Breaking News in Hindi Tuesday, March 31, 2015
ताज़ा ख़बर >
Lite Version

Home > Hindi News > National News > Bhim Rao Ambedkar Showed New Path To India

भीमराव अंबेडकर ने दिखाई भारत को नई राह

bhim rao ambedkar showed new path to india
भारत के संविधान निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की आज (6 दिसंबर) पुण्यतिथि है। भारत रत्न से सम्मानित इस हस्ती ने देश को राजनीतिक और सामाजिक दिशा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

14 अप्रैल, 1891 को मध्य प्रदेश के मऊ में जन्मे अंबेडकर एक राजनीतिक नेता, कानूनविद, दार्शनिक, इतिहासकार, अर्थशास्‍त्री, शिक्षक और संपादक थे। प्यार से उनके अनुयायी उन्हें बाबासाहेब कहते थे।

भीमराव, रामजी मालोजी सकपाल और भीमाबाई मुरबादकर की 14वीं और अंतिम संतान थे। वे हिंदू महार जाति से संबंध रखते थे जो अछूत माना जाता था। अंबेडकर के पूर्वज लंबे समय तक ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना से जुड़े रहे। उनके पिता रामजी मालोजी सकपाल मऊ छावनी में काम करते थे और बाद में सूबेदार बने।

प्रारंभिक शिक्षा पूरी करने के बाद अंबेडकर ने 1908 में एलफिंस्टन कॉलेज में प्रवेश लिया। बाद में वे बडौदा के गायकवाड़ शासक सहयाजी राव के वजीफे पर उच्च अध्ययन के लिए अमेरिका गए। राजनीतिक और अर्थशास्‍त्र में उच्च डिग्री हासिल करने के बाद स्वदेश लौटने पर उन्होंने बडौदा सरकार में नौकरी की। नौकरी के दौरान उन्हें अछूत होने का कड़वा अनुभव हासिल हुआ।

हालाकि उस समय देश में ब्रिटिशों को बाहर करने के लिए आंदोलन अपने जोरों पर था। एक ओर महात्मा गांधी के नेतृत्व में अहिंसक आंदोलन से अंग्रेज सरकार सहम गई थी। वहीं चंद्रशेखर आजाद, भगत सिंह, खुदीराम बोस जैसे क्रांतिकारियों ने अंग्रेज सरकार के नाकों में दम कर रखा था।

1936 में अंबेडकर ने 'इंडिपेंडेंट लेबर पार्टी' नामक राजनीतिक दल का गठन कर सियासी धरातल पर कदम रखा। समाज में अछूतों के प्रति असहिष्‍णु व्यवहार खत्म करने के लिए उन्होंने 'बहिष्कृत भारत' नामक पत्रिका का संपादन किया। जब 15 अगस्त 1947 को भारत स्वतंत्र हुआ तो संविधान के मसौदे को अंतिम रूप देने में अंबेडकर की अहम भूमिका रही। उन्हें देश का प्रथम कानून मंत्री होने का श्रेय प्राप्त है।

1950 के दशक में अंबेडकर बौद्ध धर्म के प्रति आकर्षित हुए। इसी दशक में करीब पांच लाख समर्थकों के साथ अंबेडकर ने बौद्ध धर्म ग्रहण किया। 6 दिसंबर 1956 को नई दिल्ली में इस महान हस्ती का निधन हो गया।

एंड्रॉएड ऐप पर अमर उजाला पढ़ने के लिए क्लिक करें. अपने फ़ेसबुक पर अमर उजाला की ख़बरें पढ़ना हो तो यहाँ क्लिक करें.

National News in Hindi by Amarujala Digital team. Visit our homepage for more News in Hindi.


Share on Social Media

प्रमुख ख़बरें

जी-20 में लीक हुई थी पीएम मोदी की निजी जानकारियां

Personal details of Modi and 31 other leaders leaked at G20 summit. पिछले साल ऑस्ट्रेलिया में हुए जी-20 समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत 31...

पेपर लीकः पढ़िए परत दर परत नया सनसनीखेज किस्सा

Paper leak: Now the Commission and officials Salvaging पीसीएस पेपर लीक मामले में रोज नए खुलासे हो रहे हैं, वहीं छात्रों...

यूपीः भारी पड़ी छेड़खानी की शिकायत, पटरी पर मिला शव

complaint of flirting man killed परिवार की एक युवती के साथ हुई छेड़छाड़ की शिकायत पुलिस से करना...

'बर्दवान ब्लास्ट' में हुआ बेहद खतरनाक खुलासा

dangerous disclosed in Burdwan Blast बर्दवान ब्लास्ट में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने आरोपपत्र दायर करते हुए अहम...

ख़बरें राज्यों से

दहेज में नहीं दी भैंस तो बेटी समेत जिंदा जलाया

bihar: bride and her doughter murder in dowry matter भैंस की मांग पूरी न होने पर विवाहिता को उसकी बेटी समेत जिंदा...

झारखंडः मुठभेड़ में दो नक्सली ढेर, मह‌िला नक्‍सली घायल

two naxali killed in police opration jharkhand झारखंड के लातेहार में सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में दो नक्सली...

एबीवीपी पर लाठी चार्ज के विरोध में बिहार विधानसभा में हंगामा

bjp MLA protest in bihar assembly एबीवीपी के सदस्यों पर किए गए लाठी चार्ज के विरोध में शुक्रवार को...

छत्तीसगढ़ः नान घोटाले पर मचा घमासान, 29 विधायक निलंबित

oposition protest against chhattisagarh NAN scam छत्तीसगढ़ में नागरिक आपूर्ति निगम (निगम) में हुए घोटाले पर सरकार की मुश्किलें...
Read daily news in Hindi about what's happening in India - Amarujala.com publishes latest and breaking national news in Hindi on politics, business and incidents. Browse through incisive analysis and unbiased views on current affairs and get the best and original hindi news. Amarujala.com - Saar se Vistaar tak!