आपका शहर Close

मध्यावधि चुनाव के लिए तैयार रहें कार्यकर्ताः मायावती

लखनऊ/अमर उजाला ब्यूरो

Updated Thu, 11 Oct 2012 01:44 AM IST
BSP-is-ready-for-Elections-says-Mayawati
बसपा सुप्रीमो मायावती ने सस्पेंस बरकरार रखते हुए फिलहाल यूपीए सरकार को समर्थन जारी रखने का फैसला किया है। बुधवार को राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में मायावती ने केंद्र की नीतियों को जनविरोधी करार देकर पार्टी कार्यकर्ताओं से देश भर में आंदोलन चलाने कहा है। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव अभी हो या बाद में, बसपा पूरी तरह तैयार है। लोकसभा चुनाव में बसपा इस दफा ‘बैलेंसिंग पॉवर’ बनकर उभरेगी।
बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में मायावती ने कहा कि बसपा कार्यकारिणी व संसदीय दल ने समर्थन वापसी के मुद्दे का फैसला लेने का काम उन पर छोड़ दिया है। वह बसपा मूवमेंट के हितों को ध्यान में रखते हुए जल्द ही इस पर निर्णय लेंगी। लखनऊ रैली से उपजे आत्मविश्वास के बाद जोश में आईं मायावती ने कार्यकर्ताओं से लोकसभा चुनाव के लिए तैयार रहने और यूपीए की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आंदोलन चलाने कहा।

उन्होंने आय से अधिक संपत्ति मामले में सुप्रीमकोर्ट के ताजा फैसले से जुड़े सवाल का कोई जवाब नहीं दिया। मायावती से जब यह पूछा गया कि समर्थन वापसी पर फैसला अभी क्यों नहीं, इस पर उन्होंने कहा कि वह सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर बहुत जल्द फै सला लेंगी। मायावती ने कहा कि पार्टी के प्रमुख पदाधिकारियों ने काफी गहन चर्चा के बाद तय किया गया कि कोई भी अंतिम निर्णय लेने की जिम्मेदारी उन पर (मायावती) छोड़ दी जाए। अब मायावती के ताजा रुख से साफ हो गया कि वह समर्थन वापसी के सवाल पर नरमी बरतने के मूड में हैं।

मायावती ने कहा कि बसपा ने यूपीए सरकार को सांप्रदायिक ताकतों को कमजोर करने व दलितों, गरीबों व अल्पसंख्यकों के हितों का ख्याल रखने के लिए समर्थन दिया था, लेकिन दुख की बात है कि आज भी जनता महंगाई व भ्रष्टाचार से परेशान है। केंद्र की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ बसपा पूरे देश में पर्दाफाश अभियान चलाएगी। जनता को जागरूक कर केंद्र पर दबाव बनाया जाएगा कि वह जनविरोधी नीतियां वापस ले।

बसपा बनेगी बैलेंसिंग पॉवर
मायावती ने रैली में कहा था कि केंद्र सरकार की अस्थिरता को देखते हुए लगता है कि लोकसभा चुनाव समय से पहले हो सकते हैं। पार्टी को युद्धस्तर पर चुनाव की तैयारियों में लगना है। रैली में जनता का जबरदस्त उत्साह देखते हुए पार्टी को यकीन हो गया है कि लोकसभा चुनाव चाहे हाल ही में क्यों न हों, बसपा बहुत अच्छा प्रदर्शन करेगी। पार्टी इन चुनावों में बैलेंसिंग पावर बन उभरेगी।

समर्थन वापस लेना ही नहीं थामायावती को यूपीए सरकार से समर्थन वापस का फैसला लेना ही नहीं था। यह तो सबको पता था कि वह समर्थन वापस लेने वाली नहीं हैं। - रामगोपाल यादव, राष्ट्रीय महासचिव, समाजवादी पार्टी

Comments

स्पॉटलाइट

'पद्मावती' विवाद पर दीपिका का बड़ा बयान, 'कैसे मान लें हमने गलत फिल्म बनाई है'

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

'पद्मावती' विवाद: मेकर्स की इस हरकत से सेंसर बोर्ड अध्यक्ष प्रसून जोशी नाराज

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

कॉमेडी किंग बन बॉलीवुड पर राज करता था, अब कर्ज में डूबे इस एक्टर को नहीं मिल रहा काम

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

हफ्ते में एक फिल्म देखने का लिया फैसला, आज हॉलीवुड में कर रहीं नाम रोशन

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

SSC में निकली वैकेंसी, यहां जानें आवेदन की पूरी प्रक्रिया

  • शनिवार, 18 नवंबर 2017
  • +

Most Read

पुरुषों के आत्महत्या करने की खबर कभी नहीं सुनी : मेनका 

Never heard of men committing suicide, Says Minister Maneka Gandhi
  • शुक्रवार, 30 जून 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!