आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

यूपी में साइकिल और रिक्शा बनाने की लगेगी फैक्ट्री

लखनऊ/ब्यूरो

Updated Fri, 28 Sep 2012 10:41 AM IST
factory for making  bicycle and rickshaw will be established in up
उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव जावेद उस्मानी ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि साइकिल तथा रिक्शा बनाने के लिए कारखाना स्थापित करने के लिए जमीन तलाशते हुए इच्छुक उद्यमियों से प्रस्ताव प्राप्त करने के लिए विज्ञापन निकाले जाएं।
उस्मानी ने कहा कि सपा के चुनावी घोषणा पत्र के 50 फीसदी वादों को पूरा करने के लिए अब तक निर्देश जारी किए जा चुके हैं। शेष बचे वादों को पूरा करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। वह बृहस्पतिवार को चुनावी घोषणा पत्र के वादों को पूरा करने की समीक्षा कर रहे थे।

मुख्य सचिव ने बताया कि छोटे और सीमांत किसानों को 4 प्रतिशत ब्याज पर कर्ज देने का निर्देश दे दिया गया है। 65 वर्ष की आयु पूरी करने वाले छोटी जोत के किसानों को पेंशन देने की व्यवस्था कर दी गई है। खेती कार्य से निकले गरीब किसान की आसामयिक मौत पर उसके परिवार को पांच लाख रुपए दिया जाएगा।

उत्तम किस्म के बीच और खाद्य देने तथा नकली खाद्य के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है। निजी क्षेत्र में इंजीनियरिंग कॉलेज खोलने के लिए नीति बनाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि घोषणा पत्र लागू करने वाले विभाग मुख्यमंत्री को इसकी जानकारी दे दें।

उस्मानी ने भूमि सेना के माध्यम से ऊसर, बंजर तथा बीहड़ जमीन को खेती योग्य बनाकर भूमिहीन गरीब किसानों को देने के निर्देश दिए। कर्ज न देने पाने वाले किसानों की जमीन की नीलामी की व्यवस्था समाप्त कर दी गई है। बताया कि पांच वर्षों में विशेष योजना बनाकर सभी असिंचित जमीनों के लिए सिंचाई की व्यवस्था की जाएगी।

सूखे से जूझ रहे बुंदेलखंड और बाढ़ से परेशान पूर्वांचल के किसानों के लिए विशेष योजना बनाकर आर्थिक पैकेज दिया जाएगा। राष्ट्रीय व राज्यस्तरीय मार्गों पर दुर्घटना में घायलों को तुरंत इलाज देने के लिए एंबुलेंस की व्यवस्था करा दी गई है। मुसलिम बाहुल्य 141 विकास खंडों में 73 नए राजकीय हाईस्कूल और 24 नए मॉडल स्कूल खोलने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

प्रदेश के 140 मान्यता प्राप्त मदरसों में वोकेशनल ट्रेनिंग के रूप में मिनी आईटीआई की योजना संचालित की जा रही है। मदरसों में कार्यरत अनुदेशकों व कर्मियों के मानदेय के लिए बजट 302.40 लाख से 604.80 लाख कर किया गया है।
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

स्पॉटलाइट

अगर जाना है सासू मां के दिल के करीब तो खुद को कर लें इन चीजों से दूर

  • शुक्रवार, 21 जुलाई 2017
  • +

गूगल लाया नया फीचर, अब फोन में डाउनलोड ही नहीं होंगे वायरस वाले ऐप

  • शुक्रवार, 21 जुलाई 2017
  • +

क्या आपकी उड़ गई है रातों की नींद, ये तरीका ढूंढ़कर लाएगा उसे वापस

  • शुक्रवार, 21 जुलाई 2017
  • +

दुनिया पर राज करने वाले मुकेश अंबानी आज तक अपने इस डर को नहीं जीत पाए

  • शुक्रवार, 21 जुलाई 2017
  • +

एक्टर बनने से पहले स्पोर्ट्समैन थे 'सीआईडी' के दया, कमाई जान रह जाएंगे हैरान

  • शुक्रवार, 21 जुलाई 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!