आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

राजस्थान

भारत में आने को वॉलमार्ट ने खर्च किए 125 करोड़

वाशिंगटन/नई दिल्ली/एजेंसी

Updated Sun, 09 Dec 2012 06:42 PM IST
walmart lobby bill hits rs 125 cr on India entry
रिटेल में एफडीआई की राह खुलते ही वॉलमार्ट और इसके जैसी अन्य कंपनियों के भारत आने का रास्ता साफ हो गया है। दिलचस्प बात यह है कि अमेरिकी कंपनी वॉलमार्ट इस पल का कई सालों से इंतजार कर रही थी।
कंपनी ने अमेरिकी कानून निर्माताओं के साथ भारत में एफडीआई का रास्ता खोलने के लिए जमकर लॉबिंग की थी। वर्ष 2008 से शुरू किए गए लॉबिंग के इस सिलसिले के दौरान 2012 तक करीब 125 करोड़ रुपये खर्च किए गए।

वॉलमार्ट द्वारा जारी रिपोर्ट में यह आंकड़े सामने आए है। इसके मुताबिक भारत में निवेश की संभावनाएं तलाशने और भारत में एफडीआई से संबंधित मुद्दों को लेकर अमेरिका में कई गतिविधियां आयोजित की गईं। सितंबर 2012 के अंत में ही इस पर करीब 10 करोड़ रुपये खर्च किए गए।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि वॉलमार्ट ने एफडीआई के मुद्दे पर यूएस सीनेट, यूएस हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव, यूएस ट्रेड रिप्रेजेंटेटिव और यूएस डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट के साथ जमकर लॉबिंग की। रिपोर्ट के अनुसार इस साल कंपनी भारत में एफडीआई से संबंधित विभिन्न गतिविधियों में 18 करोड़ रुपये खर्च कर चुकी है।

गौरतलब है कि वॉलमार्ट का वार्षिक टर्नओवर 444 बिलियन अमेरिकी डॉलर का है। वहीं भारत की रिटेल मार्केट करीब 500 बिलियन अमेरिकी डॉलर की है, जबकि 2020 तक यह 1 ट्रिलियन डॉलर के पार होने की संभावना है।

  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

Browse By Tags

Walmart india fdi

स्पॉटलाइट

पाकिस्तान की हार के बावजूद टूटा विवियन रिचर्ड्स का रिकॉर्ड

  • गुरुवार, 19 जनवरी 2017
  • +

प्रियंका चोपड़ा ने लाइट जलाकर बनाए हैं संबंध, खुद किया खुलासा

  • गुरुवार, 19 जनवरी 2017
  • +

OMG: ये लड़की डॉक्टर से मांग लाई अपना कटा पैर, फिर दिखाए गजब के करतब

  • गुरुवार, 19 जनवरी 2017
  • +

प्रियंका का सबसे जुदा अंदाज, किसी राजकुमारी से कम नहीं लग रही हैं

  • गुरुवार, 19 जनवरी 2017
  • +

BIGG BOSS : स्वामी ओम के चलते सलमान ने लिया बड़ा फैसला, ऐसा अब तक नहीं हुअा

  • गुरुवार, 19 जनवरी 2017
  • +
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top