आपका शहर Close

मैन्यूफेक्चरिंग सेक्टर की रफ्तार 10 माह में सबसे तेज

नई दिल्ली/एजेंसी

Updated Mon, 03 Feb 2014 04:14 PM IST
India’s mfg sector expands at strongest pace since March
आर्थिक सुस्ती और कोर सेक्टर के आठ उद्योगों की धीमी रफ्तार के बीच अच्छी खबर है कि मैन्यूफेक्चरिंग सेक्टर में एक बार फिर से काफी तेजी से रफ्तार लौट रही है।
एचएसबीसी के सर्वे के मुताबिक जनवरी 2014 में मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर में 10 माह की सबसे तेज ग्रोथ देखने को मिली है। सेक्टर में यह तेजी निर्यात में बढ़ोतरी के साथ-साथ घरेलू स्तर पर मांग में मजबूती के चलते आई है।

एचएसबीसी के सर्वे के मुताबिक औद्योगिक उत्पादन के स्तर को दर्शाने वाला मैन्यूफेक्चरिंग पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (पीएमआई) 51.4 अंक के स्तर पर रहा। यह मार्च 2013 के बाद पीएमआई का सबसे ऊंचा स्तर है। एक माह पूर्व दिसंबर 2013 में यह 50.7 अंक पर था।

इस तरह जनवरी में पीएमआई लगातार तीसरे माह 50 अंक से ऊपर रहा, जो कि इस सेक्टर में बढ़त या ग्रोथ को दर्शाता है। सूचकांक का 50 अंक से नीचे होना संकुचन की स्थिति को प्रदर्शित करता है।

एचएसबीसी के भारत व आसियान क्षेत्र के मुख्य अर्थशास्त्री लीफ एस्केसेन का कहना है कि अच्छी तादाद में इंडस्ट्री को नए ऑर्डर मिलने से मैन्यूफेक्चरिंग सेक्टर की ग्रोथ जनवरी में और मजबूत हुई है।

उत्पादन के स्तर में बढ़त के साथ-साथ एक सकारात्मक बात यह भी है कि मैन्यूफेक्चरिंग सेक्टर में लगातार चौथे माह रोजगार में भी बढ़ोतरी हुई है। हालांकि महंगाई के दबाव के चलते जनवरी में मैन्यूफेक्चरिंग सेक्टर की उत्पादन लागत में भी इजाफा हुआ।

इस तरह लागत बढ़ने पर भी ग्रोथ में तेजी आना सेक्टर की सेहत के लिए काफी अच्छा संकेत है। एचएसबीसी का कहना है कि महंगाई का दबाव अब भी कायम है।

इसलिए भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) को इस पर अंकुश के उपाय करने होंगे। गौरतलब है कि महंगाई का हवाला देते हुए आरबीआई गवर्नर ने पिछले सप्ताह मौद्रिक समीक्षा में रेपो दर में चौथाई फीसदी की बढ़ोतरी की है।

हालांकि रिजर्व बैंक द्वारा ब्याज दर बढ़ाए जाने पर उद्योग जगत ने यह कहते हुए नाखुशी जाहिर की है कि दिसंबर में उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) 9.87 फीसदी पर रही, जोकि तीन माह का निचला था।

इसके साथ ही थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) पांच माह के निचले स्तर 6.16 फीसदी पर रही। इसके साथ ही रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष के लिए आर्थिक विकास दर के अपने पांच फीसदी के अनुमान को घटाकर पांच फीसदी से कम कर दिया।

आरबीआई ने मार्च 2014 के अंत तक महंगाई दर 8 फीसदी के आसपास बनी रहने का अनुमान जताया है।
Comments

स्पॉटलाइट

पहली बार सामने आईं अर्शी की मां, बेटी के झूठ का पर्दाफाश कर खोल दी करतूतें

  • गुरुवार, 23 नवंबर 2017
  • +

धोनी की एक्स गर्लफ्रेंड राय लक्ष्‍मी का इंटीमेट सीन लीक, देखकर खुद भी रह गईं हैरान

  • गुरुवार, 23 नवंबर 2017
  • +

बेगम करीना छोटे नवाब को पहनाती हैं लाखों के कपड़े, जरा इस डंगरी की कीमत भी जान लें

  • बुधवार, 22 नवंबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: फिजिकल होने के बारे में प्रियांक ने किया बड़ा खुलासा, बेनाफशा का झूठ आ गया सामने

  • बुधवार, 22 नवंबर 2017
  • +

Photos: शादी के दिन महारानी से कम नहीं लग रही थीं शिल्पा, राज ने गिफ्ट किया था 50 करोड़ का बंगला

  • बुधवार, 22 नवंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!