आपका शहर Close

हट सकती है ग्वार के वायदा कारोबार से रोक

नई दिल्ली/एजेंसी

Updated Fri, 23 Nov 2012 08:01 PM IST
fmc consulting commerce min on lifting ban on guar future
ग्वार के वायदा कारोबार से आने वाले दिनों में प्रतिबंध हटाया जा सकता है। कमोडिटी बाजार नियामक फारवर्ड मार्केट कमीशन (एफएमसी) ग्वार के वायदा कारोबार पर लगी रोक हटाने को लेकर वाणिज्य मंत्रालय के साथ विचार-विमर्श कर रहा है।
इस मामले में परामर्श देने के लिए सरकार द्वारा इस मामले में गठित सलाहकार समिति की पिछले माह हुई बैठक के दौरान चर्चा हुई थी, जिसमें ग्वार का वायदा कारोबार फिर से शुरू किए जाने का सुझाव दिया गया था।
 
एफएमसी के चेयरमैन रमेश अभिषेक ने बताया कि सलाहकार समिति ने ग्वार का वायदा कारोबार फिर से शुरू करने का प्रस्ताव दिया था, पर हमने इस बारे में अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया है और फिलहाल हम विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) के साथ इसपर विचार-विमर्श कर रहे हैं। गौरतलब है कि कीमतों में अचानक भारी उछाल आने के चलते मार्च में आयोग ने ग्वार शीड और ग्वार गम के वायदा कारोबार पर रोक लगा दी थी।

तेल और गैस उद्योग में इस्तेमाल किए जाने के चलते इन दोनों का ही बड़े पैमाने पर देश से निर्यात किया जाता है। ग्लोबल बाजार में ग्वार की ऊंची कीमतों के चलते पिछले साल देश में ग्वार का उत्पादन काफी अधिक हुआ था और अनुमान जताया जा रहा है कि इस साल यह बढ़कर करीब दोगुने स्तर तक पहुंच सकता है।
Comments

Browse By Tags

guar fmc

स्पॉटलाइट

पद्मावती का 'असली वंशज' आया सामने, 'खिलजी' के बारे में सनसनीखेज खुलासा

  • शुक्रवार, 17 नवंबर 2017
  • +

Film Review: विद्या की ये 'डर्टी पिक्चर' नहीं, इसलिए पसंद आएगी 'तुम्हारी सुलु'

  • शुक्रवार, 17 नवंबर 2017
  • +

पत्नी को किस कर रहा था डायरेक्टर, राजकुमार राव ने खींच ली तस्वीर, फोटो वायरल

  • शुक्रवार, 17 नवंबर 2017
  • +

सिर्फ 'पद्मावती' ही नहीं, ये 4 फिल्में भी रही हैं रिलीज से पहले विवादों में

  • शुक्रवार, 17 नवंबर 2017
  • +

बेसमेंट के नीचे दफ्न था सदियों पुराना ये राज, उजागर हुआ तो...

  • शुक्रवार, 17 नवंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!