आपका शहर Close

सोचने-समझने की क्षमता ख्रत्म कर देता है धूम्रपान

लंदन/एजेंसी

Updated Mon, 26 Nov 2012 05:44 PM IST
smoking is harmful for brain
धूम्रपान से दिमाग के सोचने-समझने की क्षमता पूरी तरह खत्म हो सकती है। हाल में हुए एक अध्ययन से इस बात का खुलासा हुआ है। किंग्स कॉलेज, लंदन के शोधकर्ता 50 साल से अधिक उम्र के सैकड़ों लोगों की जीवनशैली और उनके दिमाग की जांच के बाद इस नतीजे पर पहुंचे हैं।
अध्ययन में पाया गया कि धूम्रपान से रक्तचाप और मोटापा बढ़ने के साथ ही इससे दिमाग पर काफी नकारात्मक असर होता है। शोध में शामिल लोगों ने नए शब्द सीखने और कुछ अन्य बातों का प्रशिक्षण लिया। इसके चार और 10 साल बाद इनके दिमाग की जांच की गई जिसमें पता चला कि सीखने-समझने की क्षमता और धूम्रपान का सीधा संबंध है।

वैज्ञानिकों का कहना है कि लोगों को इसको लेकर जागरूक रहने की जरूरत है कि खराब जीवनशैली से दिमाग और शरीर, दोनों को नुकसान पहुंच सकता है।
Comments

स्पॉटलाइट

सिर्फ क्रिकेटर्स से रोमांस ही नहीं, अनुष्का-साक्षी में एक और चीज है कॉमन, सबूत हैं ये तस्वीरें

  • गुरुवार, 23 नवंबर 2017
  • +

पहली बार सामने आईं अर्शी की मां, बेटी के झूठ का पर्दाफाश कर खोल दी करतूतें

  • गुरुवार, 23 नवंबर 2017
  • +

धोनी की एक्स गर्लफ्रेंड राय लक्ष्‍मी का इंटीमेट सीन लीक, देखकर खुद भी रह गईं हैरान

  • गुरुवार, 23 नवंबर 2017
  • +

बेगम करीना छोटे नवाब को पहनाती हैं लाखों के कपड़े, जरा इस डंगरी की कीमत भी जान लें

  • बुधवार, 22 नवंबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: फिजिकल होने के बारे में प्रियांक ने किया बड़ा खुलासा, बेनाफशा का झूठ आ गया सामने

  • बुधवार, 22 नवंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!