आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

बाल ठाकरे के निधन पर शोक की लहर

नई दिल्ली/इंटरनेट डेस्क

Updated Sat, 17 Nov 2012 09:46 PM IST
pm and other condole death of bal thackeray
शिव सेना प्रमुख बाला साहब ठाकरे का मुंबई में निधन होने के बाद राजनीति से लेकर मनोरंजन जगत की कई हस्तियों ने शोक जताया है। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने उनके निधन पर लोगों से शांति और संयम बनाए रखने की अपील की है।
किसने क्या कहा
-बाल ठाकरे के लिए महाराष्ट्र के हित खास तौर से महत्वपूर्ण थे। उन्होंने शिवसेना की स्थापना की और अपनी असाधारण संगठन क्षमता और सशक्त नेतृत्व के बल पर उसे राज्य में एक मजबूत ताकत के रूप में विकसित किया। वह एक मुखर वक्ता थे जिनका कद महाराष्ट्र की राजनीति में अनूठा था। बाला साहेब का जाना उनके परिवार और उनके अनुयायियों के लिए गहरा आघात है।
मनमोहन सिंह, प्रधानमंत्री

-देश और महाराष्ट्र की राजनीति पर ठाकरे की छाप अमिट रहेगी। उनके निधन से देश की राजनीति में आई रिक्तता को भरना आसान नहीं है। वह ऐसे महामानव थे जिनका राष्ट्रभक्ति में गहरा विश्वास था। उन्होंने इस मामले में कभी कोई समझौता नहीं किया।
लाल कृष्ण आडवाणी, भाजपा के वरिष्ठ नेता

-पिछले कुछ दिनों में मैं कई घंटों तक उनके साथ बैठा रहा। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी पर फिर भी वे लड़ रहे थे। मैं दिल में बसु दुआ कर रहा था। वे हर दिन मौत से लड़ रहे थे और डॉक्टर भी हैरान थे। अब मैं उनके शव के पास खड़ा हूं तो ये सोचना मुश्किल है कि वे हमें छोड़ कर चले गए हैं।
अमिताभ बच्चन, अभिनेता

-महाराष्ट्र ने एक अनुभवी नेता खो दिया है। वह राजनेता, कार्टूनिस्ट, संपादक, कला प्रेमी थे।
पृथ्वीराज चव्हाण, महाराष्ट्र के सीएम

-मुंबई में कम्युनिस्टों की पकड़ कमजोर पड़ने के बाद ठाकरे की आंधी चली। उन्होंने अपने सुधारवादी पिता की विरासत को आगे बढ़ाया।
सुशील कुमार शिंदे, गृह मंत्री

-ठाकरे खुलकर बोलते थे। समझौता जैसा शब्द तो उनकी डिक्शनरी में था ही नहीं।
छगन भुजबल, महाराष्ट्र के मंत्री

-ठाकरे एक सच्चे देशभक्त और एक अच्छे कार्टूनिस्ट भी थे। उन्होंने महाराष्ट्र में अपनी अलग पहचान बनाई थी।
नरेंद्र मोदी, गुजरात के सीएम

-ठाकरे एक महान शख्सियत थे। वे मेरे पिता समान थे।
रजनीकांत

-आज का दिन मेरे लिए दुखद है। मेरी बहुत सी यादें ठाकरे के साथ जुड़ी हुई हैं। ठाकरे के निधन से आज महाराष्ट्र अनाथ हो गया।
लता मंगेशकर

-बाल ठाकरे महाराष्ट्र की राजनीति में विशिष्ट स्थान रखते थे। उनके निधन से महाराष्ट्र की राजनीति के एक युग का समापन हो गया है। ठाकरे की आत्मा की चिर शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की तथा शोकसंतप्त परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है।
नीतीश कुमार, ‌बिहार के मुख्यमंत्री

-बाला साहब के निधन की खबर से गहरा सदमा हुआ है। एक शेर नहीं रहा।
सुषमा स्वराज, लोकसभा में विपक्ष की नेता

-शिव सेना प्रमुख बाला साहेब ठाकरे समाज सेवा और धर्म सेवा के लिए हमेशा याद किए जाएंगे। आज वे हमारे बीच नहीं हैं, लेकिन उनकी ओर से किए गए कार्यों के रूप में वे हमेशा हमारे बीच रहेंगे। उनके परिवार को भगवान दुख की इस घड़ी का सामना करने की शक्ति दे।
संत श्री आशाराम जी बापू
  • कैसा लगा
Comments

Browse By Tags

shiv sena bal thackeray

स्पॉटलाइट

नवरात्रि 2017ः थाईलैंड में होने का अनुभव कराएगा कोलकाता का ये पंडाल

  • मंगलवार, 26 सितंबर 2017
  • +

गाजर या सूजी का नहीं व्रत में ऐसे बनाएं आलू का टेस्टी हलवा

  • मंगलवार, 26 सितंबर 2017
  • +

व्रत में खाली पेट न खाएं ये 5 चीजें, पड़ सकते हैं लेने के देने

  • मंगलवार, 26 सितंबर 2017
  • +

पटौदी खानदान की बहू के बाद अब बच्चन परिवार की बहू को लेना पड़ा इतना बड़ा फैसला

  • मंगलवार, 26 सितंबर 2017
  • +

व्रत में सेंधा नमक क्यों खाते हैं? आप भी जान लें

  • सोमवार, 25 सितंबर 2017
  • +

Most Read

पुरुषों के आत्महत्या करने की खबर कभी नहीं सुनी : मेनका 

Never heard of men committing suicide, Says Minister Maneka Gandhi
  • शुक्रवार, 30 जून 2017
  • +

'विराट' के बाद नौसेना से एल्बाट्रॉस विमान की भी विदाई

India Navy Adieu Farewells To Albatross Patrol Aircraft
  • बुधवार, 8 मार्च 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!