आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

राजस्थान

GMR से एयरपोर्ट का संचालन छीनेगी मालदीव सरकार

सिंगापुर/एजेंसी

Updated Tue, 04 Dec 2012 08:15 AM IST
gmr gets singapore court relief but maldives sticks to its guns
सिंगापुर की हाईकोर्ट द्वारा जीएमआर को माले एयरपोर्ट का ठेका रद्द किए जाने के खिलाफ राहत दिए जाने के बावजूद मालदीव सरकार उससे एयरपोर्ट का संचालन छीन कर अपने हाथ में लेगी। सरकार ने कोर्ट के आदेश के बावजूद जीएमआर का ठेका रद्द करते हुए 8 दिसंबर से इसका संचालन खुद करने की बात कही है। सरकार के इस कदम से मालदीव में विदेशी निवेश की परियोजनाओं पर प्रश्न चिह्न लग गया है।
मालदीव के रक्षा व परिवहन मंत्री ने बताया कि शनिवार से सरकारी नियंत्रण वाली मालदीव एयरपोर्ट कंपनी हवाई अड्डे का संचालन संभाल लेगी। इससे पहले सिंगापुर हाईकोर्ट ने मालदीव की सरकार द्वारा जीएमआर ग्रुप का 511 मिलियन डॉलर का ठेका निरस्त किए जाने के मालदीव सरकार के आदेश पर रोक लगा दी थी।

कोर्ट ने जीएमआर की अपील पर सुनवाई करते हुए स्थगन आदेश जारी किया था। अदालत के इस आदेश से जीएमआर के लिए हवाई अड्डे का कामकाज जारी रखने का रास्ता साफ हुआ माना जा रहा था, पर मालदीव सरकार ने अदालत के आदेश को दरकिनार करते हुए एयरपोर्ट का संचालन अपने हाथ में लेने की बात कही है।

जीएमआर ने इस बारे में अपने बयान में बताया कि सिंगापुर उच्च न्यायालय ने मालदीविया एयरपोर्ट कंपनी लिमिटेड और मालदीव सरकार पर 27 नवंबर के पत्र के आधार पर किसी तरह की कार्रवाई करने पर रोक लगा दी है। एमएसीएल ने मालदीव की नई सरकार के निर्देश के आधार पर 2010 में तत्कालीन राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद के कार्यकाल के दौरान जीएमआर को दिया गया ठेका 27 नवंबर को रद्द कर दिया था।

गौरतलब है कि ठेके की शर्तों के मुताबिक मुताबिक दोनों पक्षों में मतभेद होने की स्थिति में सिंगापुर या फिर ब्रिटेन के कानून के तहत फैसला किया जाना है। भारत ने ठेका रद्द किए जाने का जोरदार विरोध करते हुए मालदीव सरकार के निर्णय को विदेशी निवेशकों के लिए ‘बड़ा बुरा संकेत’ बताया था।

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की सुरक्षा मामलों संबंधी समिति ने मामले के विभिन्न पहलुओं तथा उनके दूरगामी प्रभावों पर विचार किया है। दूसरी ओर मालदीव सरकार पिछली सरकार के कार्यकाल में हुए ठेके के इस करार को ‘संदेहास्पद दशा’ में किया गया अनुबंध करार दिया है।
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

17 साल की लड़की के इश्क में पड़े थे जावेद अख्तर, शादी के समय रहने को घर तक नहीं था

  • मंगलवार, 17 जनवरी 2017
  • +

वर्ल्ड चैंपियन ने कहा, 35 सालों में पहली बार हुआ पति होने का एहसास

  • सोमवार, 16 जनवरी 2017
  • +

फिल्मफेयर अवॉर्ड्स में चमके आमिर और 'दंगल', झटके 4 अवॉर्ड

  • सोमवार, 16 जनवरी 2017
  • +

सैमसंग ने लॉन्च किया सस्ता और शानदार 4G स्मार्टफोन J2 Ace

  • सोमवार, 16 जनवरी 2017
  • +

फिल्मफेयर अवार्ड 2017 में इन हीरोइनों ने जमकर उड़वाई खिल्ली, ये रहीं बेस्ट

  • सोमवार, 16 जनवरी 2017
  • +
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top