun back to home हैदराबाद की एक 19 साल की लड़की एक महिला के बहकावे में आकर...

सिर कलम वीडियो पर उबला जापान

japan protest against kenji goto is beheading video जापानी बंधक केंजी गोटो का सिर कलम करने वाले वीडियो के जारी होने...

वर्ल्ड कप में धोनी के घर नए मेहमान की होगी इंट्री

ms dhoni will become father during world cup 2015 टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की गैरमौजूदगी में उनके घर एक...

ख़बरें राज्यों से

राजस्थान: स्वाइन फ्लू से अब तक 34 की मौत

34 people dead by swinflu राजस्थान में स्वाइन फ्लू से मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा। तीस दिन...

स्वाइन फ्लू ने राजस्‍थान की राजनीति में लगाई आग

swinflu agenda in rajasthan politics राजस्थान में स्वाइन फ्लू पर राजनीति तेज हो गई है और कांग्रेस ने...

मध्यप्रदेशः चुनाव से पहले जिला पंचायत प्रत्याशी की मौत

panchayat election candidate death जिला पंचायत प्रत्याशी की चुनाव से पहले ही मौत हो गई।...

राजस्थान: स्वाइन फ्लू से गई 28 की जान

28 people are dead by swinflu आउटडोर मरीजों के लिए स्वाइन फ्लू की जांच नि:शुल्क करने के निर्देश दिए...
Read daily news in Hindi about what's happening in India - Amarujala.com publishes latest and breaking national news in Hindi on politics, business and incidents. Browse through incisive analysis and unbiased views on current affairs and get the best and original hindi news. Amarujala.com - Saar se Vistaar tak!