आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

गुजरात चुनाव में न कोई लहर, न ही कोई मुद्दा

अहमदाबाद/ब्यूरो

Updated Fri, 14 Dec 2012 07:43 AM IST
youth and women voters play important role in first phase of gujarat poll
गुजरात का यह सम्भवत: पहला चुनाव है, जिसमें कोई बड़ा राजनीतिक मुद्दा जनता के सामने नहीं है। कांग्रेस प्रथम चरण मतदान के अंतिम दिन तक कोई ऐसा मुद्दा खड़ा नहीं कर पाई, जिससे जनता जुड़ सके। जबकि वर्ष 1985 से लेकर पिछले विधानसभा चुनाव तक सहानुभूति व हिन्दुत्व जैसी लहर, राम जन्मभूमि व गोधरा मुद्दा छाया रहा था।
उल्टा, कांग्रेस पूरे प्रचार के दौरान बैकफुट पर रही, कांग्रेस ने अपने स्टार राहुल गांधी को भी प्रचार थमने के अंतिम दिन जनता के बीच हाजिर किया। इधर, भाजपा ने विकास और शांति को प्रचार का मुद्दा बनाया। रोचक यह रहा कि मोदी ने पूरे चटखारे के साथ अपनी सभाओं में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, सोनिया गांधी और राहुल गांधी के भाषणों के जवाब दिए, जिस पर खूब ठहाके लगे।

युवाओं व महिलाओं ने दिखाई भागीदारी
प्रथम चरण के मतदान में युवाओं और महिलाओं ने खासी भागीदारी निभाई है। बिना मुद्दे व लहर के वोटिंग प्रतिशत को बढ़ाने में इस वर्ग का खासा रोल रहा। सुबह से लेकर शाम तक समूह व परिवार के साथ युवा और महिलाओं ने लोकतंत्र के इस यज्ञ में वोट डालकर आहुति दी। खास उत्साह उनमें था, जो पहली बार वोट डालने का अनुभव ले रहे थे।

जनता ने दी शाबासी या लगाई क्लास
वोट के लिए लोगों के घर से निकलने के इस अंदाज ने भाजपा या कांग्रेस सभी दलों को चौंका दिया है। किसी भी दल को यह उम्मीद ही नहीं थी कि पिछले वर्ष के मुकाबले वोटिंग नौ प्रतिशत से अधिक हो जाएगी। अब सत्तारूढ़ दल भाजपा में अंदरखाने ये बाते होने लगी हैं कि जनता के बढ़े हुए मत को शाबासी के रूप में लिया जाए या नाराजगी के साथ बेदखल करने के लिए लगाई गई क्लास।
  • कैसा लगा
Comments

स्पॉटलाइट

व्रत में सेहत और स्वाद दोनों का ख्याल रखेगा आलू केला पकौड़ा

  • शुक्रवार, 22 सितंबर 2017
  • +

नवरात्रि 2017: आज पहने 'हरे' कपड़े, वेस्टर्न के साथ दें इंडियन टच

  • शुक्रवार, 22 सितंबर 2017
  • +

अगर आपकी गर्लफ्रेंड के हैं बहुत 'मेल फ्रेंड्स' तो होंगे ये फायदे

  • शुक्रवार, 22 सितंबर 2017
  • +

शादी के दिन करोड़ों के गहनों से लदी थीं पटौदी खानदान की बहू, यकीन ना आए तो देखें तस्वीरें

  • शुक्रवार, 22 सितंबर 2017
  • +

16 की उम्र में स्टाइल के मामले में बड़े-बड़ों को टक्कर दे रहीं हैं श्वेता तिवारी की बेटी

  • गुरुवार, 21 सितंबर 2017
  • +

Most Read

पुरुषों के आत्महत्या करने की खबर कभी नहीं सुनी : मेनका 

Never heard of men committing suicide, Says Minister Maneka Gandhi
  • शुक्रवार, 30 जून 2017
  • +

'विराट' के बाद नौसेना से एल्बाट्रॉस विमान की भी विदाई

India Navy Adieu Farewells To Albatross Patrol Aircraft
  • बुधवार, 8 मार्च 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!