आपका शहर Close

एलयू में बना शिक्षकों-कर्मियों के इलाज का फंड

ब्यूरो/अमर उजाला, लखनऊ

Updated Tue, 15 Mar 2016 02:12 PM IST
meeting in lucknow university

लखनऊ यूनिवर्सिटीPC: demo pic

वित्तीय वर्ष 2016-17 में लखनऊ विश्वविद्यालय को करीब 46 करोड़ रुपये का नुकसान होगा, लेकिन इसकी वजह से छात्रों पर फीस का बोझ नहीं बढ़ाया जाएगा। विवि में कई दिनों से इस बात को लेकर चर्चा हो रही थी कि आगामी सत्र में छात्र-छात्राओं पर फीस का बोझ बढ़ सकता है। सोमवार को विवि में वित्त समिति की बैठक हुई।
कुलपति प्रो. एसबी निमसे ने बताया कि छात्रों पर कोई बोझ नहीं पड़ेगा। इस घाटे को सेल्फ फाइनेंस कोर्स से होने वाली आय से पूरा किया जाएगा। इसके अलावा शासन से भी वेतन के लिए ग्रांट बढ़ाने को कहा गया है। उम्मीद है कि उसमें भी राहत मिलेगी जिससे विवि का बोझ कम होगा।

इसमें यह भी निर्णय हुआ कि किसी गंभीर बीमारी की स्थिति में लखनऊ विश्वविद्यालय अपने शिक्षकों व कर्मचारियों को अब आर्थिक सहायता भी देगा। इसके लिए विवि ने पांच करोड़ रुपये का कॉपर्स फंड बनाया है।

विवि के प्रवक्ता प्रो. एनके पांडेय ने बताया कि बजट में विवि की 109 करोड़ रुपये की आय और 155 करोड़ रुपये का व्यय शामिल है। विवि के लेखाधिकारी रत्नेश्वर भारती के अनुसार यह घाटा पिछले साल से करीब 20 लाख रुपये अधिक है।

प्रो. एनके पांडेय ने बताया कि अभी तक विवि में शिक्षकों व कर्मचारियों को अधिकतम 10 हजार रुपये तक चिकित्सा खर्च मिलता है, लेकिन इस कॉपर्स फंड से प्रतिवर्ष विवि को करीब 40 लाख रुपये तक ब्याज के रूप में आय होगी।
आगे पढ़ें

बीएड के आयोजन में होगा दो करोड़ रुपये का लाभ

Comments

स्पॉटलाइट

एक रिकॉर्ड तोड़ने जा रही है 'रेस 3', सलमान बिग बॉस में करवाएंगे बॉबी देओल की एंट्री

  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +

मिलिये अध्ययन सुमन की नई गर्लफ्रेंड से, बताया कंगना रनौत से रिश्ते का सच

  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +

मां ने बेटी को प्रेग्नेंसी टेस्ट करते पकड़ा, उसके बाद जो हुआ वो इस वीडियो में देखें

  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +

Bigg Boss के घर में हिना खान ने खोला ऐसा राज, जानकर रह जाएंगे सन्न

  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +

नहीं रहीं मीना कपूर, स्कूल टाइम में ही बना लिया बॉलीवुड में करियर, मौत के वक्त अकेलापन...

  • शुक्रवार, 24 नवंबर 2017
  • +

Most Read

अब चलेगा ‘नींद से जागो’ अभियान

hindi diwas
  • गुरुवार, 14 सितंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!