आपका शहर Close

चीनी अखबार ने कहा, भारतीय पब्लिक सेक्टर 'नपुंसक’

बीजिंग/एजेंसी

Updated Fri, 12 Oct 2012 11:03 AM IST
chinese daily terms indian public sector as inefficient and impotent
चीन के एक सरकारी समाचार पत्र ने कहा है कि भारत का पब्लिक सेक्टर निष्प्रभावी व नपुंसक है। हालांकि, चीनी दैनिक ने भारत के प्राइवेट सेक्टर की तारीफ करते हुए उनके कारोबारी जज्बे की सराहना की है।
 
चीन की सत्तारूढ़ कम्यूनिस्ट पार्टी द्वारा संचालित ग्लोबल टाइम्स ने अपने एक लेख में कहा है कि भारत अपने निष्प्रभावी व नपुंसक पब्लिक सेक्टर के चलते आर्थिक मुश्किलों से जूझ रहा है। पिछले दो दशक के दौरान एशिया की इन दो बड़ी शक्तियों के प्रगति की तुलना करते हुए चीनी दैनिक ने कहा कि पब्लिक सेक्टर की अक्षमता के चलते भारत में उद्यमशीलता की भावना में गिरावट आई है। हालांकि, चीनी दैनिक ने अपने लेख में भारत के प्राइवेट सेक्टर की सराहना करते हुए कहा कि चीन उनसे कुछ सीख सकता है।

हालांकि चीनी अखबार के इस लेख पर भारत की तरफ से कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं की गई है, लेकिन पब्लिक सेक्टर में इस बयान पर काफी रोष है। कूटनीतिक जानकार यह बता रहे हैं कि चीनी अखबार का यह बयान भारत के खिलाफ प्रॉक्सी वार का एक हिस्सा है। इससे पहले भी चीनी दैनिक भारत के संबंध में कई आपत्तिजनक लेख छाप चुके हैं।  
Comments

स्पॉटलाइट

60 फिल्मों में किया नारद मुनि का रोल, 24 भाई-बहनों में पला ये एक्टर खलनायक बनकर हुआ था पॉपुलर

  • मंगलवार, 24 अक्टूबर 2017
  • +

शादीशुदा हैं मल्लिका शेरावत, फिल्में छोड़ विदेश में संभाल रहीं ब्वॉयफ्रेंड की अरबों की संपत्ति

  • मंगलवार, 24 अक्टूबर 2017
  • +

क्या वाकई आपका पसंदीदा तकिया आपको बीमार कर रहा है, जानें कैसे

  • मंगलवार, 24 अक्टूबर 2017
  • +

एक ऐसा परिवार, 100 खतरनाक जानवर करते हैं इसकी रखवाली

  • मंगलवार, 24 अक्टूबर 2017
  • +

बाल झड़ने की वजह से लड़कियां पास न आएं तो करें मेथी का यूं इस्तेमाल

  • मंगलवार, 24 अक्टूबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!